रांची, जासं। Lok Sabha Election 2019 - 61 वर्षीय अंजनी पांडे रांची लोकसभा सीट से चौथी बार चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव लडऩे के लिए उन्होंने मजदूरों से चंदा के रूप में 10-20 रुपये लेकर नामांकन शुल्क की राशि संग्रहित की है। गुरुवार को वे अपने समर्थकों के साथ अर्धनग्न होकर समाहरणालय परिसर में नामांकन दाखिल करने पहुंचे। इस बार वे आदिवासी किसान मजदूर पार्टी की ओर से चुनाव लड़ रहे हैं।

वर्तमान में वे झारखंड जेनरल कामगार यूनियन झारखंड प्रदेश के महामंत्री हैं। वे बिहार के औरंगाबाद जिला स्थित कुटुम्बा प्रखंड के करमा गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने पटना यूनिवर्सिटी से वनस्पति विज्ञान में एसएससी व लॉ की डिग्री भी हासिल की है। छात्र आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने के बाद उन्होंने मजदूरों के हक व अधिकार की लड़ाई भी लड़ी।

पांडे ने कहा कि चुनाव के तहत टोकन प्रोटेस्ट के बाद हम कपड़ा तो पहन ही लेंगे। 72 साल बाद जब सभी लोग नंगे हो गए हैं तो यह उनका टोकन प्रोटेस्ट है। हम मजदूर वर्ग के प्रत्याशी हैं। लोहरदगा से शनिया उरांव व पश्चिमी सिंहभूम से पुष्पा सिंकू भी लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं। हमने आदिवासियों को 15 हजार एकड़ जमीन वापस कराई है। इस लोकसभा चुनाव में नीति-सिद्धांत के तहत हमारी जीत होगी। हम सभी जगह पदयात्रा करेंगे और लोगों को बताएंगे कि आजादी के 72 साल बाद भी आप कहां हैं। 

सभी पार्टियों के पास सिर्फ पूंजीपतियों के एजेंडे
वर्तमान चुनावी हालात का जिक्र करते हुए अंजनी पांडे ने कहा कहा कि सभी पार्टियों के पास सिर्फ पूंजीपतियों के एजेंडे हैं। लेकिन वे मजदूरों की परेशानी, हक व अधिकार के लिए मतदाताओं से वोट करने की अपील करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस