गोरखपुर/सिद्धार्थनगर, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र के कठेला में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस की शहजादी कहती हैं कि उन्होंने भाजपा को हराने के लिए वोटकटवा खड़ा किया है, लेकिन जनता मुंहनोचवा की तरह जवाब भी देना जानती है। शिवपाल कहते हैं कि मेरी कोई बहन नहीं तो बुआ कहां से आ गईं। सभी जानते हैं कि एक दूसरे के पापों की छिपाने की रिश्तेदारी हुई है जो 23 के बाद टूट जाएगी। हमने जाति देखकर बिजली, भवन, गैस कनेक्शन, शौचालय नहीं दिया तो यह जाति पर मतदान मांगने की बात क्यों करते।

उन्‍होंने कहा कि पहले बिजली की जाति, मजहब की होती थी। होली-दिवाली को बिजली नहीं मिलती थी और मोहर्रम और ईंद पर बिजली मिलती थी। हमने सबको एक साथ दिया। कोई भेद-भाव नहीं किया। मोदी ने सबका-साथ सबका विकास किया तो मोदी को सबका वोट भी मिलना चाहिए। किसानों को 1860 रुपये के दर पर गेहूं का समर्थन मूल्य मिल रहा है। दलाली समाप्त हुई है। उन्‍होंने आतंकवादियों को बचाने का काम किया और हमने कुचलने का। थानों के चौकीदार, आशा बहुओं, रसोइया, होमगार्ड के मानदेय के लिए स्‍थानीय सांसद जगदंबिका पाल लगे रहे। कोई भेदभाव नहीं किया गया।

सांसद जगदम्बिका पाल ने कहा कि आजादी के बाद बांसी, शोहरतगढ़ और इटवा का केंद्र है कठेला। यहां थाने की स्वीकृत हो चुकी है। पूर्वांचल में योगी-मोदी की आंधी चल रही है। यह सिद्धार्थनगर में मेडिकल कालेज मिलने की देन है। योगी आये तो बिजली भी आने लगी थी। गन्ने का भुगतान वहीं रहता था। पूरा हिंदुस्तान महसूस कर रहा है कि योगी ने व्यवस्था बदली है। आचार संहिता लगने के बाद पीएम द्वारा सम्मान योजना में जो किसानों का मिलना था, नहीं मिल पाया है। यह चुनाव बाद मिल जाएगा। बाढ़ में आज तक मुख्यमंत्री योगी को छोड़कर कोई नहीं पहुंचा था। कालानमक को पहचान मिलकर रहेगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस