राज्य ब्यूरो, शिमला। लोकतंत्र के महापर्व में इस बार हिमाचल प्रदेश में मतदाताओं ने खूब उत्साह दिखाया। युवाओं से लेकर बुजुर्गो में मतदान का जोश था। रविवार सुबह सात बजे मतदान शुरू होने के दो घंटे तक महज 14 फीसद वोट पड़े। लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया, मतदाता घरों से निकल वोट देने कतारों में लगे रहे। रात साढ़े आठ बजे तक प्रदेश में कई स्थानों पर मतदान हुआ। यही कारण रहा कि प्रदेश में अब तक हुए लोकसभा चुनाव में इस बार रिकॉर्ड 71 फीसद मतदान दर्ज किया गया। हिमाचल में इससे पूर्व लोकसभा चुनाव में वर्ष 1998 में सबसे अधिक मतदान 65.32 फीसद था। वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान हिमाचल में 64.45 फीसद मतदान दर्ज किया गया था। प्रदेश में इस बार लोकसभा चुनाव में 6.50 फीसद मतदान अधिक हुआ।

चुनाव विभाग का कहना है कि आधा फीसद तक मतदान में और बढ़ोतरी हो सकती है क्योंकि देर रात तक हुई मतदान की पूरी रिपोर्ट समाचार लिखे जाने तक नहीं मिल पाई थी। चुनाव आयोग ने इस बार शत-प्रतिशत मतदान का लक्ष्य निर्धारित किया था। इसके लिए कई जागरूकता अभियान चलाए गए थे। इसके अलावा दैनिक जागरण ने भी सभी चुनें, सही चुनें अभियान चलाकर मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक किया। लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में हिमाचल में हुए मतदान में युवाओं, महिलाओं, वृद्धों, दिव्यांगों सहित हर वर्ग के मतदाता ने उत्साह दिखाया। मतदान को लेकर लोगों में इतना उत्साह था कि कई दूल्हा-दुल्हन फेरे लेने से पहले मतदान केंद्र पहुंचे और मतदान किया।

मतदान केंद्रों पर शतायु मतदाताओं का स्वागत किया गया। प्रदेश में 186 आदर्श मतदान केंद्र स्थापित किए गए थे। प्रदेश के 68 विधानसभा क्षेत्रों में सबसे अधिक मतदान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के विस क्षेत्र सिराज में 81.47 फीसद दर्ज किया गया। प्रदेश में सबसे कम मतदान लाहुल स्पीति विधानसभा क्षेत्र में 61.79 फीसद हुआ। हालांकि प्रदेश में जिलावार सबसे अधिक मतदान ऊना जिला में 75.88 फीसद रहा। हालांकि मतदान के दौरान कई जगह दिक्कतें भी झेलनी पड़ीं। प्रदेश में 656 ईवीएम में खराबी के कारण काफी देर तक मतदान प्रभावित हुआ। इन ईवीएम को बाद में बदलकर मतदान करवाया गया।

मतदान करते वीडियो वायरल, दर्ज होगा केस

नाहन विधानसभा क्षेत्र में मतदान के दौरान एक पार्टी कार्यकर्ता ने मतदान करते हुए अपना वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। सूचना मिलते ही निर्वाचन विभाग ने जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देश जारी कर उक्त कार्यकर्ता को पकड़ने और उसके खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवाने के निर्देश जारी किए। वहीं, इस मामले को लेकर संबंधित मतदान केंद्र की पोलिंग पार्टी के खिलाफ भी कार्रवाई हो सकती है। इस संबंध में निर्देश सोमवार को जारी किए जा सकते हैं। कार्यकर्ता ने मतदान करते अपना वीडियो पोलिंग पार्टी की मौजूदगी में बनाया था। यह कार्यकर्ता मतदान केंद्र से चला गया था।

बेटी को लेने नहीं जा सके सीएम

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर रविवार को अपनी बेटी को लेने के लिए कांगड़ा नहीं जा सके। निर्वाचन आयोग के निर्देश के तहत मतदान प्रक्रिया पूर्ण होने तक कोई भी नेता अपना विधानसभा क्षेत्र छोड़कर दूसरे विधानसभा क्षेत्र में नहीं जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कांगड़ा से अपनी बेटी को लाने के लिए निर्वाचन विभाग से इस संबंध में नियमों के संबंध में पूछा था। उन्होंने अपनी बेटी को रविवार दोपहर बाद चार बजे कांगड़ा से लाना था। लेकिन उन्हें नियमों के कारण अपने कार्यक्रम में बदलाव करना पड़ा।

जिला,सबसे अधिक,सबसे कम,कुल

  • मंडी,सराज 81.47,धर्मपुर 62.71,73.06
  • सोलन,दून 79.80,सोलन 70.39,75.80
  • सिरमौर,नाहन 79.60,शिलाई 69.69,74.72
  • कुल्लू,आनी 75.89,बंजार,72.51,75.06
  • ऊना,हरोली 75.00,चिंतपूर्णी 72.00,75.88
  • शिमला,रोहड़ू 72.47,शिमला शहरी 63.79,68.63
  • चंबा,चंबा सदर 71.17,भरमौर 64.51,68.87
  • हमीरपुर,सुजानपुर 73.92,हमीरपुर सदर 66.21,-,71.42
  • बिलासपुर,घुमारवीं 70.52,बिलासपुर 65.66-,73.94
  • कांगड़ा,-,-,70.50
  • लाहुल स्पीति,-,-,61.79
  • किन्नौर,-,-,71.04

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप