जम्मू, जेएनएन। अनंतनाग सीट पर पहले चरण में आज हुए मतदान में मतदाताआें ने आतंकवादियों, अलगाववादियों के चुनाव बहिष्कार को ठेंगा दिखाते हुए मतदान प्रक्रिया में बढ़-चढ़कर भाग लिया। नौ घंटे तक चली मतदान की प्रक्रिया के दौरान 13.1 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। जिला अनंतनाग के डुरू, कोकरनाग, शंगस और पहलगाम में मतदान प्रतिशत सबसे अधिक रहा। जबकि अनंतनाग और बीजबेहाड़ा में मतदान प्रतिशत कम हुआ। पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के पैतृक कस्बे बीजबेहाड़ा में मात्र 2 प्रतिशत मतदाताओं ने ही मतदान किया। यहां मतदान प्रतिशत कम होने से माना जा रहा है कि इसका सीधा नुकसान महबूबा मुफ्ती को होगा। मतदान के दौरान बीजबेहाड़ा में पीडीपी कार्यकर्ताओं की नेकां कार्यकर्ता से मारपीट भी हुर्इ। पीडीपी कार्यकर्त्ताओं ने कहा कि नेकां कार्यकर्त्ता महिला वोटरों को तंग कर रहा था जबकि नेकां वर्कर ने कहा कि वह वहां फर्जी वोटरों को रोक रहा था। वहीं अनंतनाग में भी मतदान कम हुआ। यहां 3.5 प्रतिशत लोगों ने ही वोट डाले।

जिन इलाकों में आतंकवादी मतदान प्रक्रिया में बाधा डाल सकते हैं, ऐसे संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षाबलों ने किलाबंधी कर रखी थी। मतदान प्रक्रिया संपन्न होते ही चुनाव अधिकारियों ने इवीएम मशीनें बंद कर स्ट्रांग रूम में जमा करा दी हैं। चुनाव आयोग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार कश्मीर के अनंतनाग सीट पर पहले चरण में कुल मतदान 13.1 प्रतिशत हुआ। यहां 527497 मतदाताओं में से 68893 मतदाताओं ने वोट डाले।
अनंतनाग में 3030 मतदाताओं सहित 3.5 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। वहीं डुरू में 14470 मतदाताओं सहित 18.4 प्रतिशत, कोकरनाग में 18411 मतदाताओं सहित 19.6 प्रतिशत, शंगस में 13332 मतदाताओं सहित 15.1 प्रतिशत, बीजबेहाड़ा में 1893 मतदाताओं सहित 2 प्रतिशत जबकि पहलगाम में 17757 मतदाताओं सहित 29.5 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। इसी सीट पर अब दूसरे चरण के मतदान 29 अप्रैल को कुलगाम में करवाए जाएंगे।

Anantnag polling Updates : 

05.01 PM : पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्षा और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफती मंगलवार को अपने पैतृक कस्बे बीजबेहाड़ा में हुए अपेक्षाकृत कम मतदान से कुछ मायूस तो नजर आयी। लेकिन उन्होंने अपनी जीत की उम्मीद नहीं छोड़ी। उन्होंने कहा इंशाल्लाह मुझे एक अच्छे और सुखद परिणाम की पूरी उम्मीद है। आज बीजबेहाड़ में बने मतदान केंद्र 37डी में अपने मताधिकार का प्रयोग करने के बाद पत्रकारों के साथ एक संक्षिप्त बातचीत में उन्होंने कहा कि हां यह सही है कि यहां मतदान कम हुआ है। वोट डालने के लिए कम ही लोग आए हैं। फिर भी मुझे पूरा यकीन है कि लोग मेरा साथ देंगे। इंशाल्लाह, आय एम एक्सपेक्टिंग ए गुड रिजल्ट।

04.53 PM : कश्मीर के अनंतनाग सीट पर पहले चरण में कुल मतदान 13.1 प्रतिशत हुआ। यहां 527497 मतदाताओं में से 68893 मतदाताओं ने वोट डाले। अनंतनाग में 3030 मतदाताओं सहित 3.5 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। वहीं डुरू में 14470 मतदाताओं सहित 18.4 प्रतिशत, कोकरनाग में 18411 मतदाताओं सहित 19.6 प्रतिशत, शंगस में 13332 मतदाताओं सहित 15.1 प्रतिशत, बीजबेहाड़ा में 1893 मतदाताओं सहित 2 प्रतिशत जबकि पहलगाम में 17757 मतदाताओं सहित 29.5 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। इसी सीट पर अब दूसरे चरण के मतदान 29 अप्रैल को कुलगाम में करवाए जाएंगे।

03.44 PM : मीर ने ओमहू गांव में किया मतदान

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीए मीर ने आज सुबह वेरीनाग के पास ओमहू गांव में स्थित सरकारी हाई स्कूल में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वह अनंतनाग-पुलवामा संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार भी हैं। वोट डालने के बाद उन्होंने विजय चिन्ह बनाते हुए अपनी जीत का यकीन जताया। ओमहू गांव डुरु विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यहां दोपहर तीन बजे तक 16.9 प्रतिशत मतदान हो चुका है।

03.39 PM : कश्मीर के अनंतनाग सीट पर पहले चरण में हो रहे मतदान में दोपहर 3 बजे तक 11.7 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर चुके हैं। अनंतनाग में 2520 मतदाताओं सहित 2.9 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। वहीं डुरू में 13275 मतदाताओं सहित 16.9 प्रतिशत, कोकरनाग में 16249 मतदाताओं सहित 17.3 प्रतिशत, शंगस में 11780 मतदाताओं सहित 13.3 प्रतिशत, बीजबेहाड़ा में 1589 मतदाताओं सहित 1.7 प्रतिशत जबकि पहलगाम में 16099 मतदाताओं सहित 18.6 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके हैं।

02.52 PM : पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजबेहाड़ा मतदान केंद्र 37-डी में जाकर अपना वोट डाला। वोट डालने के बाद उंगली पर लगी स्याही दिखाती महबूबा मुफ्ती।

मतदान करने को उत्सुक कश्मीरी पंडितों को अपना वोट डालने के लिए घंटों इंतजार भी करना पड़ा।

02.22 PM : घाटी से विस्थापित हुए कश्मीरी पंडितों में भी मतदान को लेकर काफी उत्साह देखने को मिला। चुनाव आयोग द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में बनाए गए विशेष मतदान केंद्रों में काफी संख्या में कश्मीरी पंडित मतदान करने के लिए पहुंच रहे हैं। इसी तरह मुट्ठी में बनाए गए मतदान केंद्र में जिला अनंतनाग में रहने वाले पंडित समुदाय के लोग कतारों में खड़े होकर अपना वोट डालने के लिए इंतजार करते हुए। इनमें महिलाओं की संख्या में काफी अधिक है।

01.55 PM : कश्मीर के अनंतनाग जिले में पहले चरण में हो रहे मतदान में लोगों की भागीदारी बढ़ती जा रही है। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच दोपहर एक बजे तक 9.7 प्रतिशत लोग अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके हैं। अनंतनाग में एक बजे तक 2.3 प्रतिशत मतदान हो चुका है। इसके अलावा डुरू में 13.7 प्रतिशत, कोकरनाग में 15.2 प्रतिशत, शंगस में 10.8 प्रतिशत, बीजबेहाड़ा में 1.3 प्रतिशत जबकि पहलगाम में 15.4 प्रतिशत मतदान हो चुका है।

01.44 PM : भारतीय जनता पार्टी की तरफ से अनंतनाग पुलवामा संसदीय सीट से चुनाव लड़ रहे एमएलसी सोफी मोहम्मद युसुफ ने सिरीगुफवारा स्थित पोलिंग स्टेशन बी में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उनके साथ उनकी पत्नी ने भी मतदान किया। सोफी युसुफ के साथउनका बेटा भी मतदान केंद्र में आया था।

12.05 PM : अनंतनाग-पुलवामा सीट पर दोपहर 12 बजे तक 43065 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके हैं। यहां मतदान प्रतिशत 8.2 पहुंच गया है। इसमें अनंतनाग में 1.8 प्रतिशत, डुरू में 11.8 प्रतिशत, कोकरनाग में 12.4 प्रतिशत, शंगस में 9.5 प्रतिशत, बीजबेहाड़ा में 1.2 प्रतिशत जबकि पहलगाम में 12.5 प्रतिशत मतदान हुआ है।

11:55 AM :  सुबह 11 बजे तक अनंतनाग में मतदान 6.5 प्रतिशत हुआ था। अनंतनाग, डुरु, कोकरनाग, शांगस, बीजबेहाड़ा और पहलगाम में क्रमश: 1.5%, 9.6%, 9.5%, 7.70%, 0.9% और 10.1% मतदान हुआ।

11:52 AM :  सुबह 10.39 बजे बजे तक बीजबेहाड़ा के आठ मतदान केंद्राें में 60700 में से मात्र 78 वोट पड़े थे। दो मतदान केंद्रों हुगाम और वोपजन में एक भी वोट नहीं पड़ा था।

11:50 AM :  एमसीसी के उल्लंघन पर 62 कर्मी निलंबित : संसदीय चुनावों का एलान होने के बाद से राज्य में लागू आदर्श आचार संहिता एमसीसी के उल्लंघन पर 62 सरकारी कर्मियों को निलंबित किया गया है। यह विभिन्न राजनीतिक दलों की रैलियों और चुनाव प्रचार में हिस्सा ले रहे थे। गौरतलब है कि राज्य में गत 10 मार्च से एमसीसी लागू है।

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेंद्र कुमार ने बताया कि एमसीसी के तहत कोई भी सरकारी अधिकारी या कर्मी चुनाव प्रचार समेत ऐसी किसी भी गतिविधि में हिस्सा नहीं ले सकता, जिससे किसी दल विशेष को लाभ पहुंचता हो। उन्होंने बतााया कि बीते 40 दिनों में एमसीसी के उल्लंघन की 382 शिकायतें प्राप्त हुई है। इसके अलावा सरकारी कर्मियों व कुछ अन्य लोगों के खिलाफ चुनाव प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने पर 15 एफआईआर भी दर्ज की गई हैं। उन्होंने बताया कि प्राप्त शिकायतों में से 294 को निपटाया गया है जबकि 93 छंटनी व जांच की प्रक्रिया में हैं

11:25 AM : अनंतनाग में मतदान के दौरान हिंसा : जिला अनंतनाग के दमहाल और ब्रिंटी में चुनाव बहिष्कार समर्थकों ने मतदान के लिए जा रहे लोगोंको रोकने का प्रयास करते हुए स्थानीय मतदान केंद्रों पर पथराव किया। सुरक्षाबलों ने हिंसक तत्वों को खदेड़ने के लिए लाठियों और आंसूगैस का सहारा लिया। इसके बाद वहां शुरु हुई हिंसक झढ़पें इस खबर के लिखे जाने तक जारी थी। यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि पुलवामा-संसदीय क्षेत्र में आज मतदान हो रहा है। स्थानीय सुरक्षा परिदृश्य के चलते पूरे क्षेत्र को अलग अलग क्षेत्रों में बांट तीन तीन चरणों में मतदान कराया जा रहा है। आज सिर्फ जिला अनंतनाग में मतदान हो रहा है।

11.05 AM : उमर अब्दुल्ला ने आज अनंतनाग- पुलवामा संसदीय क्षेत्र में जारी मतदान में स्थानीय मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करते टवीट किया कि घरों में बैठ और चुनाव बहिष्कार कर, कश्मीर में बीते चार साल से जारी मौत, तबाही अौर धोखेबाजी को इनाम मत दें। आओ घरों से बाहर निकलो और अपने गुस्से को आवाज देते हुए मतदान करो। सही चुनाे। उन्होंने अपने इस टवीट के जरिए पीडीपी पर निशाना साधा है।

09.15 AM : सुबह नौ बजे तक अनंतनाग में मतदान मात्र दो प्रतिशत हुआ था। अनंतनाग, डुरु, कोकरनाग, शांगस, बीजबेहाड़ा और पहलगाम में क्रमश: 0.8%, 2.9%, 2.7%,2.0%, 0.4% और 3.4% मतदान सुबह सात बजे से नौ बजे तक हुआ है। 

09.17 AM : मताधिकार का प्रयोग करने में कश्मीर की महिलाएं भी कम नहीं हैं। खन्ना बल पोलिंग बूथ पर मतदान करने के लिए कतारों में खड़ी महिलाएं।

09.08 AM : अनंतनाग मतदान केंद्रों में सुबह के मुकाबले अब लोगों का रश मतदान केंद्रों में बढ़ने लगा है। अनंतनाग के एक पोलिंग बूथ पर मतदान करने के लिए कतारों में खड़े लोग अपनी बारी का इंतजार करते हुए। आतंकवादियों व अलगाववादियों की धमकियों की परवाह किए बिना ये लोग मतदान केंद्रों में मतदान के लिए पहुंच रहे हैं।

08.41 AM : जिला ऊधमपुर में विस्थापित कश्मीरी पंडित विस्थापितों के लिए विशेष मतदान केंद्र बनाा गया है। सुबह मतदान की प्रक्रिया शुरू होते ही अनंतनाग में रहने वाले कश्मीरी पंडित समुदाय के लोग यहां भारी मात्रा में पहुंच अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं।

08.30 AM : सुबह आठ बजे तक जिला अनंतनाग के छह विधानसभा क्षेत्रों में हुआ मतदान

अनंतनाग में 120 लोगों ने पहले एक घंटे के दौरान मतदान किया जबकि डुरु में 439 और कोकरनाग में 364 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे। शांगस में 184 मतदाता ही पहले एक घंटे के दौरान मतदान केंद्र में पहुंचे। बीजबेहाड़ा में 95 और पहलगाम में 449 मतदाताओं ने मतदान किया। अनंतनाग, डुरु, कोकरनाग, शांगस, बीजबेहाड़ा और पहलगाम में क्रमश: 0.1%, 0.6%, 0.4%, 0.2%, 0.1%, 0.5% मतदान सुबह सात बजे से आठ बजे तक हुआ है। पूरे जिले में पहले एक घंटे के दौरान मात्र 0.3 प्रतिशत मतदान हुआ है।

08.05 AM : कोकरनाग विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 93874 मतदाता हैं, जबकि डुरू में सबसे कम 79029 मतदाता हैं, जिनमें 40764 पुरुष, 37889 महिला और 374 मतदाता हैं। बिजबेहारा विधानसभा क्षेत्र में 93516 मतदाता, शांगस में 89405 मतदाता, पहलगाम में 86735 और अनंतनाग में 86699 मतदाता हैं। विधानसभा क्षेत्र बिजबेहाड़ा में सबसे अधिक 46225 महिला मतदाता हैं। अनंतनाग जिले के विधानसभा क्षेत्रों में, शांगस में कुल 1031 सेवा निर्वाचक हैं जो जिले में सबसे अधिक है।

07.45 AM : बीजबेहाड़ा और अनंतनाग में मतदान धीमा है जबकि कोकरनाग, डुरु और पहलगाम में मतदाताओं की भीड़ धीरे-धीरे मतदान केंद्रों में बढ़ रही है।

07.41 AM : चुनाव आयोग ने अनंतनाग सीट पर आज से शुरू हुए पहले चरण के मतदान के समय में भी बदलाव किया है। यहां के मतदाता शाम 4 बजे तक ही मतदान कर पाएंगे। यह जिला 6 विधानसभा क्षेत्रों में फैला हुआ है, जिसमें अनंतनाग, डुरु, कोकरनाग, शांगस, बिजबिहाड़ा और पहलगाम शामिल हैं। इस दक्षिण कश्मीर के जिले में 529256 मतदाता हैं, जिनमें 269603 पुरुष, 257540 महिलाएं, 2102 सेवा मतदाता और 11 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rahul Sharma