वाराणसी, जेएनएन। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस को निशाने पर लिया। प्रज्ञा ठाकुर के मामले में कांग्रेस को कठघरे में खड़ा करने के साथ ही कहा कि 12 लाख करोड़ का भ्रष्टाचार करने वालों को भाजपा छोड़ेगी नहीं। भ्रष्ट लोगों की जगह जेल में ही है। यह भाजपा का देश की जनता से वादा है। 

भाजपा मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत में शाह ने कहा कि भोपाल (मध्यप्रदेश) से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को फर्जी केस में फंसाकर पूरे देश की संस्कृति को विश्वभर बदनाम किया। इसको लेकर देश में भारी गुस्सा है।

शाह ने कहा कि काटने पर भी चींटी को आटा डालने वाली हमारी संस्कृति को हिंदू आतंकवाद, भगवा आतंकवाद का नाम दिया गया। हिंदू आतंकवादी हो सकता है क्या। भगवा आतंक का नाम देकर कांग्रेस ने हमारी संस्कृति को बदनाम किया है। दोनों कोर्ट ने हिंदू टेरर की थ्योरी को नकार दिया। कांग्रेस ने हमारी संस्कृति पर इतना बड़ा लांछन लगाया उसके लिए राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए। नकली केस बनाकर निर्दोष लोगों को जेल में डाल दिया और बम ब्लास्ट करने वाले लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों को छोड़ दिया। अपने कांग्रेस ने अपनी राजनीति के लिए देश की सुरक्षा से खिलवाड़ किया। जनता की अदालत में कांग्रेस को इसका जवाब देना ही होगा। 

ये भी पढ़ें- चुनाव आयोग ने पीएम मोदी के 'रोड शो' पर मांगी रिपोर्ट, कांग्रेस ने लगाया आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

राजनीतिक उत्पीडऩ होता तो 'वह' जेल में होते

मोदी के चुनाव बाद कुछ लोगों जेल के अंदर भेजने वाले बयान को लेकर पूछे गया सवाल पर शाह ने कहा ' पीएम मोदी ने 2014 में कहा था, आज भाजपा की तरफ से कह रहा हूं जिन लोगों ने भी 12 लाख करोड़ का घपला किया है उनको छोड़ेंगे नहीं, उनका स्थान जेल में ही है। अगर राजनीतिक उत्पीडऩ करना होता तो वे जेल में होते। देश की जनता का पैसा यूं ही नहीं जाने देंगे। 

राहुल के लीगल ज्ञान पर क्या कहूं

एक केस को लेकर राहुल गांधी द्वारा की गई टिप्पणी पर अमित शाह ने कहा कि फर्जी टाइप का केस मुझपर डाला गया था। कोर्ट का फैसला आ चुका है जिसमें कहा गया है यह राजनीतिक केस था। 'राहुल जी' के लीगन ज्ञान पर क्या जवाब दूं। उनके पास मुद्दे नहीं हैं इसलिए वह कुछ न कुछ 'झूठ' उछालते रहते हैं। 

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2019: GIRIDIH: अंतिम क्षण में हुई नोमिनेशन दाैड़, 26 मैदान में, आज जांच

'राहुल बाबा एंड कंपनी' को हार दिख रही, इसलिए चिल्ला रहे

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, अखिलेश यादव की ओर से ईवीएम पर सवाल उठाने के सवाल के बाबत अमित शाह ने कहा कि 'राहुल बाबा एंड कंपनी पहले हारने के बाद ईवीएम पर सवाल उठाती थी। इस बार उन्हें पहले ही हार दिख रही, इसलिए पहले चिल्लाने लगे।'

अमित शाह ने कहा कि तीन राज्यों में जब कांग्रेस की सरकार बनी तो ईवीएम ठीक थी। ये कौन सी बात हुई कि जीते तो ईवीएम ठीक और हार गए तो खराब। 

असमंजस में कांग्रेस है, हम नहीं

प्रियंका वाड्रा के बनारस से चुनाव लडऩे को लेकर होने वाली चर्चाओं, प्रियंका के बनारस से लडऩे के सवाल पर जवाब के बाबत अमित शाह ने कहा कि असमंजस में कांग्रेस है, हम नहीं। नरेंद्र मोदी यहां से चुनाव लड़ रहे हैं। लोकतंत्र में कोई भी कहीं से लड़ सकता है।

देर रात तक शाह ने किया मंथन

रोड शो व मोदी के नामांकन की तैयारियों को लेकर अमित शाह ने केंद्रीय चुनाव कार्यालय में देर रात तक मंथन किया। बैठक में मौजूद पदाधिकारियों को स्पष्ट कहा गया कि बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता भी जी जान से जुट जाएं। रोड शो में काशी में जन-जन तक निमंत्रण पहुंचना चाहिए। समाज के हर वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। बैठक के दौरान महागठबंधन की तरफ से शालिनी यादव को टिकट मिलने के बाद के चुनावी समीकरण को लेकर चर्चा के साथ ही कांग्रेस की ओर से अभी तक कोई प्रत्याशी नहीं उतारे जाने को लेकर भी चर्चा हुई। 

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप