वाराणसी, जेएनएन। हर-हर महादेव के उद्घोष के बीच आप लोगों ने कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान नरेंद्र मोदी से जो वादा किया था उसे कैसे निभाएंगे। मोदी मैजिक को बूथ तक ले जाना बड़ी चुनौती है। विरोधी लगातार मतदाताओं को भ्रमित कर रहे हैं कि 'मोदी तो चुनाव जीत ही जाएंगे, आप हमें वोट दे दो'। प्रधानमंत्री मोदी भी इसकी चिंता जता चुके हैं। दूसरी तरफ अभी तक यूपी में हुए चार चरणों में मतदान प्रतिशत भी पिछली बार से कम रहा है। ऐसे में मतदान प्रतिशत हर हाल में बढऩे चाहिए।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार देर शाम वाराणसी पहुंचे। भेलूपुर स्थित एक होटल में काशी क्षेत्र में आने वाली 14 लोकसभा सीटों के लोकसभा चुनाव संचालन समिति, लोकसभा प्रभारी-संयोजक, विधायक, विस प्रभारी, जिला अध्यक्ष, महानगर अध्यक्ष समेत काशी क्षेत्र के समस्त पदाधिकारियों के साथ तीन घंटे तक लोकसभावार समीक्षा की। 

मीटिंग के दौरान सबसे पहले उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव संचालन समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर सभी अस्सी सीटों का फीडबैक लिया। कहा, छठे और सातवें चरण के लिए काशी क्षेत्र की चौदह लोकसभा सीट वाराणसी, राबट्र्सगंज, मीरजापुर, कौशांबी, अमेठी, सुल्तानपुर, इलाहाबाद , प्रतापगढ़, फूलपुर, जौनपुर, गाजीपुर, मछली शहर, चंदौली और भदोही छह, 12 और 19 मई को मतदान होने हैं। 

सूत्रों के अनुसार सभी सीटों पर कार्य बांटने को कहा। 1000 एसटी मतदाता पर एक नान एसटी कार्यकर्ता लगाने का निर्देश दिया गया। बैठक में जातीय समीकरण साधने को निर्देश भी दिए गए। शाह का पूरा फोकस डोर-टू-डोर जनसंपर्क कर मतदान बढ़ाने पर जोर दिया। अमित शाह और योगी आदित्यनाथ ने सभी से भाजपा के अलावा दूसरे दलों के प्रत्याशियों उनके मताधार के बारे में प्रभारियों से चर्चा की । पूछा कि भाजपा के पक्ष में किस तरह वोटों को घुमाया जाय। उसकी प्लांनिग किस तरह की जाए। 

नामांकन- प्रत्याशियों की संख्या को लेकर चर्चा : वाराणसी में नामंकन के अंतिम दिन जिस कदर लोग नामांकन के लिए उमड़े थे, वाराणसी संसदीय सीट की समीक्षा के दौरान चर्चा में रहा। पदाधिकारियों ने बताया कि अंतिम दिन सत्तर से अधिक लोगों ने नामांकन किया है। अब तक एक सौ से अधिक लोग नामांकन कर चुके हैं। समीक्षा के दौरान कांग्रेस व सपा के नामांकन जुलूस, गठबंधन का प्रत्याशी अचानक बदले जाने के बाद बनते-बिगड़ते समीकरण को लेकर चर्चा हुई। 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप