रायबरेली, जेएनएन। प्रियंका गांधी के स्वागत से पहले खूब हंगामा हुआ। कांग्रेसी अभिनंदन को खड़े थे तभी हिंदू युवा वाहिनी के पदाधिकारी पहुंच गए। नारेबाजी को लेकर कहासुनी से बात बढ़ी तो मारपीट तक हो गई। इस घटना से हाईवे पर अफरातफरी मच गई। सूचना पर सीओ, एडीएम मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पाया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को लखनऊ से प्रयागराज जाना था। जानकारी होने पर तमाम कांग्रेस कार्यकर्ता स्वागत के लिए सिविल लाइंस पहुंचे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कांग्रेसी हाथों में फूल, माला और बुके लेकर खड़े थे तभी हिंदू युवा वाहिनी के जिला महामंत्री मारुत त्रिपाठी, जिला संयोजक आशीष पाठक समेत अन्य पहुंच गए। हिंदू युवा वाहिनी पदाधिकारियों ने प्रियंका और सोनिया गांधी के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

दूसरी तरफ से भी नारेबाजी होने लगी। इसी बीच बात गालीगलौज तक पहुंच गई। इसके बाद मारपीट होने लगी। भीड़ सड़क तक आ गई, जिससे जाम लगने लगा। सूचना पर एडीएम प्रशासन राम अभिलाष, एएसपी शशिशेखर सिंह, एसडीएम शशांक त्रिपाठी, सीओ सिटी गोपीनाथ सोनी, कोतवाल अतुल कुमार सिंह समेत अन्य अफसर पहुंचे। हालात देखते हुए कई थानों की पुलिस बुला ली गई थी।

प्रधानमंत्री के विरोध में लगा रहे थे नारे : आशीष पाठक
हिंदू युवा वाहिनी जिला संयोजक आशीष पाठक ने कांग्रेसियों पर मारपीट करने का आरोप लगाया और कहा कि प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी हो रही थी। इसका विरोध करने पर उन्हें पीटा गया। पिटाई में उनका चश्मा भी टूट गया।

मैं तो बाद में आया : कांग्रेस जिलाध्यक्ष
कांग्रेस जिलाध्यक्ष वीके शुक्ल का कहना है कि घटना के बारे में मुझे कुछ नहीं पता। मैं तो बाद में आया। मैं किसी आशीष पाठक को जानता भी नहीं। जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं। वह पूरी तरह से गलत हैं।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस