हैदराबाद, एएनआइ। जन सेना और बहुजन समाज पार्टी आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में एक साथ चुनाव लड़ेंगे। बसपा सुप्रीमो मायावती ने बताया कि जन सेना और बसपा के बीच सीटों के बंटवारे को भी लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है। इस बीच जन सेना अध्‍यक्ष पवन कल्‍याण ने कहा कि वह मायावती जी को देश का प्रधानमंत्री बनते हुए देखना चाहते हैं।

सुश्री मायावती ने शुक्रवार को जन सेना अध्‍यक्ष पवन कल्‍याण से मुलाकात की। इसके बाद उन्‍होंने कहा, 'आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में दोनों पार्टियां लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगी।' वहीं पवन कल्‍याण ने बताया कि हमारी पार्टी का बसपा से गठबंधन हो गया है। उन्‍होंने कहा, 'हम बहनजी को देश के प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं।'

टीआरएस की के कविता ने बसपा और जन सेना के गठबंधन को महज एक राजनीति स्‍टंट बताया है। उन्‍होंने कहा कि देखिए, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में जन सेना और बसपा का गठबंधन सिर्फ एक पॉलिटिकल स्‍टंट है। अगर ये स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ें या फिर वह आंध्र में चंद्रबाबू नायडू संग चुनाव लड़ें, तब असल मुद्दा है। दोनों ही पार्टियों को गठबंधन के पीछे का कारण करना होगा।

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस