मधुबनी, जेएनएन। गरीब, दलित, अल्पसंख्यक, महादलित, अतिपिछड़ा आदि समाज को बिहार सरकार बर्बाद करने पर तुली हुई है। नियम कानून को ताक पर रखकर परिवार के सदस्यों को भी लालू जी मिलने नहीं दिया जाता है। उक्त बातें रविवार को झंझारपुर से लोकसभा से राजद के प्रत्याशी गुलाब यादव के समर्थन में भीठ-भगवानपुर गांव में आयोजित एक चुनावी सभा में हम पार्टी के नेता व पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कही।

 उन्होंने कहा कि बिहार सरकार नई शराब नीति लाकर गरीबों का शोषण कर रही है। दो सौ रुपये की बोतल पन्द्रह सौ में बेची जा रही है। इसे अमीर लोग पीते हैं और लगभग डेढ़ लाख गरीबों पर कार्रवाई कर जेल भेज दिया गया है। जबकि अन्य कईयों पर झूठा मुकदमा दायर कर दिया गया है। यही हाल नई बालू नीति को लेकर हुआ। बड़े-बड़े लोगों को ठेका दे दिया गया है। इनके कार्यशैली से गरीबों के खेत में पानी जाना बन्द हो गया है। उपज बन्द हो गई है।

 इस सब को बदलने के लिए उन्होंने जनता से राजद को जिताने की अपील की। जिससे इन काले कानून की समीक्षा की जा सके। इनके साथ आलोक मेहता भी थे। सभा में प्रत्याशी गुलाब यादव के अलावे राजेन्द्र कुमार राम, कपलेश्वर यादव, गीता पासवान, दिलीप कुमार कुशवाहा, सिकंदर परवाना, शंकर कुशवाहा, घुरण यादव सहित अन्य उपस्थित थे। अध्यक्षता हम के प्रखंड अध्यक्ष अरुण पासवान ने की जबकि मंच संचालन घुरण सदाय ने किया।

 

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप