अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात में शुक्रवार को चुनाव रैली में कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को थप्पड़ मारने का मामला सामने आया है। हार्दिक पटेल ने इस मामले में शिकायत दर्ज करवा दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस बीच, गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी गुजरात को पत्र लिखकर चुनाव आयोग से हार्दिक पटेल के लिए वाई श्रेणी की सुरक्षा बहाल करने की मांग की है।

 

जानकारी के मुताबिक, सुरेंद्रनगर के वढवाण में चुनाव प्रचार सभा को संबोधित करने पहुंचे कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को एक युवक ने तमाचा जड़ दिया। युवक ने हार्दिक को यह कहते हुए मारा कि तुम्हें अब सब पहचान गए हैं। सुरेंद्रनगर से कांग्रेस प्रत्याशी सोमाभाई पटेल के चुनाव प्रचार के लिए वढवाण कस्बेद के बलदाणा में आयोजित जनआक्रोश सभा में पहुंचे। हार्दिक पटेल ने जब भाषण शुरू किया तो एक युवक अचानक मंच पर चढ़कर आया और अचानक हार्दिक को तमाचा जड़ दया। युवक मेहसाणा के कड़ी जासलपुर का रहने वाला है, उसका नाम तरुण बताया जा रहा है। जब वह मंच पर पहुंचा तो उसके हाथ में कपड़े का रूमाल जैसा कुछ था, इसलिए किसी को यह अंदाजा नहीं हुआ कि वह इस तरह हमला करेगा।  

इस घटना के बाद हार्दिक समर्थकों में इतना गुस्सा था कि उन्होंने थप्पड़ मारने वाले इस शख्स को पकड़कर उसकी जोरदार पिटाई कर दी, जिससे उसके कपड़े फट गए और उसे चोट भी आई। हार्दिक पटेल ने बीच बचाव कर अपने समर्थकों को उस शख्स को पीटने से रोका और घायल युवक को अस्पताल भेज दिया।

वहीं, गुजरात के सुरेंद्रनगर में एक रैली में हार्दिक पटेल को थप्पड़ मारने वाले तरुण ने कहा कि जब पाटीदार आंदोलन हुआ था, उस समय मेरी पत्नी गर्भवती थी उसका अस्पताल में इलाज चल रहा था, मुझे तब तकलीफ हो रही थी, मैंने तब फैसला किया था, मैं इस आदमी को मारूंगा। मुझे किसी भी तरह उसे सबक सिखाना है। फिर अहमदाबाद में रैली के दौरान जब मैं अपने बच्चे के लिए दवा लेने गया था, तो सब कुछ बंद हो गया था। वह सड़कों को बंद कर देता है, वह जब भी चाहता है, गुजरात को बंद कर देता है, वह क्या है? गुजरात का हिटलर? 

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Babita