अमेठी, जेएनएन। चुनावी रंजिश को लेकर हुई मारपीट के मामले में पुलिस व अराजकतत्वों के उत्पीड़न को लेकर कांग्रेस पार्टी की राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा त्रिसुंडी गांव पहुंची। यहां उन्‍होंने कांग्रेसी कार्यकर्ता बलराम यादव के घर में पीपरपुर पुलिस द्वारा की गई तोड़फोड़ का लिया जायजा। प्रियंका वाड्रा ने कहा कि प्रदेश में किस तरह से गुंडाराज है यह तो बानगी है। उन्‍होंने कहा, कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ उत्पीड़न नहीं होने दिया जाएगा।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा गुरुवार की शाम अमेठी संसदीय क्षेत्र के भादर विकास खंड के आलिया का पुरवा गांव पहुंची। प्रियंका गांव निवासी कांग्रेस नेता बलराम यादव के घर पहुंची और चुनाव के दिन भाजपा समर्थक व कांग्रेस नेता के बीच मतदान करने को लेकर हुए नोकझोंक की घटना की जानकारी ली। आरोप है कि मंगलवार को अजीत सिंह पुत्र मारुत सिंह निवासी त्रिशुंडी की लाठी डंडों से जमकर पिटाई की गई थी।

बताया गया है कि पिटाई के बाद 40000 रुपये और सोने की चेन छीन लिए गया था। मामले में भाजपा समर्थक अजीत सिंह की तहरीर पर स्थानीय पुलिस ने राहुल गुप्ता, विनोद यादव सहित चार लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। उधर विपक्षी द्वारा पुलिस उत्पीड़न का आरोप लगाया गया। इसकी जानकारी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को मिली थी। इसके बाद वह गुरुवार को सुलतानपुर जाते समय गांव पहुंचकर बलराम यादव सहित गांव वालों को न्याय दिलवाए जाने का आश्वासन दिया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Gupta