कन्नूर, एजेंसियां। केरल में मतदान के बाद कई हिस्सों में राजनीतिक हिंसा शुरू हो गई है। कन्नूर जिले में बुधवार को एक व्यक्ति की मौत हो गई और उसके भाई का इलाज चल रहा है। मरने वाले की पहचान चोकली निवासी मंसूर के रूप में हुई है। दोनों बम हमले में घायल हो गए थे और उन्हें कोझीकोड के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। घटना के सिलसिले में पुलिस ने एक माकपा कार्यकर्ता को हिरासत में लिया है। 22 वर्षीय मंसूर यूथ लीग का कार्यकर्ता था।

बता दें कि यूथ लीग विपक्षी दल कांग्रेस नीत यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) के मुख्य सहयोगी दल इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) की युवा ईकाई है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि फर्जी मतदान के आरोपों पर मंगलवार को सुबह करीब आठ बजे कुथुपरम्बा निर्वाचन क्षेत्र के पराल इलाके में झड़प हुई थी। मंसूर और उसके भाई एवं यूडीएफ के चुनावी एजेंट मोहसिन पर उनके घर के पास हमला किया गया।

जैसे ही मंगलवार शाम मतदान संपन्न हुआ, माकपा के सबसे मजबूत गढ़ कन्नूर में हिंसा भड़क उठी। कुछ लोगों का समूह मंसूर एवं मोहसिन के घर पहुंचे और हमला कर दिया जिसमें मंसूर की जान चली गई। हरिपद और कायमकुलम में भी कांग्रेस और माकपा कार्यकर्ताओं के बीच संघर्ष झड़प हुई। कासरगोड़ जिले में मंगलवार रात भाजपा युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष श्रीजीत पाराक्कालयी पर अज्ञात लोगों के गिरोह ने हमला किया।

उन्हें मंगलुरु के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कोल्लम जिले में एक भाजपा नेता के घर पर हमला किया गया। भाजपा ने इस घटना के पीछे माकपा को जिम्मेदार ठहराया है। मालूम हो कि केरल में 73.58 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। केरल में कुल दो करोड़ 74 लाख मतदाता हैं। केरल में मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के अलावा उनकी कैबिनेट के 11 सहयोगी समेत चुनाव मैदान में कुल 957 उम्मीदवार हैं।  

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021