संतकबीर नगर, दिलीप पाण्डेय। ऐसा प्रतीत हो रहा है जैसे लोकसभा चुनाव में पुलिस महकमे को बदमाशों से ज्यादा शरीफों से खतरा है। शायद इसी वजह से पुलिस गांव, मोहल्ले, कस्बे में गए बगैर थाने व चौकी से ही ऐसे लोगों को चिह्नित कर ले रही है। थानेदार व चौकी इंचार्ज के खासमखास जिसे आपराधिक प्रवृत्ति का बताते हैं, ये उसे सीआरपीसी की धारा में निरोधात्मक कार्रवाई कर दे रहे हैं। न किसी से कभी कोई झगड़ा या फिर कोई मुकदमा इसके बाद भी बगैर जांच-पड़ताल के यह कार्रवाई करने से असमंजस में पड़े शरीफों को जमानत करानी पड़ रही है।

मृतक और बाहरियों पर भी कार्रवाई

खलीलाबाद शहर के प्रतिष्ठित जूता व्यवसायी राजेंद्र पाल सिंह के बड़े भाई प्रीतम सिंह कुछ वर्ष पूर्व दुकान आदि बेचकर वर्तमान में बहराइच में रहते हैं, वहीं इनके बेटे रवनीत सिंह की मृत्यु लगभग दो साल पहले हो गई थीं, इन बाप-बेटे पर भी यह कार्रवाई कर दी गई।

सीडब्ल्यूसी के सदस्य और सभासद को भी नहीं बख्शा

बाल कल्याण समिति(सीडब्ल्यूसी)के सदस्य एडवोकेट सत्य प्रकाश उर्फ टीटू जो कोतवाली खलीलाबाद थानाक्षेत्र के गोला बाजार के निवासी हैं, इनके अलावा नगरपालिका परिषद खलीलाबाद के गोला बाजार उत्तरी के सभासद राजेश वर्मा पर भी निरोधात्मक कार्रवाई की गई है।

एक ही व्यक्ति का अलग-अलग पर्चे में कई बार नाम

पुलिस द्वारा की गई निरोधात्मक कार्रवाई में गोला बाजार उत्तरी के सभासद राजेश वर्मा का पर्चा नंबर-पांच में क्रमांक-दो पर तथा पर्चा नंबर-छह में क्रमांक संख्या-सातवें नंबर पर नाम है। इसी तरह गोला बाजार निवासी प्रेमचंद्र का पर्चा नंबर चार में तीसरे व पर्चा नंबर पांच में क्रमांक संख्या-एक में नाम हैं।

किसी काे अनावश्‍यक परेशान न किया जाए

जिला निर्वाचन अधिकारी रवीश गुप्त ने कहा कि निर्दोष व्यक्ति को अनावश्यक परेशान नहीं किया जाना चाहिए। इसके बारे में जानकारी प्राप्त की जाएगी। इसके बाद इस पर आगे आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस