वाराणसी [प्रमोद यादव]। लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे नरेंद्र मोदी ने काशीवासियों को प्रणाम किया। मतों के रूप में लोगों द्वारा जताए गए स्नेह-समर्थन और अपार विश्वास के प्रति आभार जताने के साथ काशीपुराधिपति का अभिषेक किया। विधि-विधानपूर्वक षोडशोपचार पूजन, रुद्राभिषेक, दुग्धाभिषेक संग 303 कमल पुष्प की माला अर्पित कर देवाधिदेव के चरणों में विजयश्री समर्पित की।

वायुसेना के विमान से सुबह 9.45 बजे मोदी बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे। यहां से उनका हेलीकाप्टर 10.12 बजे पुलिस लाइन हेलीपैड पर उतरा और उनके वाहनों का काफिला 10.46 बजे बाबा के द्वार पर पहुंचा। सड़कों के किनारे व छतों-बरामदों पर खड़े काशीवासियों ने फूल बरसाया और नारे लगाकर प्यार दिखाया। भावों से विभोर मोदी ने हाथ हिला कर सभी का अभिवादन किया। छत्ताद्वार पर वाहन से उतरते ही 11 वैदिक बटुकों ने मंगलाचरण के साथ ही स्वस्तिवाचन से स्वागत किया।

हाथ जोड़े मोदी ने रानी भवानी परिसर होते 10.50 बजे काशीपुराधिपति बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश किया। उत्तराभिमुख साधना मुद्रा में बाबा के सामने बैठकर मन ही मन अपनी भावनाएं उनके चरणों में रख दीं। संकल्पों संग 10.54 बजे प्रथम पुष्प अर्पित कर जल व 11 लीटर दूध, भस्म, चंदन आदि से विधि पूर्वक पूजन-वंदन-अभिषेक किया। जनेऊ-दुपट्टा के साथ ही 101 कमल के फूलों की तीन मालाएं अर्पित कीं।

कपूर व घी की बत्तियों से आरती उतारी और 17 मिनट की पूजा-आराधना में कई बार बाबा को बड़े ही भाव से स्पर्श किया। गर्भगृह से निकले तो शिखर को करबद्ध नमन किया। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर न्यास अध्यक्ष आचार्य पं. अशोक द्विवेदी के नेतृत्व में पं. टेक नारायण उपाध्याय, पं. श्रीकांत शर्मा समेत पांच ब्राह्मïणों ने पूजन-अभिषेक कराया। इस दौरान भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहें।

पेटिका में द्रव्य समर्पित करते ही गूंजा हर-हर महादेव

बाबा के पूजन-अर्चन के उपरांत मोदी ने द्रव्य दान पेटिका में समर्पित किया। इसे भाव या बाबा दरबार में किया गया दान गुप्त रखने की मंशा भी कह सकते हैं। आमतौर पर मंदिर में आए श्रद्धालु पुरोहितों के हाथ में दान-दक्षिणा के तौर पर थमाते हैं, जबकि पेटिका या हुंडी में डाली गई राशि मंदिर की व्यवस्था संचालन या विकास-विस्तार के कार्य आती है। बहरहाल, गर्भगृह में पूजन दिखा रही एलईडी स्क्रीन पर नजर गड़ाए काशीवासियों को मोदी का यह भाव खूब पसंद आया। इसका अहसास हर-हर महादेव के उद्घोष ने कराया।

पांच ब्राह्मणों को वस्त्र-दक्षिणा

पूजन-अर्चन कर गर्भगृह से निकले पीएम मोदी ने पूजन कराने वाले पांच अर्चकों के साथ ही अन्य पांच ब्राह्मïणों को भी वस्त्र-दक्षिणा देकर विधान निभाया। स्मृति चिह्न में बाबा की प्रतिकृति श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर की ओर से अपने सांसद नरेंद्र मोदी को स्मृति चिह्न स्वरूप बाबा के ज्योतिर्लिंग की प्रतिकृति भेंट की गई। ज्योतिर्लिंग, अरघे को आकार देने में समान तत्वों का उपयोग हुआ है। सीएम योगी ने इसे पीएम और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भेंट किया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस