नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली की सातों सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे से मतों की गिनती जारी है। ताजा रुझानों में दिल्ली की सभी सातों सीटों (नई दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और चांदनी चौक) पर भाजपा आगे चल रही है। 

सातों सीटों पर नमो-नमो
दिल्ली में लोकसभा की सातों सीटों के रुझानों में भाजपा अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस और आम आदमी पार्टी से बढ़त बनाए हुए है। पांच लोकसभा सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी दूसरे जबकि दो सीटों पर आम आदमी पार्टी प्रत्याशी दूसरे नंबर पर हैं। 2 बजे तक के रुझानों पर नजर डाले तो चांदनी चौक में हर्षवर्धन को 31124 वोटों से आगे चल रहे हैं।  यहां दूसरे नंबर पर कांग्रेस के जेपी अग्रवाल हैं। तीसरे नंबर पर यहां आम आदम पार्टी के पंकज गुप्ता हैं।

पूर्वी दिल्ली सीट पर पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर की सियासी पिच पर शानदार बैटिंग जारी है। गंभीर को अब तक कुल काउंट हुए मतों में 69153 वोटों से आगे चल रहे हैं। जबकि कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली दूसरे और आतिशी तीसरे नंबर पर चल रही हैं। 

नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में 11वें राउंट की मतगणना पूरी हो चुकी है। मीनाक्षी लेखी कांग्रेस के अजय माकन से 227025 वोटों से आगे चल रही हैं। उन्हें अब तक 441514 वोट मिले हैं जबकि माकन को 214489 मत हासिल हुए हैं।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी कांग्रेस की शीला दीक्षित का काफी आगे चल रहे हैं। ताजा जानकारी के मुताबिक तीन लाख 51 हजार 161 मतों से आगे चल रहे हैं। मनोज तिवारी को अभी तक 754336 वोट मिले हैं। जबकि पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 408859 वोट मिले हैं। आम आदमी पार्टी के दिलीप पांडेय को 183447 वोट और बसपा के राजवीर सिंह को 36854 मत मिले हैं। 

उत्तरी पश्चिमी लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी हंसराज हंस 142897 वोट से आगे हैं। जबकि आप के गुगन सिंह दूसरे और कांग्रेस प्रत्याशी राजेश लिलोठिया तीसरे नंबर पर हैं। 

दक्षिणी दिल्ली में रमेश बिधूड़ी अपने निकटतम प्रतिद्वंदी आम आदमी पार्टी के राघव चडढा से 85496 वोटों से आगे चल रहे हैं। राघव दूसरे और  यहां कांग्रेस के विजेंदर सिंह तीसरे स्थान पर हैं। पश्चिमी दिल्ली सीट पर अब तक काउंट हुए 367785 वोटों में से भाजपा के प्रवेश साहिब सिंह वर्मा 140359 मतों से आगे हैं। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी महाबल मिश्रा दूसरे नंबर पर हैं। 

वहीं, दिल्ली की सभी सीटों पर भाजपा की संभावित जीत के मद्देनजर विपक्षियों द्वारा किसी भी तरह की आशंका के चलते दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की अचानक सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

1. नई दिल्ली लोकसभा सीटः मीनाक्षी लेखी कांग्रेस के अजय माकन से 227025 वोटों से आगे चल रही हैं।

2. पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट : पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी गौतम गंभीर 69153 वोटों से आगे चल रहे हैं, जबकि दूसरे स्थान पर कांग्रेस प्रत्याशी अरविंदर सिंह लवली हैं।

3. उत्तर पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीटः भाजपा के उम्मीदवार सूफी गायक हंसराज हंस 142897  से अधिक मतों से आगे चल रहे हैं। दूसरे नंबर पर AAP के गुग्गन सिंह हैं, जबकि कांग्रेस के मौजूदा प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया तीसरे नंबर पर हैं। 

4. उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीटः भाजपा के मनोज तिवारी तीन लाख 51 हजार 161 मतों से आगे चल रहे हैं। और उनकी जीत लगभग तय मानी जा रही है। 

5. दक्षिणी दिल्ली लोकसभा सीटः रुझानों में दक्षिणी दिल्ली लोकसभा सीट पर भाजपा के रमेश बिधूड़ी अपने निकटतम प्रतिद्वंदी AAP के राघव चड्ढा से काफी आगे चल रहे हैं। 

6. पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीटः पश्चिमी दिल्ली सीट पर भाजपा के प्रवेश वर्मा 140359 मतों से आगे चल रहे हैं। वहीं, दूसरे नंबर पर कांग्रेस के महाबल मिश्रा तो AAP के बीएस जाखड़ तीसरे नंबर पर हैं। 

7. चांदनी चौक लोकसभा सीटः चांदनी चौक सीट पर भाजपा प्रत्याशी व केंद्रीय मंत्री  हर्षवर्धन बड़े मतों से आगे चल रहे हैं। दूसरे नंबर पर कांग्रेस के जेपी अग्रवाल और AAP के पंकज गुप्ता तीसरे स्थान पर हैं।

चांदनी चौक

हर्षवर्धन (भाजपा) - 1,78,874
जेपी अग्रवाल (कांग्रेस) - 93,635
पंकज गुप्ता (AAP) - 49,691

नोटा - 1702

हर्षवर्धन अपने नजदीकी प्रतिद्वंद्वी से 31,124 वोटों से आगे चल रहे हैं।

2014 लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा को जीत मिली थी। आम आदमी पार्टी (AAP) सातों सीटों पर तीसरे नंबर पर थी। वर्ष 2009 में सातों सीटें जीतने वाली कांग्रेस सभी सीटों पर तीसरे नंबर पिछड़ गई थी। 

भाजपा के डॉ. हर्षवर्धन ने आप के आशुतोष को 136320 मतों से हराया।
चांदनी चौक संसदीय सीट:-
डॉ. हर्षवर्धन (भाजपा)-437938 (44.58 फीसद)
आशुतोष (आप)-301618 (30.71 फीसद)
कपिल सिब्बल (कांग्रेस)-176206 (17.94 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-977329
कुल मतदाता-1447026
 

उत्तर पूर्वी दिल्ली संसदीय सीट
भाजपा के मनोज तिवारी ने आप के आनंद कुमार को 144084 मतों से हराया।
मनोज तिवारी (भाजपा)-596125 (45.25 फीसद)
आनंद कुमार (आप)-452041 (34.31 फीसद)
जय प्रकाश अग्रवाल (कांग्रेस)-214792 (16.31 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-1317338
कुल मतदाता-1957408
 

पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र 
भाजपा के महेश गिरी ने आप के राजमोहन गांधी को 190463 मतों से हराया।
महेश गिरी (भाजपा)-572202 (47.83 फीसद)
राजमोहन गांधी (आप)-381739 (31.91 फीसद)
संदीप दीक्षित (कांग्रेस)-203240 (16.99 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-1196336
कुल मतदाता-1829177

नई दिल्ली संसदीय क्षेत्र 

भाजपा की मीनाक्षी लेखी ने आप के आशीष खेतान को 162708 मतों से हराया।
मीनाक्षी लेखी-453350 (46.73 फीसद)
आशीष खेतान (आप)-290642 (29.96 फीसद)
अजय माकन (कांग्रेस)-182893 (18.85 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-969812
कुल मतदाता-1489260
 

उत्तर पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र 
भाजपा के डॉ. उदित राज ने आप के राखी बिड़लान को 106802 मतों से हराया।
डॉ. उदित राज (भाजपा)-629860 (46.45 फीसद)
राखी बिड़लान (आप)-523058 (38.57 फीसद)
कृष्णा तीरथ (कांग्रेस)-157468 (11.61 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-1356036
कुल मतदाता-2193427
 

पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र 
भाजपा के प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने आप के जरनैल सिंह को 268586 मतों से हराया।
प्रवेश साहिब सिंह वर्मा (भाजपा)-651395 (48.30 फीसद)
जरनैल सिंह (आप)-382809 (28.38 फीसद)
महाबल मिश्रा (कांग्रेस)-193266 (14.33 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-1340039
कुल मतदाता-2038067
 

दक्षिणी दिल्ली संसदीय क्षेत्र 
भाजपा के रमेश बिधूड़ी ने 107000 मतों से आप प्रत्याशी कर्नल देवेंद्र सहरावत को हराया।
रमेश बिधूड़ी-497980 (45.17 फीसद)
कर्नल देवेंद्र सहरावत (आप)-390980 (35.46 फीसद)
रमेश कुमार (कांग्रेस)-125213 (11.36 फीसद)
मतदाताओं ने मतदान किया-1102410
कुल मतदाता-1752004

इससे पहले ईवीएम की सुरक्षा पर उठे सवालों के बाद प्रमुख राजनीतिक दलों ने भी अपनी संतुष्टि के लिए कार्यकर्ताओं को मतगणना केंद्र पर भेज दिया हालांकि, ईवीएम की सुरक्षा में पहले से ही कड़ी चौकसी रखी जा रही है। सेंट्रल आर्म्ड पुलिस के अलावा सीआरपीएफ की एक-एक कंपनी ईवीएम की सुरक्षा में 24 घंटे तैनात हैं। वहीं मतगणना केंद्र के बाहर दिल्ली पुलिस हर गतिविधि पर नजरें बनाए हुए हैं।

सुबह साढ़े 8 बजे के बाद आने शुरू हो जाएंगे चुनाव के रुझान

सीईओ कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि सभी राजनीतिक दलों के एजेंटों का मतगणना केंद्रों में सुबह छह बजे से प्रवेश शुरू है। एजेंटों की मौजूदगी में आयोग के कर्मचारी स्ट्रांग रूम से ईवीएम को गिनती के लिए मतदान केंद्र लेकर आएंगे। 

दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर कुल 164 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में कैद है। इस बार सातों सीटों पर 16 महिला उम्मीदवारों ने भी भाग्य आजमाया है। सभी बड़ी पार्टियों कांग्रेस, भाजपा और आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में एक-एक महिला उम्मीदवार खड़ा किया था। निर्दलीय उम्मीदवारों की संख्या 43 हैं। दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा उम्मीदवार चुनावी मैदान में खड़े हैं। यहां कुल उम्मीदवारों की संख्या 27 जबकि उत्तरी पश्चिमी दिल्ली क्षेत्र से सबसे कम 11 उम्मीदवार मैदान में हैं। दिल्ली के सातों लोकसभा सीटों के 13,819 बूथों पर ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया गया था। राजधानी के लोगों ने गर्मी में लाइन में लगकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। अब देखना है कि उनके क्षेत्र का सांसद कौन बनता है।

हिंसा करने पर सख्ती होगी

मतगणना के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी करने वालों या ¨हसा करने वालों से पुलिस सख्ती से निपटेगी। शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए राजधानी में हाई अलर्ट जारी किया गया है। इसके लिए दिल्ली पुलिस सहित अर्ध सैनिक बल के आठ हजार जवानों की तैनाती की गई है। स्थानीय पुलिस को भी अलर्ट कर दिया गया है।

दरअसल एक्जिट पोल के बाद कुछ दलों में खासी बेचैनी है। कई नेताओं ने एक्जिट पोल के बाद से ही ईवीएम मशीन बदले जाने सहित चुनाव के दौरान गड़बड़ी की आशंका जताई है। अप्रत्याशित परिणाम आने पर हंगामे की भी आशंका जताई जा रही है। इसे देखते हुए गृह मंत्रलय ने सभी राज्यों को मतगणना के दौरान कानून व्यवस्था की स्थित दुरुस्त रखने का निर्देश जारी किया है। दिल्ली पुलिस उपायुक्त (चुनाव सेल) शरद सिन्हा ने बताया कि राजधानी में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है। 23 मई को दिल्ली में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। मतगणना केंद्र सहित ¨हसा संभावित इलाके में दिल्ली पुलिस सहित अर्ध सैनिक बलों के 8 हजार जवान तैनात रहेंगे। इस दौरान स्थानीय पुलिस के साथ ही रिजर्व पुलिस को भी अलर्ट रहने को कहा गया है।

पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने मंगलवार को सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की थी। इसमें दिल्ली में शांति व्यवस्था बनाए रखने को स्पेशल सेल, क्राइम ब्रांच, यातायात पुलिस, पीसीआर के कर्मियों को मुस्तैद रहने को कहा था।

लोकसभा चुनाव को प्रभावित करने के लिए ईवीएम मशीन बदलने की भ्रामक जानकारी देने वाले एक वीडियो को वायरल करने वाले आठ लोगों के खिलाफ दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम सेल में शिकायत दी गई है। इसमें दिल्ली सरकार के एक मंत्री की प्रतिनिधि और एक नामी वकील व समाजसेवी के नाम भी शामिल हैं। शिकायत करने वाले दो लोगों ने पुलिस से मुकदमा दर्ज कर देश भर में गलत जानकारी फैलाने वालों पर कार्रवाई की मांग की है।

शिकायत करने वाले दिल्ली निवासी अनुराग सिन्हा और प्रतीक अरोड़ा ने साइबर सेल के डीसीपी को 22 मई को इस संबंध में शिकायत दी है। उनका कहना है कि दिल्ली सरकार के एक मंत्री के प्रतिनिधि ने ट्विटर हैंडल से एक विदेशी एंकर के वीडियो को ट्वीट किया। इसमें एंकर ने बताया है कि मोदी ने चुनाव जीतने के लिए 200 लोकसभा क्षेत्र की ईवीएम मशीन को बदलवा दिया है। बाद में आरोपित सहित अन्य लोगों ने इसे ट्विटर और सोशल मीडिया पर वायरल किया। यह वीडियो एक अविश्वसनीय और संदिग्ध वेब पोर्टल द्वारा भी फैलाई जा रही है, जबकि इस के बारे में एक नामी न्यूज एजेंसी पहले ही बता चुकी है कि यह फर्जी हो सकती है। ऐसे में इस वीडियो को फैलाकर लोगों में भ्रांति फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है।

शिकायतकर्ता अनुराग सिन्हा ने बताया कि कुछ लोग गलत जानकारी सोशल मीडिया पर डालकर लोगों में गलतफहमी पैदा कर रहे हैं। इसकी वजह से कई लोग परेशान हैं और ¨हसा फैलाने पर आमादा हैं। इसलिए उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जाए। इस संबंध में साइबर सेल के वरिष्ठ अधिकारी को फोन किया गया, लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी।

पूरी दिल्ली में है कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

लोकसभा चुनाव के लिए मतदान पूरा होने के बाद बृहस्पतिवार को होने वाली मतगणना के लिए यातायात पुलिस ने तैयारी पूरी कर ली है। दिल्ली के सभी सात मतगणना स्थलों के सामने सुबह चार बजे से वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित कर दी जाएगी। इसके लिए मतगणना स्थल के गेट की तरफ जाने वाले मार्गो पर रूट डायवर्जन किया गया है। यह व्यवस्था मतगणना का कार्य पूरा होने तक लागू रहेगी। यातायात पुलिस के संयुक्त आयुक्त के. जगदीशन ने बताया कि वोटों की गिनती के दौरान मतगणना स्थल के प्रवेश द्वार के सामने वाहनों को प्रतिबंधित किया जाएगा। इसके लिए डायवर्जन प्लान लागू किया गया है। सुबह चार बजे से मतगणना पूरा होने तक डायवर्जन की व्यवस्था लागू रहेगी। इसके लिए सभी मतगणना स्थलों के बाहर यातायात पुलिसकर्मी और मार्शल तैनात किए जाएंगे। जिन मार्ग पर वाहनों को प्रतिबंधित किया गया है, वहां बैरिकेड लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि वाहन चालकों को परेशानी न हो इसके लिए कम से कम स्थानों पर डायवर्जन किया गया है।

मतगणना केंद्रों पर रहेगी त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था

दिल्ली के सभी सात मतगणना केंद्रों पर तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। इसके तहत आंतरिक घेरा, मध्य घेरा और बाहरी घेरा बनाया गया है। आंतरिक और मध्यम घेरे की सुरक्षा में अर्ध सैनिक बल, जबकि बाहरी घेर की जिम्मेदारी दिल्ली पुलिस के जवानों को सौंपी गई है। मतगणना केंद्र के बाहर 100 मीटर की दूरी पर ही अनधिकृत लोगों को रोक दिया जाएगा।

बुराड़ी और मटियाला में हो सकते हैं 28 राउंड , यहां 60 फीसद हुए थे मतदान

एक अधिकारी ने बताया कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बुराड़ी और पश्चिमी दिल्ली का मटियाला सबसे बड़ी विधानसभा है। चुनाव के दौरान बुराड़ी में कुल 59.98 प्रतिशत मत पड़े थे। इसके अनुसार कुल 3 लाख 42 हजार 967 लोगों ने अपने मतों का प्रयोग किया था। वहीं मटियाला विधानसभा में 59.85 प्रतिशत वोट पड़े थे। इसके अनुसार यहां पर कुल तीन लाख 99 हजार 293 लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। ऐसे में इन विधानसभा में सबसे अधिक 28 राउंड तक मतों की गिनती की जा सकती है।

सबसे पहले पोस्टल बैलेट वोटों की होगी गणना

सीईओ डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि ईवीएम से पहले पोस्टल बैलेट वोटों की गिनती की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस बार दिल्ली में सर्विस वोटरों के लिए कुल 36 हजार पोस्टल बैलेट जारी किए थे। इनमें से बुधवार सुबह तक 20 हजार पोस्टल बैलेट भरकर आ गए थे। उन्होंने उम्मीद जताई कि बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे तक 15 हजार पोस्टल बैलेट और आ जाएंगे। मालूम हो कि पोस्टल बैलेट वोटों का उपयोग उन मतदाताओं के लिए किया जाता है जो किन्हीं कारणों से अपने क्षेत्र में वोट नहीं डाल पा रहे हैं। ऐसे में चुनाव आयोग इन्हें पोस्टल बैलेट के जरिये वोट डालने की सुविधा प्रदान करता है।

राजधानी के अलग-अलग इलाकों में 25 एलईडी स्क्रीन पर देख सकेंगे परिणाम

सीईओ कार्यालय ने दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में कुल 25 एलईडी स्क्रीन लगाई हैं। अकेले नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) इलाके में 17 एलईडी स्क्रीन लगाई गई हैं। इसके अलावा खान मार्केट में एक स्क्रीन लगाई जाएगी। कनॉट प्लेस में दो स्क्रीन और एनडीएमसी मुख्यालय के मेन गेट पर एक स्क्रीन लगाई जाएगी। इसके अलावा सिविक सेंटर गेट नंबर तीन ग्राउंड फ्लोर पर एक एलईडी स्क्रीन लगेगी। वहीं पूर्वी दिल्ली नगर निगम ( ईडीएमसी) बिल्डिंग में एक स्क्रीन लगेगी। एक स्क्रीन सीईओ कार्यालय के मीडिया ब्लॉक और एक मुख्य गेट पर लगाई जाएगी।

15 से 28 राउंड चलेगी वोटों की गिनती

डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि सातों लोकसभा क्षेत्रों की मतगणना में ईवीएम विधानसभा के आधार पर खुलेंगी। उन्होंने बताया कि दक्षिणी लोकसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा 27 उम्मीदवार खड़े हैं। ऐसे में यहां का नतीजा सबसे देर में आने की उम्मीद है। वही उत्तर-पश्चिम लोकसभा क्षेत्र में सबसे कम 11 उम्मीदवार खड़े हैं। ऐसे में सबसे पहले नतीजे उत्तर-पश्चिम दिल्ली से आने की संभावना है। उन्होंने बताया कि किसी-किसी विधानसभा में ढाई तीन लाख वोटरों ने मत दिए हैं। ऐसे में उन विधानसभा में 15 से 28 राउंड तक मतों की गणना चलेगी।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: JP Yadav