हैदराबाद (पीटीआइ)। हैदराबाद में दो व्यक्तियों के पास से 2 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी जब्त की गई। पकड़े गए व्यक्तियों ने दावा किया कि यह पैसा आंध्र प्रदेश में राजमुंदरी लोकसभा क्षेत्र के कुछ टीडीपी नेताओं को दिया जाना था, जहां इसका इस्तेमाल 11 अप्रैल को होने वाले संसदीय चुनाव और विधानसभा चुनाव में वोटर्स को बांटने के लिए होना था। गुरुवार को पुलिस ने इसकी जानकारी दी।

उन्होंने यह भी बताया कि एक कार से 48 लाख रुपये जब्त किए गए थे, जिसके ड्राइवर ने दावा किया था कि पैसे को तेलंगाना के नलगोंडा जिले के एक कांग्रेस नेता को दिया जाना है, जहां पहले चरण में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान होगा।

साइबराबाद पुलिस आयुक्त वीसी सज्जनर के मुताबिक, पुलिस की विशेष टीमें बुधवार की शाम 6.30 बजे के आसपास हाईटेक सिटी रेलवे स्टेशन पर वाहनों की तलाशी ले रही थीं, तभी उन्होंने दो संदिग्ध लोगों को रेलवे स्टेशन की ओर जाते हुए देखा। जांच के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपितों का नाम जयभेरी प्रॉपर्टीज कार्यालय के सहायक एन श्री हरि और ए पंडरी है।

पुलिस अधिकारी के अनुसार, पूछताछ पर दोनों ने बताया कि जयभेरी प्रॉपर्टीज के धर्मा राजू और जगनमोहन राव ने उन्हें पैसे दिए और कहा कि इन पैसों को राजामुंद्री तक ट्रेन से ले जाना है।

पुलिस आयुक्त के मुताबिक, दोनों से कहा गया कि वे रेलवे स्टेशन पर टीडीपी के राजामुंद्री सांसद एम मुरली मोहन के जानने वाले वाई मुरली कृष्ण को रुपये दे दें और इसके उन्हें पैसे दिए जाएंगे। जयभेरी समूह की वेबसाइट के अनुसार, मुरली मोहन हैदराबाद स्थित फर्म के अध्यक्ष, मुख्य वास्तुकार और प्रमोटर हैं।

एक अन्य मामले में बुधवार को यहां अब्दुल्लापुरमेट के पास राष्ट्रीय राजमार्ग- 65 पर वाहन चेकिंग के समय पुलिस टीम ने एक कार को संदिग्ध परिस्थितियों में जाते हुए देखा और उसे रोकने की कोशिश की।

एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ड्राइवर ने कार को नहीं रोका और वह भागता रहा, बाद में पुलिस ने उसका पीछा कर कार तो रोक ली, लेकिन ड्राइवर ने पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की। पुलिस के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, बरामद कार की पिछली सीट और ड्राइवर की सीट के नीचे से 48 लाख रुपये नकद जब्त किए गए।

ड्राइवर ने पूछताछ में खुलासा किया कि एक शैक्षिक संस्थान के एक साथी ने उसे नलगोंडा में एक कांग्रेस नेता तक पहुंचाने के लिए ये रुपये दिए थे। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, तेलंगाना में आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद पुलिस और विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने बुधवार शाम तक कुल 29.07 करोड़ रुपये नकद, शराब, सोना और अन्य सामान जब्त किए हैं। 

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस