रांची, जेएनएन। Rahul Gandhi Rally in Jharkhand कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा पर जमकर ताने मारे। झारखंड में एक चुनावी सभा काे संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस प्यार बांटती है। जबकि भाजपा हिंसा को बढ़ावा देती है। सभा में मौजूद लोगों से जुड़ते हुए उन्‍होंने झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनाने का आह्वान किया। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि देश में अंबानी-अडाणी की सरकार चल रही है। हम सत्‍ता में आए तो किसानों का कर्ज माफ करेंगे। आदिवासी हितों की रक्षा करेंगे। उद्योगपतियों से जमीन छीनकर आदिवासियों को देंगे।

भाजपा को घेरते हुए राहुल ने कहा कि बीजेपी की सरकारें जमीन की लुटेरी हैं। यह आदिवासियों का जमीन पूंजीपतियों के लिए जबरन लूट लेती हैं। पांच चरणों में होने वाले झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के स्टार प्रचारक राहुल गांधी ने सोमवार को सिमडेगा में एक जनसभा को संबोधित किया। राहुल गांधी ने अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी और विजय माल्‍या का जिक्र करते हुए कहा कि माेदी जी सिर्फ 15-20 पूंजीपतियों के लिए सरकार चलाते हैं। गरीबों का पैसा छीनकर इन चोरों के पॉकेट में डाल देते हैं।

सत्‍ता में आए तो माफ करेंगे किसानों का कर्ज

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा की नीतियों पर जमकर प्रहार किया। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में प्रचार अभियान का आगाज करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं बल्कि अंबानी और अडाणी की सरकार चल रही है। मोदी गरीबों का पैसा लेकर अपने 15-20 उद्योगपति मित्रों को देते हैं। इनका लाखों करोड़ों रुपए का उन्होंने कर्ज माफ किया है। राहुल गांधी ने मतदाताओं को लुभाने के लिए भावनात्मक बातें की। वादा किया कि झारखंड में गठबंधन की सरकार आएगी तो छत्तीसगढ़ की तर्ज पर किसानों का कर्ज माफ होगा।

उद्योगपतियों की जमीन लेकर फिर से आदिवासियों व गरीबों को दी जाएगी

आदिवासियों को लुभाने के लिए जल, जंगल, जमीन पर पूरा अधिकार का नारा उछाला। कहा, भाजपा की सरकार अपने उद्योगपति मित्रों को आदिवासियों और गरीबों का जमीन छीनकर देती है। अगर झारखंड में सरकार बनी तो उद्योगपतियों का जमीन लेकर फिर से आदिवासियों और गरीबों को दिया जाएगा। इस बाबत छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार का भी उदाहरण दिया। बोले, जहां भी कांग्रेस की सरकार आई है किसानों का कर्ज माफ हुआ है। किसानों को अनाज का बेहतर मूल्य मिला है। आदिवासियों की जमीन की रक्षा हुई है। छत्तीसगढ़ में टाटा कंपनी से जमीन लेकर किसानों को वापस किया गया है। यही काम झारखंड में दोहराया जाएगा।

आप समझते हैं, मोदी को समझ में नहीं आती

लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हम न्याय योजना लेकर आए थे। इससे हर गरीब के खाते में पैसा जाता। हम हार गए, योजना को लागू नहीं कर पाए। न्याय योजना से रोजगार मिल सकता है। मोदी ने जब जीएसटी लागू किया तो गरीबों की जेब से पैसा निकाला और जब गरीबों के पास पैसे खत्म हो गए तो उन्होंने माल भी खरीदना बंद कर दिया। इसका असर हुआ कि फैक्ट्रियां बंद हो गई, मालिकों ने रोजगार देना बंद कर दिया और पूरे देश में बेरोजगारी फैल गई।

मोदी नहीं समझते इस बात को लेकिन आप लोग समझते हैं। बेरोजगारी से लड़ने के लिए गरीबों को पैसा देना होगा। मोदी ने पैसा छीनकर, नोटबंदी माल्या, अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी जैसे चोरों की जेब डाला। मोदी ने उनका टैक्स माफ किया, उससे रोजगार नहीं पैदा होगा। जितना पैसा ये उन्हें देंगे वे लेकर चले जाएंगे। पहले 35 किलो अनाज मिलता था आज वह नहीं मिलता। उन्होंने पूछा क्या 35 किलो अनाज मिलता है, आवाज आई नहीं 5 किलो अनाज मिलता है, तो राहुल ने दोहराया कि 30 किलो का पैसा 15-20 अमीरों की जेब में जाता है। इन्होंने मनरेगा को बंद किया, भोजन का अधिकार बंद किया।

नोटबंदी से पैसे लेकर बड़े उद्योगपतियों को दिए

बेरोजगारी का मुद्दा छेड़कर उन्होंने युवाओं को रिझाने की कोशिश की। कहा, प्रधानमंत्री और झारखंड के रोजगार देने की बात करते हैं, मेक इन इंडिया की बात करते हैं। अपने अंदाज में उन्होंने आस्तीन चढाते हुए पूछा- क्या किसी को छह साल में रोजगार मिला है, जवाब आया नहीं। उन्होंने नोटबंदी की भी चर्चा छेड़ी। कहा कि मां-बहनों को बैंक के सामने खड़ा होना पड़ा। एक उद्योगपति को किसी ने बैंक की लाइन में खड़ा नहीं देखा। बैंक की कतार में बेरोजगार खड़े थे। उनके बचाए हुए पैसे मोदी जी ने ले लिए और गरीबों का पैसा बड़े उद्योगपतियों को दिया।

गठबंधन की सरकार गरीबों की रक्षा करेगी

15 से 20 उद्योगपतियों का तीन लाख पचास हजार करोड़ का कर्ज माफ हुआ। जीएसटी लगाकर छोटे और मंझोले दुकानदारों की दुकानें बंद कराई गई। उन्हें भारी नुकसान हुआ। नोटबंदी, जीएसटी का फायदा सिर्फ अमीरों को ही मिला है, जो मोदी के मित्र हैं। यह लोग मोदी की मार्केटिंग करते हैं। झारखंड के गरीबों का पैसा लेकर भी उन्होंने अमीरों को दिया। जमीन छीनकर अपने उद्योगपति मित्रों को दिया। आदिवासियों का बिजली, पानी भी छीना। हमें ऐसी सरकार नहीं चाहिए। उन्होंने भरोसा दिलाया कि गठबंधन की सरकार गरीबों, किसानों और आदिवासियों की सरकार होगी, जो इनकी रक्षा करेगी। आरोप लगाया कि भाजपा सरकार लोगों को दबाती और कुचलती है। कहीं धन के कारण तो कहीं विचारधारा, संस्कृति के नाम पर लोगों को दबाया और कुचला जाता है। गठबंधन की सरकार में हम ऐसा होने नहीं देंगे।

सीएनटी-एसपीटी एक्ट बदलना चाहती है भाजपा

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि झारखंड सरकार सीएनटी और एसपीटी एक्ट को बदलना चाहती है। हम इसे कभी बदलने नहीं देंगे। झारखंड का धन, जल, जंगल, जमीन गरीबों और आदिवासियों का है। जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी तो मनरेगा, भोजन का अधिकार, सूचना का अधिकार गरीबों को शक्ति देने के लिए किया गया था। झारखंड में भी हम ऐसा ही कानून बनाएंगे। आपका जल, जंगल, जमीन आपके हवाले करेंगे।

हम नफरत नहीं फैलाती, दिल्ली में भी सरकार बनेगी

राहुल गांधी ने दावा किया कि दिल्ली में कांग्रेस की सरकार बनेगी। झारखंड में भी सरकार बनानी होगी। अगर जल, जंगल जमीन की रक्षा चाहते हैं तो गठबंधन के प्रत्याशियों को जिताना होगा, नहीं तो आपका नुकसान होगा। राहुल गांधी ने कहा कि देश एक विचारधारा का नहीं, अलग-अलग धर्म, जात और सोच का है। कांग्रेस सबको लेकर चलती है। प्यार से देश को आगे ले जाती है। हम धर्म, संस्कृति, जात के कारण आक्रमण नहीं करते, हिंसा का प्रयोग नहीं करते। हम प्यार से काम करते हैं। यह देश तभी आगे जाएगा जब सब मिलकर आगे बढ़ेंगे।

आरपीएन बोले, धांधली कर भाजपा को जिताया लोकसभा चुनाव में 

झारखंड प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने आरोप लगाया है कि लोकसभा चुनाव में खूंटी से धांधली कर भाजपा प्रत्याशी को जिताया गया। उन्होंने मुख्यमंत्री रघुवर दास को घमंडी करार दिया। यह भी कहा कि चुनाव में छोटी-छोटी पार्टियां ध्यान भटकाने के लिए खड़ी है। ये पार्टियां भाजपा की पिछलग्गू हैं।

सिमडेगा में राहुल गांधी के कार्यक्रम स्‍थल पर पदाधिकारियों को निर्देश देते सिमडेगा के एसपी संजीव कुमार।

हेमंत की जगह आए चमरा लिंडा 

सिमडेगा में राहुल गांधी की सभा में झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को भी शामिल होना था लेकिन बरहेट में नामांकन करने की वजह से वह नहीं आ पाए। उनके स्थान पर विशुनपुर के विधायक चमरा लिंडा राहुल गांधी की सभा के दौरान मौजूद रहे। चमरा लिंडा ने कहा कि राहुल गांधी को पीएम बनाना है। झारखंड से रघुवर दास की सरकार को हटाना है। भाजपा ने आदिवासियों का अस्तित्व समाप्त करने की कोशिश की है। ये हमें वनवासी कहते हैं। आदिवासियों को भालू-बंदर कहते हैं। भाजपा की सरकार ने ट्राइबल सब-प्लान का पैसा लौटा दिय यह मिलता तो आदिवासियों का दुख खत्म हो जाता। यह भी कहा कि हमारी सरकार आएगी तो हम अखड़ा को बचाएंगे और सरना धर्म कोड लागू करेंगे।

यह खबर लगातार अपडेट हो रही है। ताजा जानकारी के लिए बने रहें हमारे साथ...

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप