भोपाल, एजेंसी। Lok Sabha Election-2019 निर्वाचन आयोग ने कांग्रेस नेता एवं राज्‍य के मंत्री ओंकार सिंह मरकाम (Omkar Singh Markam) को शहडोल कलेक्‍ट्रेट में 20 अप्रैल को रात में अधिकारियों की बैठक लेने के मामले में नोटिस जारी किया है। निर्वाचन आयोग ने (Election Commission) कलेक्‍टर की मौजूदगी में हुई इस बैठक को आदर्श आचार संहिता का उल्‍लंघन मानते हुए मरकाम से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा है।

उल्‍लेखनीय है कि देशभर में आदर्श आचार संहिता के उल्‍लंघन को लेकर निर्वाचन आयोग के पास लगातार शियायतें आ रही हैं। लोकसभा चुनाव में निर्वाचन आयोग तक राज्यभर की करीब 12 हजार शिकायतें पहुंची हैं। इनमें 1649 शिकायतें भोपाल से जुड़ीं हुई थीं। सूत्रों के मुताबिक, भोपाल में राजनीतिक दलों ने एक दूसरे के खिलाफ 63 शिकायतें दाखिल की हैं जिसमें 200 शिकायतें राजनीतिक घटनाक्रमों को लेकर दी गई हैं।  

शिकायतों में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के हेमंत करकरे और राम मंदिर को लेकर दिए बयान की शिकायत भी शामिल है, जिसके आधार पर प्रज्ञा के खिलाफ न सिर्फ एफआइआर दर्ज हुई बल्कि चुनाव आयोग ने उनका चुनाव प्रचार तीन दिन के लिए बैन भी किया। शिकायतों में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के हेमंत करकरे और राम मंदिर को लेकर दिए बयान की शिकायत भी शामिल है, जिसके आधार पर प्रज्ञा के खिलाफ न सिर्फ एफआइआर दर्ज हुई बल्कि निर्वाचन आयोग ने उनका चुनाव प्रचार तीन दिन के लिए बैन कर दिया था। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस