रांची, जेएनएन। PM Modi Rally in Jharkhand प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड में मंगलवार को दो महती चुनाव सभाओं को संबोधित किया। वे पहले नक्‍सल प्रभावित खूंटी में जनमानस से जुड़े। इसके बाद वे झारखंड चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) की हॉट सीट बने जमशेदपुर में मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के समर्थन में चुनावी सभा में बड़ी संख्‍या में आए मतदाताओं से मुखातिब हुए। भाजपा के बागी सरयू राय (Saryu Rai) यहां मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। सरयू ने कहा था कि रघुवर दास (Raghubar Das) नहीं वे रघुवर दाग हैं, जिनके दाग मोदी डिटरजेंट और शाह लाउंड्री भी नहीं मिटा सकते। ऐसे में जमशेदपुर में पीएम मोदी की सभा का यहां खास महत्‍व रहा। पीएम मोदी (PM Modi) ने अपने भाषण के समापन में जोर देते हुए कहा कि मोदी वहीं है, जहां कमल का निशान है। जो भाजपा के साथ है, उसके साथ मोदी है। पीएम ने कहा कि कहीं कोई भ्रम नहीं है, कोई अगर मोदी के बारे में कुछ कहता है तो ध्‍यान न दें, सिर्फ कमल निशान के साथ ही मोदी है।

यह भी पढ़ें: PM Modi Rally in Jharkhand: यहां पढ़ें पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें

मालूम हो कि इस बार झारखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा के बागी सरयू राय अपनी जमशेदपुर पश्चिमी सीट छोड़कर जमशेदपुर पूर्वी सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। यह सीट सीएम रघुवर दास की रही है। रघुवर यहां पिछले पांच बार से चुने जा रहे हैं। भाजपा की ओर से उम्‍मीदवारों की एक पर एक चार लिस्‍ट जारी किए जाने के बाद एकाएक सरयू राय ने अपनी सीट बदलने और सीएम के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा कर सियासी जगत में हलचल पैदा कर दी थी। देश-दुनिया की नजर जमशेदपुर पूर्वी सीट पर आकर टिक गई है।

यह भी पढ़ें: PM Modi Rally in Jharkhand: मोदी बोले, गुजरात में मैं 13 साल अकेले CM, झारखंड ने बदले 10

जमशेदुपर पूर्वी सीट पर कांग्रेस ने भाजपा प्रवक्‍ता संबित पात्रा से लाइव डिबेट में एक ट्रिलियन में कितने जीरो पूछकर चर्चा में आए कांग्रेस प्रवक्‍ता गौरव बल्‍लभ को मैदान में उतारा है। यहां सरयू राय निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। इससे पहले जमशेदपुर के रघुवर नगर में सरयू समर्थकों और सीएम रघुवर दास के समर्थकों में हिंसक झड़प की खबरें भी सुर्खियां बटोर चुकी हैं।

बहरहाल मंगलवार को जमशेदपुर में हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा के बारे में कहा जा रहा था कि भाजपा के अनुशासित और समर्पित कार्यकर्ता के तौर पर खुद को पेश करते रहे सरयू राय को पीएम मोदी की रैली से कोई बड़ा संदेश देने की कोशिश होगी। सरयू राय ने सीएम रघुवर पर अपना टिकट कटवाने के आरोप लगाए हैं। उन्‍होंने सार्वजनिक मंच से रघुवर दास की अगुआई में चल रही झारखंड की भाजपा सरकार पर भ्रष्‍टाचार को लेकर भी तीखे हमले किए हैं।

इशारों में संदेश दे गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,  जमशेदपुर में हर तबके को साध गए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमशेदपुर के खचाखच भरे गोपाल मैदान की जनसभा में राजनीतिक विरोधियों से लेकर समर्थकों तक को संदेश देने में सफलता पाई। इशारों में उन्होंने कहा कि चुनाव व्यक्तियों के बीच नहीं है। किसे विधायक और सीएम बनाना है, उसके लिए भी नहीं है। सवाल 19 साल के झारखंड का है, जिसके लिए अगले पांच साल महत्वपूर्ण हैं। कहा, मोदी की एक ही पहचान है। मोदी का मतलब कमल का फूल। अगर कमल का फूल नहीं तो मोदी नहीं। उन्होंने नारे लगवाए-झारखंड पुकारा, मोदी दोबारा।

कई बार लगे मोदी.. मोदी... के नारे

प्रधानमंत्री के 44 मिनट के भाषण के दौरान ऐसे कई मौके आए जब उन्हें भीड़ के उत्साह की वजह से रुकना पड़ा। प्रधानमंत्री लोगों को स्नेह के लिए शुक्रिया अदा करते और साथ ही उन पर प्यार भी बरसाते। उनकी सभा कई मुद्दों पर केंद्रित रही। उन्होंने इसे श्रम की धरती बताते हुए मशहूर उद्योगपति जमशेदजी टाटा को याद किया। भावनात्मक तौर पर टाटा से खुद को जोड़ते हुए किसानों, मजदूरों और श्रमिकों की बात की। यह कह कर भी लोगों की वाहवाही लूटी कि उन्होंने एसी कमरे में फैसले कर चैन से सोने के लिए सरकार नहीं बनाई।

दिल्ली से निकलकर वे सरकार की योजनाओं को कोने-कोने तक पहुंचा रहे हैं।  प्रधानमंत्री बोले कि भाजपा की सरकार मुद्दों को सुलझाने वाली सरकार है। उनकी बातों पर हर हर मोदी, मोदी-मोदी के नारे लगते रहे। भीड़ का उत्साह चरम पर दिखा। भाजपा सरकार के प्रयासों से औद्योगिक विस्तार की भी चर्चा की। यह भी कहा कि 2022 तक एक भी गरीब को झुग्गी झोपड़ी की जिंदगी नहीं गुजारनी होगी और हर परिवार का अपना पक्का घर होगा।

श्रमिकों को भावनात्मक डोर से  बांधा

 प्रधानमंत्री ने कहा, जमशेदपुर श्रम और उद्यम की धरती है। लाखों लोगों के सपनों को साकार करने वाली धरती है। दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा बनाने वाली धरती है। उन्होंने इसे श्रमिक की प्रेरणा और राष्ट्रवाद से भी जोड़ा। जमशेदपुर और टाटा समूह के संस्थापक जमशेदजी टाटा को गुजराती बताते हुए खुद को भी जमशेदपुर से जोड़ा।

कल्याणकारी योजनाओं की गंगोत्री झारखंड

नरेंद्र मोदी ने कहा कि झारखंड केंद्र सरकार की क्रांतिकारी योजनाओं की गंगोत्री और उद्गम स्थली है। आयुष्मान भारत योजना दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ इंश्योरेंस की योजना है और इसकी शुरुआत झारखंड के खाते में गई। इस योजना के तहत 700000 गरीबों का निशुल्क इलाज हुआ है जिसमें दो लाख झारखंड से हैं। किसान, दुकानदार, मजदूर को 60 वर्ष की उम्र के बाद निश्चित पेंशन योजना की शुरुआत का गौरव झारखंड को है। किसानों और छोटे व्यापारियों के लिए 3000 पेंशन से बुढ़ापा का सहारा भी झारखंड से आरंभ किया गया। 2022 तक देश के हर आदिवासी बालक के लिए एकलव्य मॉडल स्कूल की शुरुआत भी झारखंड से की गई। झारखंड में ग्रामोदय से भारत उदय का सफल अभियान आरंभ किया गया। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत भी झारखंड से की गई। उन्होंने मुख्यमंत्री रघुवर दास और भाजपा की टीम को विकास का श्रेय दिया और कहा कि झारखंड की बुलंद पहचान देश दुनिया में बन रही है।

कांंग्रेस ने लूटा, हमने लौटाया

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने श्रमिकों का जीवन बेहतर बनाने के लिए कदम उठाए हैं। उन्हें न्यूनतम आय से जोड़ा है। लोकसभा के सत्र में श्रमिकों के लिए नया कानून लेकर आए हैं जो उनके हितों की रक्षा करेगी। पहले सिर्फ नारों से लोगों को लुभाया गया लेकिन हम काम करते हैं। हर परिवार का अपना पक्का मकान होगा। कांग्रेस ने देश को लूटा हमने देश को लौटाया।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप