चंदौली, जेएनएन। लोकसभा चुनाव में आज सातवें तथा अंतिम चरण के मतदान में चंदौली में भाजपा व समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भिड़ गए। इनके बीच मारपीट की सूचना को निर्वाचन आयोग ने संज्ञान में लिया है और जिलाधिकारी से इस प्रकरण की रिपोर्ट मांगी है।

चंदौली लोकसभा सीट पर मतदान के दौरान भाजपा और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भिड़ गए। मुगलसराय में आज परशुरामपुर मतदान केंद्र पर भाजपा-सपा कार्यकर्ता की भिड़ंत के दौरान पुलिस को भी बल प्रयोग करना पड़ा। दोनों पार्टियों के कार्याकर्ताओं में मतदान केंद्र में पार्टी का झंडा टांगने को लेकर विवाद शुरू हुआ था और बाद में नौबत मारपीट तक आ गई।

पुलिस ने दोनों दलों के कार्यकर्ताओं को हटालने के लिए हल्का बल प्रयोग किया जिसमें तीन लोग घायल हो गए है। इस दौरान मौके पर भाजपा विधायक साधना सिंह समर्थकों के साथ पहुंची। विधायक के समर्थक वहां पुलिस के लाठी लेकर विरोधियों पर भांजने लगे। इस पर नाराज लोगों ने विधायक सहित पुलिस कर्मियों और समर्थकों को पत्थरबाजी कर खदेड़ दिया। इसके बाद मौके पर तनाव का माहौल था।

घटना पिराहूपुर सिकटिया के एक पोलिंग बूथ की है। मौके पर भारी पुलिस बल बुलाई गई है। इस मामले में चुनाव आयोग ने संज्ञान ले लिया है। अपर निर्वाचन अधिकारी ने डीएम से रिपोर्ट मांगी है। मामला तूल पकड़ा हुआ नजर आ रहा है। मतदान के दौरान मारपीट की इस घटना का उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने संज्ञान लिया है। राज्य निर्वाचन आयोग ने इस मामले में जिलाधिकारी से शीघ्र ही रिपोर्ट तलब की है।

चंदौली से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पाण्डेय के सामने गठबंधन से समाजवादी पार्टी के संजय चौहान मैदान में हैं। कांग्रेस ने यहां अपने सहयोगी दल को टिकट दिया है। बाबू सिंह कुशवाहा की पत्नी शिवकन्या कुशवाहा को यहां टक्कर मिल रही है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप