वाराणसी, जेएनएन। पीएम के रोड शो में 'लघु भारत' दिखा जिसके माध्यम से गंगा-जमुनी तहजीब को भी लोगों ने महसूस किया। बनारस में विभिन्न प्रदेशों के लोग रहते हैं जिनका अलग से मुहल्ला-टोला है। उन्होंने अपनी पारंपरिक वेशभूषा में झांकी निकाली। इस दौरान मराठी समाज, बंगीय समाज, मारवाड़ी समाज, गुजराती समाज, सिंधी समाज, दक्षिण भारतीय समाज, जैन समाज, सिख समाज, निषाद समाज आदि ने जगह-जगह पीएम का भव्य स्वागत किया।

मदनपुरा में मुस्लिम समाज ने किया स्वागत
मदनपुरा में मुस्लिम समाज की महिलाओं ने पीएम मोदी का स्वागत किया। यहां भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष हैदर अब्बास चांद, बुनकर बिरादराना तंजीम बावनी के सरदार हाजी मुख्तार महतो समेत मुस्लिम समाज के अन्य धर्मगुरु भी मौजूद रहे।

25 क्विंटल फूलों की हुई वर्षा
रोड शो में मातृ शक्ति द्वारा जगह-जगह आरती उतार कर मोदी का स्वागत किया गया। इस दौरान महिलाओं ने कमल के फूल वाली साड़ियांं पहनी थीं। पूरे रास्ते में फूलों की बरसात होती रही। इसके लिए 25 क्विंटल फूल मंगाए गए थे। साथ ही स्वागत के लिए 101 द्वार बनाए गए।

इन इलाकों से गुजरा रोड शो
लंका स्थित मालवीय प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पीएम मोदी ने रोड शो प्रारंभ किया। यह रोड शो लंका, अस्सी, भदैनी, सोनारपुरा, मदनपुरा, जंगमबाड़ी, गोदौलिया होते हुए दशाश्र्वमेध घाट तक पहुंचा। जहां पर पीएम मोदी गंगा आरती में शामिल हुए।

संगीतज्ञों ने किया सुरों से अभिनंदन
रोड शो के दौरान संगीतज्ञों ने पीएम मोदी का सुरों से स्वागत किया गया। इसके लिए पूरे रोड शो के दौरान जगह-जगह मंच बने थे। मदनपुरा में शहनाई की धुन बजी तो गोदौलिया पर तबले की थाप सुनाई दी। दशाश्मेध घाट पर नमो उत्सव मनाया गया जिसमें गुजरात से आए युवा कलाकारों ने मैं भी चौकीदार के गीत सुनाए।

लंका पर युवाओं ने किया स्वागत
लंका पर युवा जोश से मोदी का स्वागत हुआ। इस मोर्चे की जिम्मेदारी विद्यार्थी परिषद ने संभाली थी। रविदास गेट के मोर्चे पर युवा मोर्चा के कार्यकर्ता थे। ये युवा 'मोदी अगेन' की टी-शर्ट पहने हुए थे। वहीं भदैनी पर रानी लक्ष्मीबाई के स्वरूप में स्वागत हुआ। गोदौलिया पर केंद्र सरकार की योजनाओं की झांकी सजाई गई।

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप