नई दिल्‍ली, ऑनलाइन डेस्‍क। केरल में चुनाव अभियान के दौरान एक ट्वीट के कारण कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ट्रोल हो गईं। सोशल मीडिया पर इसे लेकर तरह तरह-तरह के कमेंट किए जाने लगे।   उन्‍होंने ट्वीट कर लिखा कि 'हमें गर्व है कि केरल में हमारे 50 फीसद उम्मीदवार 20 से 40 वर्ष की उम्र के बीच हैं। हमारे वरिष्ठ नेतृत्व के ज्ञान और अनुभव के साथ मिलकर वे एक जबरदस्त ताकत बनाते हैं। मुझे उम्मीद है कि उन्हें केरल के लोगों की सेवा करने का मौका दिया जाएगा, ताकि यूडीएफ के दृष्टिकोण को महसूस किया जा सके।' वास्‍तविकता यह है कि विधायक बनने की न्‍यूनतम आयु 25 वर्ष है। ट्वीट के बाद ट्विटर पर MLA is 25 पर ट्रेंड करने लगा।

लद्दाख से भाजपा सांसद जाम्यांग सेरिंग नामग्याल ने ट्वीट कर लिखा कि भारत में चुनाव लड़ने के लिए न्यूनतम आयु 25 है। अब आपके उम्मीदवारों की आयु 25 वर्ष से कम 20 वर्ष होने पर क्या होगा? यदि आप सक्रिय राजनीति और चुनाव नियमों की मूल बात नहीं जानते हैं तो चुप रहना ही एक अच्छा विकल्प है।  

दिल्‍ली में भाजपा नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्‍गा ने ट्वीट कर लिखा कि विधायक चुनाव के लिए न्यूनतम आयु 25 है। मुझे लगा कि आप बुद्धिमान हैं, लेकिन आप भी राहुल गांधी संस्करण 2 हैं। 

सिद्धार्थ पटेल ने ट्वीट कर लिखा कि विडंबना है प्रियंका गांधी को भी नहीं पता कि विधायक की न्यूनतम आयु 25 है। 

केरल के त्रिशूर में चुनावी रैली में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी CPM की तरह कैडर आधारित पार्टी नहीं है। कांग्रेस लोगों की पार्टी है। कांग्रेस की राजनीति लोगों के लिए होती है, लोगों को एक करने के लिए होती है। हम भाजपा की तरह बंटवारे की राजनीति नहीं करते हैं।

सिद्धार्थ पटेल ने ट्वीट कर लिखा कि विडंबना है प्रियंका गांधी को भी नहीं पता कि विधायक की न्यूनतम आयु 25 है!

Edited By: Arun Kumar Singh