अम्बिकापुर,जागरण। छत्तीसगढ़ के उत्तरी जिले बलरामपुर के सामरी थाना इलाके में नक्सलियों ने आइईडी ब्लास्ट की घटना को अंजाम दिया है। यह आइईडी चुनचुना-पुनदाग-पीपरढ़ाबा के बीच पचपेढ़ी नाला के पास इन्प्लांट किया गया था। इसी रास्ते से होकर पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों तक पहुंची थीं और ग्रामीण भी इसी रास्ते से वोट डालने जा रहे थे। ब्लास्ट की चपेट में कोई भी नहीं आया और कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ।

इस ब्लास्ट की सूचना ग्रामीणों ने सामरी थाने में दी। एसडीओपी मनोज तिर्की ने घटना की पुष्टी करते हुए बताया कि ग्रामीणों में दहशत फैलाने और मतदान को प्रभावित करने के मकसद से नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। घटना की वजह से कोई भी नुकसान नहीं हुआ है। सूचना के बाद क्षेत्र में अतिरिक्त फोर्स को रवाना किया गया है। क्षेत्र में  की जा रही है।

बता दें कि यह ब्लास्ट उन दो संवेदनशील नक्सल प्रभावित पोलिंग बूथों के नजदीक हुआ है, जहां दोपहर तीन बजे तक ही वोटिंग होगी। नक्सली घटना के बावजूद ग्रामीणों में कहीं से भी मतदान के लिए उत्साह ठंडा नहीं हुआ है। वे पूरे जोश के साथ घरों से निकल रहे हैं और मतदान कर रहे हैं।

विस्फोट वाली जगह पर पुलिस और सुरक्षा बलों के साथ बम निरोधक दस्ता भी पहुंचा है। चप्पे-चप्पे की तलाशी ली जा रही है। छत्तीसगढ़ के उत्तरी जिलों में हालांकि लंबे समय से नक्सली गतिविधियां शांत थीं, लेकिन पिछले कुछ समय से यहां फिर से संगठन को खड़ा किया जा रहा है। यह इलाका झारखंड की सीमा से लगा हुआ है और ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि सीमा पर नक्सलियों का जमावड़ा हो सकता है। सुरक्षा बल पूरी तरह एहतियात बरत रहे हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना कि गांवों और पोलिंग बूथ के आस-पास माहौल पूरी तरह सुरक्षित है। ग्रामीण निर्भिक होकर मतदान के लिए घरों से निकल रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें की दूसरे चरण के मतदान के दौरान भी आइईडी बलास्ट किया था, जिसमें ITBP का एक जवान घायल हो गया था।

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप