खास बातें

  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- हमारा फैसला सही है, यह कांग्रेस के कारनामों से पता चलता है
  2. लंदन में भारतीय दूतावास के सामने पाकिस्तान के पैसों पर पलने वाले लोग प्रदर्शन करते रहे हैं, अब कांग्रेस करने लगी
  3. नॉर्थ ईस्ट के लोग अब शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन ट्रेनों में आग लगाने वाले कपड़ों से ही पकड़े जा रहे
  4. हमारा विरोध करते-करते कांग्रेस देश का विरोध करने लगी है, हजार फीसदी सही है नागरिकता संशोधन कानून
  5. कांग्रेस-झामुमो के पास विकास का रोड मैप नहीं, इनका काम है मोदी को गाली देना और भाजपा का विरोध करना

रांची, राज्य ब्यूरो। PM Modi in Jharkhand प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दुमका में आयोजित चुनावी रैली में एक बार फिर कांग्रेस को निशाने पर लिया। लंदन में भारतीय दूतावास के सामने प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि अब तक यह काम पाकिस्तानी नागरिक और पाकिस्तान के पैसों पर पलने वाले लोग किया करते थे, लेकिन अब कांग्रेस भी यही करने लगी है। कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह से आप विरोध कर रहे हैं, उससे यही लगता है कि हमारा फैसला हजार फीसद सही है।

असम और नॉर्थ ईस्ट के लोगों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन के लिए साधुवाद देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आपका अभिनंदन करता हूं, लेकिन जो लोग आग लगा रहे हैं, उनकी पहचान कपड़ों से ही हो जा रही है। कांग्रेस और झामुमो के पास विकास का कोई रोडमैप नहीं है। उन्हें सिर्फ एक ही बात पता है कि मोदी को गाली देनी है और भाजपा का विरोध करना है। हमारा विरोध करते-करते ये तमाम सीमा रेखा लांघ जाते हैं और देश का विरोध करने लगते हैं। नागरिकता कानून से जुड़े बदलाव में यही हुआ है। देश की जनता जानती है कि मोदी ने देश को भी बचा लिया है। 

देश को बदनाम करने का काम हो रहा

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के राजदूत के सामने प्रदर्शन करने का काम और हिंदुस्तान को बदनाम करने का काम हो रहा है। लेकिन, हमारा निर्णय सही है। आपको विरोध करना था, तो बैठकर बातें करते। उन्होंने कहा कि असम और नॉर्थ ईस्ट अब ऐसा व्यवहार कर रहा है, जिससे देश का मान सम्मान बढ़े। यही तो लोकतंत्र है। लंदन में भारतीय दूतावास के सामने पाकिस्तान वालों ने उस समय प्रदर्शन किया, जब सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि पर फैसला दिया। इसी प्रकार, अनुच्छेद 370 पर हमारे निर्णय के बाद भी प्रदर्शन किया गया।

पीएम ने कहा कि आप हैरान रह जाएंगे, जो काम लंदन में हमेशा पाकिस्तान वाले करते थे, वही काम कांग्रेस वालों ने किया। अगर कोई गिला शिकवा है, तो बंद कमरे में बात होती, चाय पीते और अपनी बात रखते। अब कांग्रेस वालों से कोई उम्मीद नहीं बची। वे सिर्फ और सिर्फ अपने परिवार के लिए सार्वजनिक जीवन में आए हैं। देश और समाज के हित में काम करने वालों को यह कभी स्वीकार नहीं करते हैं। 

भाजपा देती है जल, जंगल और अधिकार को सुरक्षित रखने की गारंटी

प्रधानमंत्री ने लोगों से डबल इंजन की सरकार को फिर से स्थापित करने की बात करते हुए कहा कि आपके जल, आपके जंगल और आपके अधिकार को सुरक्षित रखने की गारंटी भाजपा देती है। दुमका सहित झारखंड के 20 जिले ऐसे हैं, जहां कांग्रेस और उसके साथियों ने वर्षों के शासन के बावजूद बुनियादी सुविधाओं से वंचित रखा है। यह भाजपा की सरकार है, जिसने पिछड़े जिलों को आकांक्षी जिलों की श्रेणी में रखा और आपको जानकर हर्ष होगा कि देश के टॉप-3 आकांक्षी जिलों में झारखंड के जिलों का नाम है।

पीएम ने कहा कि यह डबल इंजन की सरकार का कमाल है। झामुमो, कांग्रेस और वामपंथियों के लिए आदिवासी क्षेत्रों का विकास प्राथमिकता में कभी नहीं रहा है। यही कारण है कि आजादी के इतने वर्षों तक आदिवासी क्षेत्रों को विकास से वंचित रखा गया। सड़क, बिजली, सिंचाई, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि सुविधाओं से आदिवासी वंचित रहे हैं। यह भाजपा को मंजूर नहीं है।

हमारा कोई रिमोट कंट्रोल नहीं, जनता जनार्दन है हाईकमान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुमका की रैली में कांग्रेस और सहयोगी पार्टियों पर राज की चिंता नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें चिंता सिर्फ अपनी तिजोरी भरने की रही है। रविवार को लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आप लोगों ने भले ही उन्हें सत्ता से बेदखल कर दिया हो, लेकिन वे अभी तक सुधरे नहीं हैं। झारखंड में झामुमो और कांग्रेस के पास विकास का कोई रोडमैप नहीं है। सत्ता में रहते हुए झामुमो और कांग्रेस यह तय करते थे कि किस पार्टी और नेता के पास बजट का कितना शेयर होगा। दूसरी ओर, भाजपा की सरकार रिमोट कंट्रोल वाली सरकार नहीं है, जनता जनार्दन ही हमारा हाईकमान है। उन्होंने कहा कि दुमका सहित राज्य में टूरिज्म विकास की बहुत संभावना है और इस पर हम गंभीरता से काम कर रहे हैं। हमारे वादों और इरादों में कोई बेईमानी नहीं है।

किस नेता और किस पार्टी का कितना शेयर होगा, यह तय होता था झामुमो और कांग्रेस के शासनकाल में

दुमका में भारी भीड़ की मौजूदगी से उत्साहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर पीछे से मोबाइल पर रोशनी नहीं दिखती, तो इस बात का अंदाजा ही नहीं मिलता कि भीड़ कहां तक है। महिलाओं की उपस्थिति से गदगद मोदी ने कहा कि भाजपा को हर वर्ग का समर्थन मिल रहा है और इसका कारण यही है कि मैं सेवक बनकर काम करता हूं और अपनी रिपोर्ट देता हूं। पहले सरकारी कार्यक्रम कागजों पर बनते थे और एक बड़ी खाई थी इरादों में। लेकिन, अब ऐसा नहीं है। हम इस खाई को पाटने में लगे हैं। 36 लाख लोगों को शौचालय, 35 लाख महिलाओं को गैस कनेक्शन और 10 लाख परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिल चुका है। 2014 के चुनाव से पहले यहां के मुख्यमंत्री 30-35 हजार आवास बनाने का वादा करते थे, लेकिन हमारा वादा है कि 2022 तक कोई भी पक्के मकान के बगैर नहीं रह जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार में जनहित, जनभावना और जनता की इच्छा ही सर्वोपरि है, जनता जनार्दन ही हमारा हाईकमान है। हमारी सरकार का कोई रिमोट कंट्रोल नहीं होता।

कांग्रेस और इसके साथी सुधरे नहीं हैं, यह सिर्फ तिजोरी भरते रहे, जनता की चिंता नहीं की

झारखंड के विकास की सोच और संकल्प झामुमो अथवा कांग्रेस के पास नहीं है। यही नहीं, विकास उनकी प्राथमिकताओं में शामिल नहीं है। झारखंड मुक्ति मोर्चा कांग्रेस के साथ दिल्ली में और बिहार के साथ-साथ झारखंड में भी सत्ता में रही और इतने वर्षों में झारखंड को पिछड़ा बना दिया। जनता को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस और झामुमो ने आपके लिए आए पैसों को लूटा है और आपको पाई-पाई के लिए मोहताज कर दिया है। कांग्रेस शासनकाल में आदिवासी क्षेत्र बिजली, स्वास्थ्य, सड़क और शिक्षा जैसी सुविधाओं से वंचित रहे हैं। भाजपा को 19 वर्ष के झारखंड के लिए यह स्थिति मंजूर नहीं है। यही कारण है कि हम हर गांव में बिजली पहुंचाने का काम कर रहे हैं। हर गांव में सड़क पहुंचाने का काम कर रहे हैं। हर ब्लॉक में एकलव्य स्कूल के माध्यम से सभी को शिक्षा सुनिश्चित कर रहे हैं। झारखंड में आइआइटी और एम्स जैसे उच्च शिक्षा के केंद्र हम ने बनाए हैं। कांग्रेस और झामुमो की सरकारों ने तो यहां के एम्स के लिए रोड़े अटकाने का काम किया। हम दुमका में एयरपोर्ट का विकास हम कर रहे हैं।

झारखंड में टूरिज्म विकास पर काम कर रहे, हमारे वादों और इरादों में कोई बेईमानी नहीं

पीएम ने कहा कि झारखंड की धरती से हमने कई बड़ी योजनाओं की शुरुआत की। मुद्रा योजना की शुरुआत इसी दुमका से हुई थी। झारखंड के युवाओं को इस माध्यम से रोजगार मिल रहा है तो स्वरोजगार का अवसर भी। दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ स्कीम 'आयुष्मान भारत भी झारखंड से शुरू हुई थी। किसान परिवारों और छोटे व्यवसायियों के लिए पेंशन की योजना भी झारखंड से शुरू हुई थी। पीएम किसान निधि का सम्मान सैकड़ों किसानों को मिला है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सुदूर गांवों तक सड़कें बनी हैं। कांग्रेस और झामुमो की सरकार ने जनजातीय समुदाय का बहुत नुकसान किया है।

पीएम ने कहा कि मुझे खुशी है कि भाजपा के विकास कार्यों को देख कर बहुत सारे युवा हिंसा का रास्ता छोड़कर अपने परिवार के बीच वापस आ गए हैं। झारखंड के विकास का यह सपना तभी साकार हो सकता है, जब एक बार फिर आप भाजपा की सरकार बनाएं। झारखंड के दलित, आदिवासी, पिछड़े, वंचित, शोषित, किसान के हित में चलने वाली योजनाएं तभी बेहतर ढंग से उतरेंगी, जब दिल्ली और झारखंड में एक जैसी ही सरकार हो। आपका वोट सिर्फ मुख्यमंत्री ही तय नहीं करेगा, बल्कि मेरे लिए भी आसानी से काम करने का रास्ता तय करेगा।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस