नई दिल्ली, जेएनएन। लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के लिए साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मंगलवार को भाजपा के टिकट पर भोपाल से नामांकन दाखिल कर दिया है। यहां उनका सीधा मुकाबला कांग्रेस के वरिष्ट नेता दिग्विजय सिंह से है। साध्वी प्रज्ञा का नामांकन किसी धार्मिक अनुष्ठान से कम नहीं था। बावजूद उनके रोड शो में हिंसा भी हुई और उन्हें परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। बहरहाल साध्वी प्रज्ञा ने जो नामांकन दाखिल किया है, उसका ब्यौरा चकित करने वाला है। उन्होंने नामांकन में बताया है कि भीख मांगकर उनके पास लाखों रुपये की संपत्ति जमा हो गई है।

मालूम हो कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर वर्ष 2008 के मालेगांव बम धमाकों की मुख्य आरोपी हैं। मामले में करीब एक बर्ष पहले उन्हें जेल से जमानत मिली थी। भाजपा ने करीब एक सप्ताह पहले ही उन्हें भोपाल से अपना उम्मीदवार घोषित किया था। इसके बाद मंगलवार को साध्वी रोड शो करते हुए नामांकन दाखिल करने पहुंची। इस दौरान उन्हें रास्ते में काले झंडे भी दिखाने का प्रयास किया गया, जिसके बाद भाजपा और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच भोपाल के एसडीएम कार्यालय में झड़प भी हुई।

ये भी पढ़ें- Firozabad Lok Sabha Election 2019 Live Updates: शाम 5 बजे तक हुआ 54.2 फीसद मतदान

अमृत मुहुर्त में मौन रख किया नामांकन
साध्वी प्रज्ञा ने मंगलवार को अमृत मुहुर्त में नामांकन दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ मौजूद गुफा मंदिर से 11 पंडितों ने स्वास्तिवाचन मंत्रोच्चार किया। मुहुर्त के हिसाब से वह ठीक 12:37 बजे कलेक्ट्रेट कार्यालय में नामांकन दाखिल करने पहुंची थी। कलेक्ट्रेट तक जाने के लिए तीन कार्यकर्ताओं ने उन्हें उठाकर कार्यालय की सीढ़ियां चढ़वाईं। इसमे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। नामांकन में प्रस्तावक के तौर पर उमाशंकर गुप्ता और पूर्व सांसद आलोक संजर उनके साथ मौजूद थे। साध्वी प्रज्ञा ने नामांकन दाखिल करने तक मौन व्रत रखा। नामांकन दाखिल करने के बाद ही उन्होंने मौन व्रत तोड़ा।

साध्वी के पास चार लाख से अधिक की संपत्ति
साध्वी प्रज्ञा ने नामांकन में घोषित किया है कि उनके पास 4,44,224 रुपये की संपत्ति है। इसमें से 2,54,400 रुपये के जेवरात हैं। उन्होंने घोषित किया है कि उनके पास 1,14,000 रुपये की सोने की चेन, लॉकेट, अंगूठी और सप्तधातु का सुमेरनी है। इसके अलावा उनके पास 1,40,400 रुपये के चांदी के कमंडल, कटोरी, प्लेट, लोटा, अंगूठे की रिंग, कड़ा और राम नाम की ईंट भी है। जेवरात के अलावा साध्वी प्रज्ञा के पास 90 हजार रुपये की नकदी है। बैरागढ़ स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में उनके दो बैंक खाते हैं। इन बैंक खातों में कुल 99,824 रुपये जमा हैं। खास बात ये है कि साध्वी ने अपनी आय का श्रोत भिक्षा और समाज द्वारा दिए गए दान को बताया गया है। इसके अलावा उन्होंने अपने नामांकन में आय का कोई श्रोत नहीं बताया है। साध्वी प्रज्ञा का किसी कंपनी में कोई शेयर नहीं हैं। उनके पास कोई गाड़ी और जमीन भी नहीं है।

मालेगांव धमाकों समेत हत्या के मामले दर्ज
नामांकन पत्र में साध्वी प्रज्ञा ने बताया है कि उनके खिलाफ नासिक के मालेगांव अंतर्गत आजाद नगर थाने में 2008 के मालेगांव धमाकों से संबंधित एफआईआर दर्ज है। इसी मामले में उनके खिलाफ मुंबई की विशेष एनआईए कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। उन पर आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त होने का भी आरोप है। इसके अलावा उनके ऊपर हत्या और हत्या का प्रयास जैसे मामले भी दर्ज हैं। हालांकि, साध्वी ने नामांकन में ये भी बताया है कि किसी भी मामले में उन पर दोष सिद्ध नहीं हुआ है।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप