राज्य ब्यूरो, पटना। महागठबंधन में एक बार फिर दरार दिखाई देने लगी है। कांग्रेस के खिलाफ वीआइपी (विकासशील इंसान पार्टी) ने मोर्चा खोलते हुए पांचवें चरण का बदला सातवें चरण में पटना साहिब सीट पर लेने के लिए कमर कस ली है। सातवें चरण के नामांकन के आखिरी दिन पटना साहिब सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ महागठबंधन में शामिल वीआइपी पार्टी ने रीता देवी को मैदान में उतार दिया है।

दरअसल, पांचवें चरण में मधुबनी सीट पर वीआइपी पार्टी के प्रत्याशी बद्री पूर्वे के खिलाफ कांग्रेस के बागी शकील अहमद ने ताल ठोक रहे हैं। कांग्रेस के तमाम मान-मनौव्वल के बाद शकील मधुबनी में मैदान से नहीं हटे।

बता दें कि लोकसभा चुनाव के लिए सातवें चरण में कुल 227 अभ्यर्थियों ने नामांकन किया है। सोमवार को पर्चा भरने की अखिरी तिथि थी। बिहार में 17वीं लोकसभा चुनाव के लिए भरे गए पर्चो में अब तक यह सर्वाधिक संख्या है। सातवें चरण में आठ संसदीय क्षेत्रों में चुनाव होना है। इसमें नालंदा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकाट और जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र एवं डेहरी विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव होना है।

Edited By: Bhupendra Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट