नई दिल्ली (जेएनएन) । लोकसभा चुनाव का बिगुल बजते ही नेताओं में जुबानी जंग भी शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'अराजकता' कहा है। वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा लोकसभा चुनाव को 'मोदी बनाम अराजकता' कहे जाने पर पलटवार करते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कि जेटली को नहीं भूलना चाहिए कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद अराजकता हैं।

सिब्बल ने ट्वीट कर कहा, '2019 के चुनाव को लेकर एक मंत्री ने कहा कि यह मोदी बनाम अराजकता होगा। वह भूल गए कि मोदी खुद एक अराजकता हैं। वह सर्वाधिक विभाजनकारी व्यक्ति हैं।' इससे पहले जेटली ने सोमवार को एक ब्लॉग में कहा कि ‘महागठबंधन’ प्रतिद्वंदी दलों का आत्मघाती गठजोड़ है और लोकसभा चुनाव में लोगों को ‘मोदी या अराजकता’ में से चयन करना है।

यह दूसरी बार है जब पीएम मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार लोकसभा चुनाव में जनादेश प्राप्त करने के लिए उतर रही है। लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू होकर 19 मई तक चलेगा और 23 मई को वोटों की गिनती होगी। इस चुनाव में 90 करोड़ मतदाता हैं। जिनमें से डेढ़ करोड़ से ज्यादा वोटर पहली बार मतदान करेंगे।

गौरतलब है कि तीन माह पहले पांच राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना में हुए चुनावों में कांग्रेस ने जबरदस्त जीत हासिल की थी। आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में भी कांग्रेस अपने इस प्रदर्शन को जारी रखना चाहेगी।

वहीं भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनावों में छह राज्यों में अन्य पार्टियों का सूपड़ा साफ कर दिया था। बीजेपी को इस बार भी ऐसे प्रदर्शन की उम्मीद है। भाजपा का प्रयास है कि इस बार वह कुछ और राज्यों में इसी तरह का प्रदर्शन करते हुए पूर्ण बहुमत प्राप्त कर सके।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस