बोकारो, जेएनएन। चुनाव से पहले की रात 'कत्ल की रात' कही जाती है। इस रात आम ताैर पर प्रत्याशी अपने वोटों की रखवाली करते हैं और दूसरे के वोटों में सेंध लगाते हैं। इस दरम्यान शनिवार की रात गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र के आसजू प्रत्याशी चंद्रप्रकाश चाैधरी पर बेरमो विधानसभा के बालीडीह में हमला हुआ। उनके वाहन को क्षतिग्रस्त कर किया। पुलिस ने पहुंचकर चाैधरी को बचाया अन्यथा बड़ी घटना हो सकती थी।

चाैधरी शनिवार की रात बेरमो विधानसभा के जरीडीह ब्लाक क्षेत्र में कार्यकर्ताओं से मिलने निकले थे। इस दाैरान जरीडीह के बालीडीह में झामुमो समर्थकों ने उन्हें घेर लिया। उनका आरोप था कि रात में वो पैसे के बल पर मतदाताओं को अपने पक्ष में मैनेज करने निकले हैं।

झामुमो कार्यकर्ताओं के पीछा करने पर वे किसी तरह वहां से निकले और बालीडीह स्थित होटल आरयन में अपने को बंद कर लिया। झामुमो कार्यकर्ताओं ने बाहर खड़े उनके वाहन पर हमला कर तोड़ दिया।

झामुमो कार्यकर्ताओं का कहना था कि चंद्रप्रकाश के पास बड़ी मात्रा में नकदी है। जांच की जाय। जांच टीम ने रात दो बजे पहुंचकर होटल के कमरे में चंद्रप्रकाश की तलाशी ली। जांच में नकदी नहीं मली। चाैधरी का आरोप है कि गिरिडीह में हार के डर से झामुमो प्रत्याशी जगरनाथ महतो ने उनपर हमला करवाया।
 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: mritunjay