गोरखपुर/देवरिया, जेएनएन। Lok sabha Elections 2019 समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी की देवरिया में संयुक्‍त रैली को संबोधित करते हुए यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमों मायावती ने कहा कि भीड़ देखकर साफ लग रहा है कि आप लोग नमो-नमो की छुट्टी करने वाले हैं और जय भीम करने वाले हैं। आजादी के बाद केंद्र व अधिकांश राज्यों में कांग्रेस की सरकार रही है, लेकिन इनकी गलत नीतियों के कारण इन्हें सत्ता से बाहर रहना पड़ा। इस बार भाजपा भी बाहर होने वाली है। इनकी नाटकबाजी व जुमलेबाजी नहीं चलने वाली है। प्रधानमंत्री ने जिन लोगों को अच्छे दिन दिखाने का वादा किया था उसकी जमीनी हकीकत सबके सामने है। नरेंद्र मोदी अपने चहेतों के लिए चौकीदारी कर रहे हैं।

मायावती ने कहा कि पूरे देश मे दलितों, आदिवासियों को आरक्षण देने का काम अधूरा है। केंद्र की सरकार ने बिना आरक्षण के ही इनसे वोट मांग रही है। देश में भ्रष्‍टाचार चरम पर है। देश की सीमाएं सुरक्षित नहीं हैं। जिससे आतंकी हमले हो रहे हैं। तमाम जवान शहीद हो चुके हैं। सबसे दुख की बात है कि अब भाजपा चुनाव में इसे भी भुनाने में लगी है। इन्होंने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया। ये सिर्फ प्रलोभन देते हैं। कांग्रेस की तरह भाजपा के प्रलोभन भरे वादे खोखले साबित हो रहे हैं। ये गरीबी दूर करने वाले नहीं हैं। यदि हमारी सरकार बनती है तो हम सरकारी या गैर सरकारी नौकरी देंगे। 
मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जितने चरण के चुनाव हुए हैं उनमें वोट गठबंधन को ही अधिक मिले हैं। गोरखपुर में हम उपचुनाव में भाजपा को धूल चटाकर सीट जीत चुके हैं। आपकी यह भीड़ देखकर भाजपा घबराई हुई है। गुरु व चेले तो जा ही रहे हैं। योगी भी मठ में जाने वाले हैं। भाजपा को बताना चाहती हूं कि इनके फूट डालने से गठबंधन टूटने वाला नहीं है। केंद्र में इनकी सरकार जा रही है प्रदेश में भी योगी की सरकार हम उखाड़ फेकेंगे। यह गठबंधन मजबूत और है स्थायी है। टूटने वाला नहीं है।
अखिलेश ने कहा, झूठ और नफरत पर टिकी है भाजपा की बुनियाद
सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि पहले चरण से जो वोट पड़ना शुरू हुआ है। हमें पूरा विश्वास है कि सातवें चरण तक प्रदेश से भाजपा का सफाया हो जाएगा। भाजपा अपने किए सभी वादे भूल गयी। इनकी नींव झूठ व नफरत पर टिकी है। ये दीवार हम गिरा देंगे।

अखिलेश ने कहा कि जो लोग कभी हमारे बीच चाय वाला बनकर आये थे, पांच साल में इनका नशा उतर गया। चाय वालों ने शिक्षामित्रों को भी धोखा दिया। 108 के 102 व 100 गाड़ी की व्यवस्था खराब कर दी। भाजपा ने समाजवादी पेंशन भी छीनने का काम किया। गैस कनेक्‍शन दिया, लेकिन कभी गैस नहीं भरवाया। काला धन भी नहीं आया। चाय वाला अब चौकीदार बनकर आया है। सिर्फ चौकीदार ही नही ठोकीदार को भी हटाना है। इन्होंने जानवर तक को भी नहीं छोड़ा। महागठबंधन से घबराए हुए लोग हमें महामिलावटी कह रहे हैं। मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि यह प्रधानमंत्री नहीं प्रचारमंत्री है। यह देश के एक फीसद लोगों के लिए कार्य कर रहे हैं। यह चुनाव हमारे व आपके बदलाव का चुनाव है। इसलिए एक-एक वोट गठबंधन को दीजिए।
महराजगंज में बोले अखिलेश, भाजपा नफरत फैलाने वाली पार्टी
उधर, महराजगंज में अखिलेश यादव ने कहा कि गठबंधन आगे जा रहा है, भारतीय जनता पार्टी का सफाया हो रहा है। जनता का ऐतिहासिक समर्थक गठबंधन को मिल चुका है। बीजेपी के लोग नकली काम करते हैं। भाजपा वाले भगवान के साथ भी खिलवाड़ कर रहे हैं।

अखिलेश ने कहा  कि समाजवार्दी वाले असली योद्धा हैं। हमें नौजवानों व किसानों के भविष्य की चिंता है। बीजेपी के लोगों ने झूठ बाेल कर व नफरत फैला कर सरकार बनाई। जाति-धर्म के बीच नफरत फैला कर भाजपा ने सरकार बनाई। भाजपा ने कहा कि किसानों को डेढ़ गुना मुनाफ दे देंगे, लेकिन आय दो गुनी नहीं हो पाई। आप बदलाव लाइए, हम किसानों की पूरी मदद करेंगे।


लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस