कोल्लम, एएनआइ। केरल में छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को सत्तारूढ़ लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) को सोना तस्करी घोटाले और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) को सोलर घोटाले से जोड़ते हुए दोनों गठबंधनों को घोटालेबाज करार दिया। उन्होंने कहा कि दोनों गठबंधन भ्रष्टाचार में भरोसा करते हैं इसलिए दोनों को सत्ता से दूर रखा जाना चाहिए।

करुनागपल्ली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, 'इस भूमि को काजू के प्रसंस्करण, कोयर (नारियल की जटा) उद्योग और आर्थिक गतिविधियों के लिए जाना जाता है। लेकिन मैं यह भी कहूंगा कि यह भूमि नीतिगत पंगुता और एलडीएफ-यूडीएफ सरकारों के लंबे समय तक सत्ता में रहने के कारण रोजगार सृजित नहीं कर पाई।'

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यूडीएफ और एलडीएफ ने क्षेत्र के विकास के लिए कोई पहल नहीं की और दोनों ने ही इस भूमि के सांस्कृतिक एवं पारंपरिक पहलुओं को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस का मतलब है- मिशन आफ करप्शन, विजन आफ कम्युनालिज्म और एक्शन आफ डिस्ट्रक्शन.. एलडीएफ और यूडीएफ दोनों ही इस भूमि के सांस्कृतिक ढांचे को नष्ट कर रहे हैं। उन्होंने क्षेत्र के लोगों की धार्मिक भावनाओं को कुचलने की कोशिश की।'

नड्डा ने सबरीमाला मंदिर मुद्दे पर भी बात की। उन्होंने कहा, 'यह एलडीएफ सरकार ही थी जिसने भगवान अयप्पा के भक्तों पर लाठीचार्ज किया था और उन लोगों पर मामले दर्ज करने की कोशिश की थी जो भगवान अयप्पा और सबरीमाला मंदिर से जुड़ी धार्मिक भावनाओं के लिए लड़ रहे थे। जबकि यूडीएफ मूकदर्शक बना रहा और उसने केवल बातें बनाईं।'

नड्डा (BJP President JP Nadda) ने कहा कि भाजपा राज्य में अपना मत प्रतिशत पांच फीसद से बढ़ाकर 17 फीसद करने में सफल रही है। इस बार पार्टी आपके आशीर्वाद से बड़ी छलांग लगाने की कोशिश कर रही है। भाजपा अध्यक्ष (JP Nadda) ने गुरुवार को अटिंगल में एक रोडशो भी किया।