लखनऊ, जेएनएन। लोकसभा चुनाव 2019 में लखनऊ से कांग्रेस के प्रत्याशी कल्कि धाम अमरोहा के पीठाधीश्वर आचार्य प्रमोद कृष्णम् नेे अपना नामांकन पत्र दाखिल क‍ियाा। लखनऊ में छह मई को मतदान होना है और आज नामांकन की अंतिम तिथि है। आचार्य प्रमोद कृष्णम् ने आज लखनऊ में हनुमान सेतु पर बजरंग बली के मंदिर में मत्था टेका। इसके बाद नामांकन करने कलेक्ट्रेट पहुंचे।

आचार्य प्रमोद कृष्णम् को कांग्रेस ने मंगलवार शाम को प्रत्याशी घोषित किया था। आज उनके नामांकन जुलूस में कम्प्यूटर बाबा के साथ दर्जनों साधु-संत लखनऊ पहुंचे हैं। इससे पहले आचार्य प्रमोद कृष्णम् ने भाजपा को आड़े हाथों लिया। यूपी का सपा-बसपा गठबंधन भी उनके निशाने पर रहा। उन्होंने कहा लोकसभा चुनाव में दो विचार धाराओं की लड़ाई है। एक विचारधारा देश के वातावरण में नफरत पैदा करना चाहती है। दूसरी देश को एकता सूत्र में बांधना चाहती है।

प्रमोद कृष्णम् उम्मीदवार घोषित होने के बाद कल शाम यूपी कांग्रेस कमेटी कार्यालय आए। उन्होंने राजनाथ को लेकर बिना उनका नाम लिए द्रोपदी के चीरहरण प्रसंग सुनाकर कहा कि देश में जुल्म हो रहा है और वह मौन हैं। प्रमोद कृष्णम् ने कहा राम मंदिर न बनाकर संतों को ठगा गया। धारा 370 न हटाकर जनता से वादाखिलाफी की गई। कहा कि पिछले पांच साल में भाजपा की सरकार और उसके नेताओं ने देश को कभी गंगा, कभी अयोध्या और कभी गाय के नाम पर धोखा दिया है। चुनाव आयोग के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर 72 घंटे तक कुछ भी बोलने पर पाबंदी लगाए जाने पर प्रमोद कृष्णम ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री के बोलने पर पाबंदी लगा दी जाए तो उनकी भाषा कितनी मृदुल होगी। यह दुखद है फिर भी निवेदन करूंगा कि सत्ता छोटी और मर्यादा बड़ी होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने को पिछड़ा बताया, इस पर आचार्य कृष्णम् ने कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि प्रधानमंत्री पिछड़े हैं तो अगड़ा कौन होता है।  

पत्नी धर्म के बाद अब पार्टी धर्म निभाएं शत्रुघ्न : प्रमोद कृष्णम्

लखनऊ में नामांकन स्थल पर कांग्रेस के लखनऊ उम्मीदवार आचार्य प्रमोद कृष्णम् और शत्रुघ्न सिन्हा का आमना सामना हुआ। आचार्य ने शत्रुघ्न से कहा कि वह या तो प्रधानमंत्री के लिए नरेंद्र मोदी को चुने या फिर राहुल गांधी को। आचार्य ने कहा कि शत्रुघ्न पटना साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। मैं उनको वहां चुनाव लड़ाऊंगा और वह मुझे यहां पर चुनाव लड़ाएं। उन्होंने यहां पत्नी धर्म निभाया है। मैं उनसे निवेदन करता हूं कि वह अब पार्टी धर्म भी निभाएं। दरअसल आचार्य प्रमोद को कांग्रेस ने पार्टी प्रत्याशी घोषित किया है। आचार्य गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। शत्रुघ्न ने अपनी पत्नी पूनम सिन्हा के नामांकन में अपनी कार से उतरकर नामांकन स्थल तक पहुंचे। भीतर नामांकन कक्ष में आचार्य प्रमोद भी बैठे थे। उनके पास ही शत्रुघ्न भी बैठ गए। शत्रुघ्न से बातचीत के बाद आचार्य कृष्णम पहले नामांकन कर बाहर निकले। हालांकि आचार्य ने शत्रुघ्न पर निशाना साधा था। जब उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी यदि यहां से चुनाव लड़ रही हैं तो भी उनको शत्रुघ्न सिन्हा की जरूरत नहीं है। यदि शत्रुघ्न कहेंगे तो मैं पटना जाकर प्रचार करूंगा।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Dharmendra Pandey