शशि शेखर, चाईबासा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के चाईबासा में विजय संकल्प रैली में कांग्रेस पर सीधा प्रहार करते हुए कहा कि मैंने एक बार बोफोर्स घोटाले का नाम लिया तो कांग्रेस को बिच्छू काट गया, तूफान आ गया। पेट में इतना जोर से दर्द हुआ कि दहाड़े मारकर रोना ही बाकी रह गया। ये जितना रोएंगे उतना ही उनकी सच्चाई लोगों के सामने आएगी। ये वही लोग हैं जो हमेशा अमर्यादित भाषा में पीएम को गाली देते हैं।

उन्होंने कहा कि मैं पूरी कांग्रेस को चुनौती देता हूं कि हिम्मत है तो आगे जो दो चरण बाकी है वहां इसी मुद्दे पर चुनाव लड़कर देख ले। दिल्ली व भोपाल का चुनाव भी अभी बाकी है। दिल्ली, पंजाब और भोपाल में भी उन्हीं के मान-सम्मान के मुद्दे पर चुनाव लड़कर देख लेते हैं, यदि दम है तो कांग्रेस इसी मुद्दे को लेकर चुनाव मैदान में आकर दिखाए। देखते हैं कि बाजू में कितना जोर है।

भोपाल गैस कांड में कितने लोग मारे गए। जिनके कार्यकाल में यह संहार हुआ है, उनके मान-सम्मान के मुद्दे पर चुनाव हो जाए। कैसे थे वह प्रधानमंत्री, देश को बताएं। देखना यह है कि कांग्रेस वाले और महामिलावटी वाले मेरी चुनौती को स्वीकार करते हैं कि नहीं। उन्होंने कहा कि 20वीं सदी में कैसे एक परिवार ने देश को लूटा, ये 21वीं सदी के नौजवानों को जानना चाहिए।

आजादी का क्रेडिट कांग्रेस कैसे ले रही
विजय संकल्प रैली में कहा कि महामिलावटियों ने देश को बुरी तरह जकड़ रखा था। उसको तोड़ने में मैं बहुत हद तक कामयाब हो गया हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने ढकोसला पत्र (घोषणा पत्र) में एलान किया है जो नक्सलियों की मदद करते हैं, उनको सम्मान दिया जाएगा। देशद्रोह का कानून ही हटा देंगे। कश्मीर में सेना पर पत्थरबाजी करने वाले क्या देशद्रोही नहीं हैं। तो फिर क्या यह कानून हटना चाहिए। कांग्रेस नक्सलियों और आतंकियों को खुली छूट देने का प्लान बना रही है। जब मैं चौकीदार पाकिस्तान के आतंकियों पर प्रहार करता हूं तो उनको बिच्छू काटता है। कहते हैं मोदी मसूद अजहर पर कार्रवाई का क्रेडिट क्यों ले रहा है। यदि कांग्रेस देश की आजादी का क्रेडिट ले रही है, तो भगवान बिरसा मुंडा, रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद क्या किसी दूसरे देश के लिए लड़ रहे थे।

70 साल के पाप को समाप्त किया है 
मोदी ने कहा कि आपने 2014 में मजबूत सरकार का संकल्प लिया था। आज वही उत्साह कई गुना नजर आ रहा है। जिनको गैस कनेक्शन मिला, जिनके घर में शौचालय बने, जिनको पक्के मकान मिले, जिनके घरों में बिजली पहुंची वे सब आज मुझे आशीर्वाद दे रहे हैं। पूरा देश एक साथ कह रहा है कि फिर एक बार मोदी सरकार। मैं दावा तो नहीं करता इन पांच वर्ष में कांग्रेस के 70 साल के पाप को समाप्त कर दिया है। लेकिन बहुत हद तक खत्म करने में सफल हुआ हूं। पांच साल में घोटाले का एक भी दाग इस चौकीदार पर नहीं लगा है।

आदिवासियों पर कोई आघात नहीं कर सकता
पीएम ने कहा कि मैं आदिवासी सम्मान पर आंच भी नहीं आने दूंगा। जब तक मोदी है आदिवासियों पर कोई आघात नहीं कर सकता। हम आदिवासी कल्याण के लिए कटिबद्ध है। कानून बना दिया है जंगलों से जो भी खनिज निकलेगा जंगलों में रहने वालों के बच्चों के उत्थान पर खर्च होगा। आदिवासी कल्याण के बजट में 30 प्रतिशत अधिक राशि का प्रावधान किया है। हमारा सपना है कि 2022 तक हर गरीब आदिवासी के पास पक्का घर हो, उसमें बिजली हो, गैस कनेक्शन हो, शौचालय हो, विकास के इन कार्यो के सामने सबसे बड़ा खतरा नक्सलवाद और आतंकवाद है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश अस्थिरता नहीं चाहता, एक स्थिर और मज़बूत सरकार चाहता है। देश एक मजबूर और रिमोट से चलने वाला प्रधानमंत्री नहीं चाहता, बल्कि मजबूत और दमदार प्रधानमंत्री चाहता है। जिन साथियों को अपना पक्का घर मिला है, वो हमें आशीर्वाद दे रहे हैं । जिन परिवारों को बिजली मिली है, वो हमें आशीर्वाद दे रहे हैं। इसलिए, पूरा देश आज कह रहा है, फिर एक बार...मोदी सरकार।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन बहनों को गैस का कनेक्शन मिला है, वो हमें आशीर्वाद दे रहे हैं। जिन बहनों के घर में शौचालय बना है, वो हमें आशीर्वाद दे रहे हैं। देश भ्रम वाली सरकार नहीं चाहता, भरोसे वाली सरकार चाहता है। देश दर्जनभर भ्रष्टाचारी, वंशवादियों के हाथ में अपना भविष्य सौंपना नहीं चाहता, बल्कि एक स्पष्ट नेतृत्व चाहता है। पीएम ने कहा कि यहां के कोयला खदानों की कैसे बंदरबांट चलती थी, ये आप सभी ने अनुभव किया है। भारत के इतिहास का सबसे बड़ा काेयला घोटाला कांग्रेस ने देश को दिया है। एक ऐसा मुख्‍यमंत्री कांग्रेस और उसके महामिलावटियों ने दिया जिसका एक मात्र लक्ष्‍य घोटाला करना था।

पीएम ने कहा कि मैं यह दावा नहीं करता कि मैंने कांग्रेस के 70 साल के सारे अन्‍यायों को खत्‍म कर दिया है। लेकिन उस अन्‍याय को बहुत  कम करने में जरूर सफल हुआ हूं। पांच वर्ष पहले झारखंड की चर्चा कोयला घोटाले, राजनीतिक अस्थिरता और नक्‍सली हमलों के लिए होती थी। आज झारखंड की चर्चा गांव-गांव में महिला सशक्‍तीकरण, सखी मंडलों और सशक्‍त होती हमारी बहनों के सामर्थ्‍य के लिए हो रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन महामिलावटी दलों में एक-दूसरे का हर तरह का गुनाह माफ होता है। 50-60 साल से जो दरबारी इन्‍होंने पाले-पोसे हैं, उन्‍होंने ऐसा इको सिस्‍टम तैयार किया है, जो इनके हर प्रकार के दाग धोने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों ने जिस तरह देश को जकड़ा था, उसे तोड़ने में हम सफल हुए हैं। देश में कैसा सार्थक परिवर्तन आया, झारखंड इसका उदाहरण है।

कांग्रेस के नामदार जो टुकड़े-टुकड़े गैंग के साथ खड़े रहते हैं, उन्‍होंने अब एलान किया है कि देशद्रोह का कानून हटा देंगे। कांग्रेस ने तो अपने घोषणापत्र में ये एलान किया है कि नक्‍सलियों को जो सहयोग देते हैं, उनको परेशान नहीं किया जाएगा। हम संकल्‍प लेकर चल रहे हैं कि वर्ष 2022 तक हर गरीब आदिवासी के पास अपना पक्‍का घर हो, घर में गैस कनेक्‍शन हो, बिजली हो, शौचालय हो और स्‍वास्‍थ्‍य की बेहतर सुविधा हो। जब तक मोदी है, जब तक भारतीय जनता पार्टी है , तब तक आदिवासियों के किसी भी वर्ग के साथ अन्‍याय नहीं होने देंगे।

पीएम ने कहा कि जल हो जन हो जमीन हो, कोई उस पर हा‍थ नहीं लगा पाएगा, ये मैं आपसे वादा करता हूं। हमारी सरकार में जनजातीय क्षेत्रों में एकलव्‍य मॉडल स्‍कूल खोले जा रहे हैं। जनजातीय वीर-वीरांगनाओं की शौर्य गाथाएं नई पीढ़ी को प्रेरित करे, इसके लिए देशभर में स्‍मारक स्‍थलों का निर्माण हो रहा है। नक्‍सलियों और आतंकियों के समर्थकों को खुली छूट देने का ये प्‍लान बना रहे हैं। ये लोग सामान्‍य नागरिकों का जीना मुश्किल कर देंगे। कांग्रेस की यही नीति है। जिसने देश में आतंकवाद की जड़ों को मजबूत होने दिया। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के आखिर में कहा कि आपलोग मुझे इतना प्‍यार करते हैं, कि मन करता है कि यहीं रह जाउं।

लोकसभा चुनावों के पांचवें चरण के मतदान के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड के चाईबासा पहुंचे। यहां पीएम मोदी के पहुंचते ही भाजपइयों ने मोदी-मोदी के गगनभेदी नारे लगाकर उनका स्‍वागत किया। पीएम ने भी मंच से जनसमूह का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। पीएम ने वीर बिरसा के धरती पर सभी को जोहार के साथ संबोधन शुरू किया। प्रधानमंत्री की झारखंड में यह तीसरी जनसभा है। इसके पहले वे नक्‍सलियों के मांद कहे जाने वाले गिरिडीह और लोहरदगा में विजय संकल्‍प रैली कर चुके हैं।

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नारा लगाया फिर एक बार मोदी सरकार। सीएम ने कहा कि कांग्रेस ने जेएमएम आरजेडी के साथ मिलकर निर्दलीय मधु कोड़ा को मुख्यमंत्री बना कर खूब लूटा। मुख्‍यमंत्री के भाषण के बीच ही लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाने शुरू कर दिए। जिसके बाद प्रधानमंत्री को भाषण के लिए आमंत्रित किया गया। फिलहाल चाईबासा का पारा 40 के पार है, बावजूद लोग अपने चहेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुनने का शिद्दत से इंतजार करते रहे।

यह भी पढ़ें...
video: राहुल ने पीएम मोदी को बताया बॉक्‍सर, कहा- अपने ही कोच आडवाणी को मारा 'मुक्‍का'

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Alok Shahi