अमेठी, जेएनएन। लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस पर लगातार हमला बोलने वाली अमेठी से भाजपा प्रत्याशी स्मृति जुबिन ईरानी ने कांग्रेस पर बूथ कैप्चरिंग का गंभीर आरोप लगाया है। आरोपी पोलिंग आफिसर दिनेश कुमार को महिला का वोट जबरन कांग्रेस को दिलाने पर हटाया गया। जिला मुख्यालय पहुँचे।

स्मृति ईरानी ने आरोप लगाया कि यहां पर पीठासीन अधिकारी कांग्रेस के इशारे पर भाजपा का वोट कांग्रेस को डलवा रहे हैं। स्मृति ईरानी यहां पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ भाजपा से प्रत्याशी हैं। अमेठी में सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। यहां गौरीगंज विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत बूथ संख्या 316 गूजर टोला पर तैनात पीठासीन अधिकारी पर एक महिला ने जबरन कांग्रेस पार्टी के पक्ष में वोट डालने का आरोप लगाया है। इसको भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने ट्विटर अकाउंट से शेयर करते हुए राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग करने का आरोप लगाया और आयोग से शिकायत की। मामले को संज्ञान में लेते हुए प्रशासन ने तत्काल पीठासीन अधिकारी को हटा दिया।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का आरोप है कि कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी अमेठी में बूथ कैप्‍चरिंग करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस बात की सूचना उन्होंने प्रशासन और चुनाव आयोग को कर दी है। अब जनता को निर्णय लेना है कि इस तरह की राजनीति को क्या कहा जा सकता है? बूथ पर वोट डालने पहुंची महिला ने एक वीडियो पोस्ट करते हुए आरोप लगाया कि वह भाजपा के कमल निशान पर वोट देना चाहती थी, जबकि पीठासीन अधिकारी ने उसका हाथ पकड़ कर उससे कांग्रेस के चुनाव चिह्न हाथ के पंजे की बटन दबा दिया। महिला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद आला अधिकारी भी हरकत में आ गए।  

भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने अपने ट्विटर अकाउंट से महिला का वीडियो शेयर करते हुए अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग करने का आरोप मढ़ दिया।

उन्होंने मामले की शिकायत निर्वाचन आयोग से भी की है। उधर जिला निर्वाचन विभाग ने तत्काल मामले को संज्ञान में लेते हुए पीठासीन अधिकारी को वहां से हटा दिया है। उनके स्थान पर नए पीठासीन अधिकारी को तैनात किया गया है। गौरीगंज के उप जिला निर्वाचन अधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि मामले की शिकायत मिलते ही पीठासीन अधिकारी को बदल दिया गया है, मामले की जांच कराई जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey