रांची, राज्य ब्यूरो।  Lok Sabha Election 2019 - लोकसभा चुनाव के तहत झारखंड में पहले चरण की तीन सीटों पलामू, लोहरदगा तथा चतरा में 27 अप्रैल को शाम चार बजे से चुनावी शोर थम जाएगा। इसके बाद इन सीटों पर उम्मीदवार केवल डोर टू डोर प्रचार ही कर सकेंगे। इन तीनों सीटों पर 29 अप्रैल को मतदान होना है। मतदान खत्म होने के समय के 48 घंटे पहले चुनावी शोर थम जाता है। इसके तहत न तो रैलियां होंगी न ही कोई जनसभा। उम्मीदवार लाउडस्पीकर से प्रचार भी नहीं कर सकते।

इन तीनों सीटों पर 59 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। वर्तमान तीनों सांसदों वीडी राम, सुदर्शन भगत तथा सुनील कुमार सिंह की प्रतिष्ठा यहां दांव पर लगी है। इन तीनों सीटों पर 59 उम्मीदवारों में महज दो ही महिला उम्मीदवार हैं। चतरा तथा लोहरदगा में एक भी महिला उम्मीदवार नहीं है। वहीं, पलामू में तीन महिला उम्मीदवारों ने नामांकन तो दाखिल किए थे लेकिन निर्दलीय उम्मीदवार चंद्रमा कुमारी का नामांकन पत्र रद हो गया। इस सीट पर अब दो महिला उम्मीदवार हैं। इनमें सीपीआइ (एमएल) की सुषमा मेहता तथा बसपा की उम्मीदवार अंजना भुइयां शामिल हैं।  

नहीं दी आपराधिक मामलों की जानकारी 
भारत निर्वाचन आयोग ने इस बार के लोकसभा चुनाव से सभी उम्मीदवारों के लिए अपने ऊपर चल रहे आपराधिक मामलों की जानकारी तीन अखबारों व तीन न्यूज चैनल में देना अनिवार्य कर दिया है। मतदान से तीन दिन पूर्व इसे पूरा करना था, लेकिन पहले चरण की तीनों सीटों पर गिने-चुने उम्मीदवारों ने ही यह टास्क पूरा किया।  

कहां कितने उम्मीदवार 
 चतरा : 26, पलामू : 19 तथा लोहरदगा : 14 

इतने कर्मी कराएंगे चुनाव 
चतरा : 9,812, लोहरदगा : 7,005, पलामू : 8,910 

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप