नई दिल्ली, जेएनएन। Lok Sabha Election 2019 Result के लिए सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हो चुकी है। 17वीं लोकसभा के लिए सात चरणों में हुए मतदान के रुझान भी सामने आने लगे हैं। एग्जिट पोल पर सवाल उठा रहे विपक्षी राजनीति दलों के लिए शुरूआती रुझान ही झटका साबित हो रहे हैं। शुरूआती आंकड़े पूरी तरह से एक्जिट पोल के समर्थन में हैं।

शुरूआती रुझानों में भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए तीसरे शतक के करीब है, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए बमुश्किल सैकड़ा लगा पा रही है। शुरूआती रुझानों में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता पीछे चल रहे हैं, जो उनके लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है। कांग्रेस के जो बड़े नेता पीछे चल रहे हैं, उसमें मध्य प्रदेश के भोपाल से दिग्विजय सिंह और राजस्थान के गुना से ज्योतिरादित्य सिंधिया पीछे चल रहे हैं। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा से राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ भी पीछे चल रहे हैं।

इतना ही नहीं रायबरेली से यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी सुबह पौन दस बजे तक पीछे चल रही थीं। 10 बजे बाद उन्होंने बढ़त हासिल की है। अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी स्मृति ईरानी के मुकाबले पीछे चल रहे हैं। हालांकि केरल की वायनाड सीट से राहुल गांधी बढ़त बनाए हुए हैं। फतेहपुर सीकरी से प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर भी पीछे चल रहे हैं। मतगणना के शुरूआती रुझान कांग्रेस के बड़े झटके की तरफ इशारा कर रहे हैं। हालांकि शुरूआती रुझान हैं और फाइनल परिणाम तक स्थिति में परिवर्तन हो सकता है। विपक्षी खेमा भी इसी उम्मीद में हैं।

वैसे तो एक्जिट पोल के रुझानों से ही एनडीए समर्थकों के चेहरे खिले हुए थे, लेकिन अब मतगणना में रुझान आने के बाद उनका उत्साह चरम पर पहुंच चुका है। वहीं विरोधी खेमा जो अब तक एक्जिट पोल को गलत बताते हुए समर्थकों को उत्साह बनाए रखने को कह रहा था, खुद हतोत्साहित होता नजर आ रहा है। देश के कोने-कोने में मतगणना स्थल पर मौजूद जागरण टीम के अनुसार हर चरण की मतगणना के बाद बढ़त हासिल करने वाले प्रत्याशी के समर्थकों का उत्साह भी बढ़ता जा रहा है, वहीं पीछे चल रहे उम्मीदवारों के समर्थकों में सन्नाटा पसरा हुआ है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप