सुल्‍तानपुर, जेएनएन। केंद्रीय मंत्री व भाजपा प्रत्याशी मेनका गांधी ने गुरुवार को करीब 12 बजे सुलतानपुर कलेक्ट्रेट में दूसरी बार नामांकन किया। वह करीब 20 मिनट तक कलेक्ट्रेट के अंदर रहीं। इससे पहले 1984 में अमेठी लोकसभा से चुनाव लडऩे के दौरान भी इसी कलेक्ट्रेट में पर्चा भरा था, क्योंकि तब अमेठी भी सुलतानपुर जनपद का हिस्सा था। शहर के शास्त्रीनगर स्थित अपने अस्थायी आवास से वह सुबह करीब 10.40 बजे नामांकन को रवाना हुईं और खुली गाड़ी में रोड शो करती हुईं शाहगंज चौराहे तक पहुंचीं। इसके बाद कुछ दूर पैदल चलीं। फिर अपनी निजी गाड़ी से कलेक्ट्रेट तक आईं। बैरिकेङ्क्षडग के पास उतरकर लोगों का अभिवादन किया फिर करीब 500 मीटर पैदल चलकर कलेक्ट्रेट पहुंचीं।

कलेक्ट्रेट के अंदर मेनका गांधी ने जिला निर्वाचन अधिकारी दिव्य प्रकाश गिरी के सामने अपने चार प्रस्तावकों (पूर्व जिलाध्यक्ष करुणाशंकर द्विवेदी, पूर्व विधायक अर्जुन ङ्क्षसह, जिलाउपाध्यक्ष डॉ. आरए वर्मा व जियालाल त्यागी) के साथ खड़े होकर नामांकन किया। उन्होंने घोषणा को निर्वाचन अधिकारी के सामने पढ़कर सुनाया और दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किया। चार सेटों के साथ पर्चा दाखिल किया। इससे पहले रोड शो के दौरान फूलों से सजे रथ में उनके साथ निषाद पार्टी के डॉक्टर संजय निषाद, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष डॉ. राकेश त्रिवेदी व विधायकगण एवं जिले के प्रभारी मंत्री राजेंद्र प्रताप उर्फ मोती ङ्क्षसह मौजूद रहे। रास्ते में जगह-जगह उनका स्वागत हुआ। महिलाएं, नौजवान, दुकानदार, बच्चे व बुजुर्ग गलियों व छतों से झांकते रहे और उनपर पुष्प वर्षा करते रहे। 

 

नामांकन को निकलने से पहले मेनका गांधी ने शास्त्री नगर स्थित आवास पर विधि विधान से पूजन क‍िया। 

कलेक्ट्रेट के अंदर मेनका गांधी ने जिला निर्वाचन अधिकारी दिव्य प्रकाश गिरी के सामने अपने चार प्रस्तावकों (पूर्व जिलाध्यक्ष करुणाशंकर द्विवेदी, पूर्व विधायक अर्जुन ङ्क्षसह, जिलाउपाध्यक्ष डॉ. आरए वर्मा व जियालाल त्यागी) के साथ खड़े होकर नामांकन किया। उन्होंने घोषणा को निर्वाचन अधिकारी के सामने पढ़कर सुनाया और दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किया। चार सेटों के साथ पर्चा दाखिल किया। इससे पहले रोड शो के दौरान फूलों से सजे रथ में उनके साथ निषाद पार्टी के डॉक्टर संजय निषाद, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष डॉ. राकेश त्रिवेदी व विधायकगण एवं जिले के प्रभारी मंत्री राजेंद्र प्रताप उर्फ मोती ङ्क्षसह मौजूद रहे। रास्ते में जगह-जगह उनका स्वागत हुआ। महिलाएं, नौजवान, दुकानदार, बच्चे व बुजुर्ग गलियों व छतों से झांकते रहे और उनपर पुष्प वर्षा करते रहे। 

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप