नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में गुरुवार को 12 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के 95 लोकसभा सीटों पर मतदान संपन्न हो गया। चुनाव आयोग के अनुसार दूसरे चरण का मतदान औसतन 66 प्रतिशत रहा। श्रीनगर में सबसे कम 13.43 फीसद मतदान हुआ, जबकि 2014 में यह आंकड़ा 25 फीसद था। दूसरे चरण के चुनाव में असम, बिहार, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मणिपुर, ओडिशा, पुद्दुचेरी, तमिलनाडु, त्रिपुरा, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ में वोट डाले गए।

चुनाव आयोग के अनुसार असम मे छह बजे तक 73.32, बिहार की पांच सीटों में 62.52, छत्तीसगढ़ में की तीन सीटों पर 71 प्रतिशत, जम्मू कश्मीर में 43.37, कर्नाटक की 14 सीटों पर 61.80 प्रतिशत, महाराष्ट्र की 10 सीटों पर 62 प्रतिशत, मणिपुर में 74 प्रतिशत, ओडिशा की पांच संसदीय और 35 विधानसभा सीटों पर 64 प्रतिशत मतदान हुआ है। वहीं तमिलनाडु की 38 सीटों पर 72 प्रतिशत रहा।

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की 8 सीटों पर 62.3, पश्चिम बंगाल की तीन सीटों पर 75 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। आयोग के अनुसार सबसे ज्यादा मतदान पुद्दुचेरी मे 78 प्रतिशत रहा। दूसरे चरण के मतदान में पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा, पूर्व सीएम सुशील कुमार शिंदे, अशोक चव्हाण, फारूख अब्दुला की साख जहां दांव पर थी, वहीं प्रमुख चेहरों में हेमामालिनी, राज बब्बर, कनिमोझी, डा. जितेन्द्र सिंह और एम थंबीदुरई की किस्मत भी ईवीएम में कैद हो गई।

दूसरे चरण के मतदान खत्म होने के साथ दी लोकसभा की 543 सीटों मे से 186 सीटों पर चुनाव खत्म हो गया। इनमें से आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और पुद्दुचेरी में चुनाव संपन्न हो गये। हालांकि, तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर बड़े पैमाने पर नकदी जब्त होने के बाद यहां का चुनाव रद कर दिया गया, जबकि कानून-व्यवस्था की खराब स्थिति को देखते हुए त्रिपुरा पूर्व सीट का चुनाव तीसरे चरण के लिए स्थगित कर दिया गया है।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप