रांची, राज्य ब्यूरो। Lok Sabha Election 2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा के पुल बांधने वाले झारखंड मुक्ति मोर्चा के मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल को झामुमो ने चींटी बताया है। पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से रूबरू महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि जयप्रकाश भाई पटेल को घमंड हो गया है कि वह बहुत बड़ा नेता हैं। दरअसल वह चींटी हैं, जिसके पंख निकल आए हैं।

एक बांग्ला कहावत का जिक्र करते हुए उन्होंने दावा किया कि पंख निकलने के बाद चींटी की उम्र कितनी बच जाती है, यह सभी लोग बखूबी जानते हैं। अगर जयप्रकाश भाई पटेल को अपनी लोकप्रियता का इतना ही घमंड है तो वे इस्तीफा देकर चुनाव लड़ें। बताते चलें कि विधायक जेपी पटेल झामुमो से बगावत पर उतर आए हैं। वे लगातार एनडीए का प्रचार कर रहे हैं और झामुमो के शीर्ष नेतृत्व पर प्रहार भी कर रहे हैं। उन्हें पार्टी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

झामुमो का दावा है कि मियाद पूरा होते ही उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि पटेल को उनके पिता टेकलाल बाबू के सम्मान में झामुमो ने बहुत कुछ दिया। उनकी हैसियत क्या थी? समय से पहले पार्टी ने उन्हें विधायक और मंत्री बना दिया, लेकिन वे इसे संभाल नहीं पाए। उन्होंने दावा किया कि जयप्रकाश पटेल को समय से पहले काफी कुछ मिल गया इसलिए वे अहंकार में चूर हो चुके हैं। 

झामुमो बाप-बेटे की पार्टी : जेपी
बगावत पर उतारू मांडू से झामुमो के विधायक जयप्रकाश भाई पटेल का कहना है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा बाप-बेटे की पार्टी है। वहां किसी और के लिए जगह नहीं है। उन्हें अफसोस है कि प्राइवेट लिमिटेड पार्टी में इतना वक्त गंवाया। हेमंत सोरेन को सिर्फ अपनी चिंता है। वे कहने के बावजूद पार्टी की स्थिति पर बैठक तक करने को तैयार नहीं होते।

उन्होंने गिरिडीह सीट से एक हारे हुए प्रत्याशी को फिर से टिकट दे दिया जबकि गिरिडीह से उनके पिता टेकलाल महतो पूर्व में सांसद चुने गए थे। उन्हें अगर चुनाव लडऩे का मौका मिलता तो जीत हासिल कर दिखाते। उन्होंने यह भी कहा कि वे कदम आगे बढ़ा चुके हैं। देश और प्रदेश एनडीए के हाथ में सुरक्षित है। झारखंड मुक्ति मोर्चा का उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक कर दिया है। पार्टी का पूरी तरह सफाया हो जाएगा।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप