प्रयागराज : 17 वीं लोकसभा चुनाव के छठवें चरण के मतदान के लिए प्रचार का शोर 10 मई की शाम थम जाएगा। इससे ठीक एक दिन पहले नौ मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  प्रयागराज में गरजेंगे। अब तक प्रधानमंत्री की कोई सभा प्रस्तावित नहीं थी,  इसलिए इस पहल को खास रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है। पार्टीजनों का अनुमान है कि मोदी की यह सभा दोनों संसदीय क्षेत्रों में विजय सुनिश्चित करने की दिशा में अहम होगी। 

 ...यह वही स्थल होगा, जहां कुंभ में स्वच्छता कर्मियों का पखारा था पांव

संगम तट के पास यह सभा उसी परेड मैदान में होगी, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंभ के समापन पर स्वच्छता कर्मियों का पांव पखारा था। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी नरेंद्र मोदी ने इसी मैदान पर सभा संबोधित किया था। 

पार्टी पदाधिकारी कहते हैं, केंद्रीय टीम के निर्णय पर हो रही पीएम की रैली 

पार्टी के बड़े पदाधिकारियों की मानें तो चुनाव प्रचार अभियान की बागडोर संभालने वाली केंद्रीय टीम के निर्णय पर प्रधानमंत्री मोदी की रैली कराई जा रही है। तीन दिन पहले तक प्रयागराज में प्रधानमंत्री की सभा का कोई प्रस्ताव नहीं था। चार मई को प्रतापगढ़ और अगले दिन यानी पांच मई को भदोही की सभाएं होने तक निश्चित नहीं हो सका था कि प्रयागराज में प्रधानमंत्री की सभा कराई जाएगी। जिले में पार्टी के बड़े पदाधिकारी कहने लगे थे कि प्रधानमंत्री कुंभ के दौरान दो बार प्रयागराज आ चुके हैं, इसलिए चुनाव में नहीं आएंगे। वह उन जिलों में जा रहे हैं जहां पहले नहीं जा सके थे। 

कौशांबी की सभा में इलाहाबाद, फूलपुर व भदोही के प्रत्याशियों को बुलाया था 

जिले में कोई सभा नहीं होनी थी, इसलिए कौशांबी की सभा में इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी डॉ. रीता बहुगुणा जोशी और भदोही की सभा में फूलपुर की पार्टी प्रत्याशी केशरी देवी पटेल को मंच पर बुलाया गया था। इलाहाबाद और फूलपुर लोकसभा क्षेत्र से बड़ी संख्या में कार्यकर्ता भी इन सभाओं में गए थे। 

बोले भाजपा महानगर इकाई अध्यक्ष 

भाजपा महानगर इकाई अध्यक्ष अवधेश गुप्ता ने बताया कि रविवार रात उन्हें सूचना दी गई कि प्रधानमंत्री की सभा प्रयागराज में कराने के लिए केंद्रीय टीम ने हरी झंडी दी है। सभा स्थल का चयन कर बताया जाए। इसके बाद सिविल लाइंस स्थित एक होटल में पार्टी पदाधिकारियों की बैठक हुई। इसमें परेड मैदान में सभा कराने का फैसला लिया गया। महानगर अध्यक्ष के मुताबिक सभास्थल के बारे में रिपोर्ट प्रदेश और केंद्रीय कार्यालय को भेज दी गई है। 

सभा स्थल पर तैयारियों का जायजा

परेड मैदान पर होने वाली सभा को विजय संकल्प रैली नाम दिया गया है। रैली के संयोजक प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नंदगोपाल गुप्त नंदी, प्रभारी गाजियाबाद के पूर्व महापौर आशू कुमार वर्मा ने सोमवार शाम परेड ग्राउंड में तैयारियों का जायजा लिया। मीडिया प्रभारी पवन श्रीवास्तव ने बताया कि तैयारियां युद्धस्तर पर प्रारंभ हो गई है। बताया कि सभा स्थल के चारों तरफ बैरिकेडिंग की जा रही है। टेंट, प्रकाश, जल व साउंड की व्यवस्था के लिए संबंधित लोगों को प्रभारी बना दिया गया है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस