पटना/रांची, राज्य ब्यूरो। सत्तारूढ़ एनडीए गठबंधन में शिवसेना की भाजपा से कुट्टी के बाद अन्य घटक दलों ने आंख दिखानी शुरू कर दी है। झारखंड में एनडीए गठबंधन का हिस्सा बनने की लोजपा की कवायद मंगलवार को खत्म हो गई। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्वीट कर यह जानकारी दी कि लोजपा झारखंड में अकेले चुनाव लड़ेगी। अपने बूते वह पचास प्रत्याशी उतारेगी। एनडीए गठबंधन में अब दूसरे सबसे बड़े घटक के रूप में शामिल जदयू ने पूर्व में ही झारखंड विधानसभा की सत्तर सीटों पर अकेले चुनाव लडऩे का फैसला लिया था। 

यह पहला मौका है जब इतनी बड़ी संख्या में लोजपा अपने उम्मीदवार बिहार के बाहर उतार रही है। मंगलवार पार्टी उम्मीदवारों की पहली सूची जारी हो गई। कई महीनों से लोजपा इस कवायद में लगी थी कि झारखंड में वह भाजपा के साथ चुनाव लड़े। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने तब कहा था कि उन्होंने साथ चुनाव लडऩे के बारे में गृह मंत्री सह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास से बात की थी। सूत्रों के अनुसार लोजपा ने छह सीटें मांगी थी। बाद में मामला तीन सीटों पर आ गया था। इस पर भी सहमति नहीं बनी।

जानकारी हो कि लोकसभा चुनाव में चिराग ने भाजपा के लिए वोट मांगा था। दो दिन पहले ही चिराग ने संकेत दिया था कि झारखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा के साथ उनकी बात नहीं भी बन सकती है। ऐसा होने पर लोजपा झारखंड में अकेले चुनाव लड़ेगी। तब उन्होंने 37 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने की बात कही थी।

 राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप चिराग पासवान का यह पहला विधानसभा चुनाव होगा। यही नहीं बिहार के बाहर किसी विधानसभा चुनाव में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में पार्टी अपने उम्मीदवार दे रही है।

पांच प्रत्याशियों की पहली सूची जारी

विधानसभा       प्रत्याशी

  1. छतरपुर        शशिकांत कुमार
  2. पांकी        रामदेव प्रसाद यादव 
  3. भवनाथपुर     रेखा देवी
  4. हुसैनाबाद     आनंद प्रताप सिंह
  5. विश्रामपुर      शशिरंजन धर दूबे

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप