चंदौली, जेएनएन। चंदौली लोकसभा में बुधवार को सपा मुखिया अखिलेश यादव संजय चौहान के समर्थन में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे। जनता को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि सातवें चरण के लोग ऐतिहासिक फैसला देंगे। मैं और अजीत सिंह गठबंधन की पहली सभा से साथ चल रहे हैं। पहले चरण का जोश सातवें चरण तक दिख रहा है। यह जोश भरोसा दिला रहा है कि जिन्‍होंने पांच साल झूठ बोला है उनका अब सफाया होने जा रहा है। भाजपा ने लगातार झूठ और नफरत फैलाई है, उसी बूते सरकार बनाई है। जनता अब सब जान गई है। जनता अब उनका हिसाब करने जा रही है।

भाजपा पर साधा निशाना : अखिलेश ने कहा कि भाजपाइयों को एक भी वादा याद नहीं रह गया है। पांच साल उनके गुजरे और दो साल बाबा मुख्‍यमंत्री के भी गुजर गए लेकिन अच्‍छे दिन नहीं आए। नौकरियां नहीं दी गईं, युवा बेरोजगार खाली घरों में बैठे हैं। युवाओं के सपने टूट चुके हैं। नोटबंदी करने वालों ने कहा था कि भ्रष्‍टाचार खत्‍म होगा, काला धन आएगा, लेकिन नहीं आया। काले धन वाले देश छोड़कर बाहर भी चले गए। प्रधानमंत्री चाय वाला बनकर हमारे बीच आए थे और पांच साल बाद वही अब चौकीदार बनकर आए हैं। न चाय अच्‍छी निकली और अब चौकीदार के बारे में सब जान गए। चौकीदार की चौकी छीननी है। ये देश के पीएम नहीं लगते, इतना प्रचार किया कि अब ये प्रचार मंत्री हो गए हैं। डिजिटल इंडिया, मेक इन इंडिया सभी वादे और दावे फेल हो गए। स्‍टैंड अप इ‍ंडिया, स्किल इंडिया, मुद्रा सब खत्‍म हो गई बची सिर्फ शौचालय वाली उपलब्धि बची है उसे ही गिनाते हैं। भाजपा सिर्फ गप बनाती है। कांग्रेस एक गड्ढे का शौचालय बना रही थी, भाजपा दो गड्ढे का बना रही है, पानी किसी ने नहीं दिया, बिना पानी के कैसा शाैचालय। आतंकवाद को हटाने का दावा करने वाले एक जवान से घबरा चुके हैं। लोकसभा पर आतंकी हमले के वक्‍त भाजपा की सरकार थी, पीएम जब भाषण दे रहे थे तो महाराष्‍ट्र के नक्‍सली हमले में 15 जवान शहीद हो गए थे।

सीएम पर साधा निशाना : अखिलेश ने सीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि बाबा मुख्‍यमंत्री के बारे में क्‍या कहा जाए। वो भी आएंगे यहां। वो भी आतंकवाद की बात करते हैं। मेरा सिर्फ इतना कहना है कि बाबा आप आवारा पशुओं को रोक लें तो सब आतंकवाद खत्‍म हो जाएगा। लखनऊ के सबसे अच्‍छे इलाके में सांड़ से आठ घायल हो गए। एक्‍सप्रेस वे पर घटनाएं पशुओं से हो रही है। जानवर को दुखी करने वाली सरकार है ये। गंगा मइया की कसम खाकर चुनाव लड़ने वालों ने कितनी गंगा साफ करती है। कन्‍नौज की गंदी काली नदी की गंदगी गंगा में जा रही है। भाजपा गंगा सफाई के लिए भी कुछ नहीं कर रही। इस चुनाव से पूरे देश का भविष्‍य जुड़ा है। चाय के नशे में शिक्षा मित्र हमारा साथ छोड़कर चले गए। आप का भला कोई करेगी तो सपा करेगी। अब तो चौकीदारों को भी धोखा देने की कोशिश हो रही है। जब से गठबंधन का प्रत्‍याशी घोषित हुआ है भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष के दौरे खत्‍म हो गए हैं। भाजपा वालों की भाषा बदल गई है। भाजपा कहती है कि हम गाय-भैंस चराते थे, एक हैं गोबर गांधी हैं जो गोबर की बात करते हैं। यही इनकी सोच हैं।

बोले अजीत सिंह : अखिलेश के बाद रालोद के मुखिया अजीत सिंह ने भी जनसभा को संबोधित किया। उन्‍होंने कहा कि पीएम दिन में तीन बार सूट बदलते हैं। सवाल पूछने पर कहते हैं कि फकीर हूं झोला उठा कर चल दूंगा। मुफ्त की खाओ और दुनिया भर घूमो, रोजगार की बात पर पकोडा की बात की जा रही है। पांच साल में केंद्र और राज्य ने नौकरी नहीं दी है। यह भाषण देना और झूठ बोलना जानते हैं। किसी के खाते में पंद्रह लाख आया। अपना पैसा नोटबंदी में बैंक में गया और नीरव मोदी लेकर भाग गया। 56 इंच की छाती में दिल नहीं है। पीएम बडे आदमियों के चौकीदार हैं। आपका चौकीदार बनने वाला नहीं है। आने वाले चुनाव में मोदी को हटाना है, इस बार प्रधानमंत्री गठबंधन बनाएगा। इसके अलावा किसी और में कूवत नहीं है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek Sharma