ऊना, जेएनएन। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र्र सिंह ने कहा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती हार सामने देख बौखलाहट में अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। सत्ती की विवादित टिप्पणियों पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का चुप रहना और बचाव करना शायद उनकी पार्टी की मजबूरी होगी लेकिन कांग्रेस पार्टी की कोई मजबूरी नहीं है। वीरभद्र्र सिंह ने वीरवार को हरोली विधानसभा क्षेत्र के घालूवाल में ओबीसी विभाग के सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर के पक्ष में प्रचार किया। कहा रामलाल ठाकुर कांग्रेस के पुराने उम्मीदवार हैं। उनको भारी मतों से जीत दिलाएं। साथ ही भाजपा पर जमकर निशाना साधा। कार्यक्रम में कांग्रेस के सह प्रभारी गुरकीरत सिंह कोटली, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर व ऊना सदर के विधायक सतपाल रायजादा मौजूद रहे। 

भाजपा को विकास हजम नहीं हो रहा

वीरभद्र्र सिंह ने कहा कि पूरा हिमाचल एक है। भाजपा को कांग्रेस द्वारा करवाया गया विकास हजम नहीं हो रहा है। भाजपा कहती है कि आपने रेबड़ियों की तरह स्कूल बांटे। जबकि यह शिक्षा के क्षेत्र में एक विकास था। 

मुकेश को दिल्ली भेजने के हक में नहीं

वीरभद्र्र सिंह ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री को दिल्ली भेजने के लिए कुछ प्रयास किए गए थे लेकिन पहले ही दिन से ऐसे प्रयासों को रोक दिया गया था, क्योंकि प्रदेश में मुकेश अग्निहोत्री बेहतर काम कर रहे हैं। प्रदेश सरकार की नीतियों पर कड़ी नजर रख मुद्दों पर बात की जा रही है, ऐसे में

अग्निहोत्री की जरूरत है।

सत्ती खेद न जताएं, माफी मांगें : अग्निहोत्री

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती बार-बार गलत भाषा का प्रयोग कर नेताओं व जनता का अपमान कर रहे हैं। अपनी टिप्पणियों के लिए यदि सही मायने में सत्ती को पछतावा है, तो उन्हें खेद न जताकर सीधे माफी मांगनी चाहिए। खेद और माफी में फर्क है, इसलिए

कांग्रेस पार्टी की मांग है कि सत्ती सीधे माफी मांगें। इससे कम कुछ भी मंजूर नहीं है।

कौन महिला क्या कपड़े पहने, यह तय करने का अधिकार सत्ती को किसने दिया। सत्ती महिलाओं की स्वतंत्रता को दबाने का प्रयास कर रहे हैं। क्या उन्हें महिलाओं की स्वतंत्रता और बराबरी का अधिकार पसंद नहीं है? अग्निहोत्री ने वीरभद्र्र सिंह की सराहना करते हुए कहा कि वे आने वाले समय में भी कांग्रेस पार्टी का मार्गदर्शन व नेतृत्व करेंगे।

सत्ती ने छवि खराब की : राठौर

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा आरएसएस बेहतर संस्कार और संस्कृति निर्माण वाला संगठन है लेकिन प्रदेश भाजपाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने आरएसएस संगठन की छवि खराब करने का प्रयास किया है जिसका खामियाजा लोकसभा चुनाव में भुगतना पड़ेगा।

विनय शर्मा के बयान की निंदा

वीरभद्र ने पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल विनय शर्मा की ओर से सत्ती की जुबान काटने के बयान की भी निंदा की। कहा अगर विनय शर्मा ने ऐसा कहा है तो यह गलत है। यह लोकतंत्र में राजनीति की मर्यादित भाषा नहीं है।

कार्रवाई न हुई तो होगा घेराव: सुक्खू

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती के चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर वीरवार

को कांग्रेस के नेताओं ने निर्वाचन विभाग को ज्ञापन सौंपा है। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू की अगुवाई में कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार से मिला। सुखविंदर सिंह सुक्खू ने देवेश कुमार को अवगत करवाया कि सतपाल सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका वाड्रा के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी की है।

सत्ती के खिलाफ कार्रवाई करते हुए चुनाव प्रचार कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाया जाए। बाद में पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुखिवंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि 48 घंटे बीत जाने के बाद भी निर्वाचन विभाग सत्ती पर कार्रवाई नहीं कर रहा है। सत्ती ने सार्वजनिक मंच पर राहुल गांधी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था, जिसकी शिकायत भी कांग्रेस द्वारा कर दी गई थी, लेकिन लगता है कि निर्वाचन विभाग दवाब में काम कर रहा है। उन्होंने चेतावनी भी दी कि यदि जल्द कार्रवाई नहीं होती है तो कांग्रेस सत्ती के घर के बाहर प्रदर्शन करने के साथ जगह-जगह काले झंडे दिखाएगी। सुक्खू ने आरोप लगाया था कि सतपाल सिंह सत्ती ने प्रियंका गांधी के पहनावे पर भी असभ्य बयानबाजी की थी, जिसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती को चुनाव प्रचार से रोका जाना चाहिए।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Babita