दुमका, जेएनएन। पांच साल में झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन की आय बढऩे के बजाय घट गई है। जबकि उनकी पत्नी रूपी देवी की आय में इजाफा हुआ है। सोमवार को नामांकन के दौरान दाखिल किए गए हलफनामा के अनुसार 2014 में शिबू सोरेन की आय 1,56, 27,808 रुपये थी। 2019 में उनकी आय घटकर  80,91, 200 रुपये हो गई। यानी चल संपत्ति पिछले पांच वर्षों में 75,36,608 रुपये घट गयी है। उनकी पत्नी रूपी देवी की आय 2014 में 71,60,154 रुपये थी जो बढ़कर 74,43,466 हो गई है। गुरुजी के पास 40 हजार व उनकी पत्नी के पास 12.50 लाख रुपये के गहने हैं।

शिबू सोरेन के पास 70,190 रुपये और उनकी पत्नी के पास 24,53,000 रुपये नकद है। बैंकों में शिबू सोरेन के पास चार बैंक खातों में 1,18,60,130 रुपये हैं। इसमें से झामुमो के खाते में 65,96,580 रुपये हैं। पत्नी रूपी देवी के दो बैंक खातों में 29,21,764 रुपये हैं। शिबू सोरेन की आमदनी का जरिया जहां सांसद के रूप में मिलनेवाला वेतन है, वहीं उनकी पत्नी को कृषि और डेयरी से आमदनी हुई है।

गाजियाबाद में पत्नी और पुत्र के नाम जमीन का प्लॉटः हलफनामे के अनुसार शिबू सोरेन के पास 155 लाख और पत्नी के पास करीब 2.67 करोड़ की अचल संपत्ति है। 9.9 लाख में पिण्डराजोरा (चास, बोकारो) में 2007 में खरीदी गयी 9 एकड़ जमीन की बाजार कीमत 22 लाख है। रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड के  नेमरा, में उनके परिवार की 42 एकड़ जमीन है जिसकी वर्तमान कीमत 60 लाख रुपये है। इसके अलावा गाजियाबाद के वसुंधरा में 1993 में ली हुई 180 स्क्वायर मीटर का प्लॉट रूपी देवी, गाजियाबाद में 260 स्क्वायर मीटर का एक प्लॉट हेमंत सोरेन के नाम से है। इस संपत्ति का वर्तमान मूल्य 44-44 लाख है। वहीं चास (बोकारो) के सदर रोड में दो डिसमिल जमीन पत्नी के नाम से है। चास के खेसपाल में 23.75 डिसमिल जमीन और बोकारो स्टील सिटी के सिटी सेंटर में 100 यार्ड जमीन भी पत्नी के नाम पर है। इसका वर्तमान मूल्य 1.7 करोड़ है।

दुमका के खिजुरिया 11580.16 स्क्वायर फीट, खेसपाल चास और रांची के नागराटोली की जमीन भी पत्नी के नाम पर है जिसका वर्तमान मूल्य 1.38 करोड़ है। इसके अलावा नई दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन के शालीमार अपार्टमेंट में 1500 स्क्वॉयर फीट का फ्लैट नं. बी 27 है और यह भी उनके पत्नी के नाम पर है। इसका वर्तमान मूल्य 66. 55 लाख रुपये है। रामगढ़ गोला के नेमरा गांव में उनकी पारिवारिक संपत्ति 15 लाख की है। 

कोई मुकदमा लंबित नहींः शिबू सोरेन के खिलाफ एक भी मुकदमा लंबित नहीं है। दो साल से अधिक के सजा का कॉलम भी 'नॉट एप्लीकेबल' दर्ज है।

Posted By: mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप