खास बातें

  • झारखंड में पीएम की अब तक की सभाओं में सबसे लंबा भाषण रहा धनबाद में, मोदी ने कांग्रेस के साथ सहयोगियों पर भी किया प्रहार
  • कांग्रेसी सरकारों ने यहां से कोयला निकाल लिया और लोगों को प्रदूषण के बीच जीने को छोड़ दिया
  • प्रधानमंत्री ने अपनी उपलब्धियों का हिसाब देकर, जनता से प्रदेश में दूसरी बार भाजपा सरकार के लिए वोट मांगा

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में भाजपा प्रत्याशियों का प्रचार करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश में कांग्रेस-झामुमो गठबंधन पर खुलकर हमले किए। कहा, इनकी सरकारों ने प्रदेश से कोयला निकालकर बेच दिया और लोगों को प्रदूषण के बीच जीने को छोड़ दिया। कहा कि कांग्रेस और सहयोगियों ने झारखंड को धूल, धुआं और धोखा ही दिया है। धनबाद की सभा में उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों को भी गिनाया और झारखंड में दूसरी बार भाजपा सरकार के लिए लोगों से वोट देने की अपील की। यहां मोदी का भाषण 50 मिनट से अधिक का रहा जिसे झारखंड में अब तक का सबसे लंबा भाषण माना जा रहा है। इसके पूर्व की चुनावी सभाओं में उन्होंने 40-49 मिनट तक लोगों को संबोधित किया था।

उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा ने जो पाया है उसका कारण यही है कि हम जो संकल्प लेते हैं उसे सिद्ध भी करते हैं। ईमानदारी से उसपर अमल करते हैं। उन्होंने छह महीनों के कार्यकाल का ब्यौरा भी दिया और बताया कि चुनाव के पूर्व के कितने वादे पूरे किए गए। किसानों को मदद पहुंचाने का वादा पूरा किया, छोटे व्यवसायियों को पेंशन का संकल्प पूरा किया आदि कई योजनाओं को जिक्र करते हुए उन्होंने आम लोगों से हामी भी भरवाई। 

रामजन्म भूमि का नाम लेते ही लगने लगे जय श्रीराम के नारे

अपनी उपलब्धियां गिनाने के क्रम में मोदी ने देश में एक ही संविधान के वादे को याद दिलाया और लोगों से पूछा कि 370 हटाकर वादा पूरा किया कि नहीं तो एक आवाज में सबने हामी भरी। इसके बाद उन्होंने जैसे ही राम जन्मभूमि का नाम लिया, सभा से जय श्रीराम के नारे लगने लगे। मोदी अपनी बात अधूरी छोड़कर बोले - मैं सर झुकाकर नमन करता हूं। यह आशीर्वाद ही उज्ज्वल भविष्य का आधार है। आगे अपनी बात पूरी करते हुए उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि का मसला सदियों से लटका हुआ था। इस मसले को लटकाने का श्रेय कांग्रेस को जाता है लेकिन हमने वादा किया कि इसे शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएंगे और सुलझाया कि नहीं। इस पर भीड़ एक साथ हामी भरने लगी। कहा, पूरे देश ने एकता और भाईचारा का संदेश दिया है। 

आपका हिस्सा यहीं खर्च करेंगे

प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां से खनिज निकल रहा है तो इसमें से आपके हिस्से की राशि यहीं खर्च होगी। डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड में 5 हजार करोड़ रुपये जमा हो गए हैं। इससे पाइपलाइन से जलापूर्ति का बड़ा काम चल रहा है। 

2024 तक सभी को पानी का वादा

प्रधानमंत्री ने 2022 तक सभी को आवास सुनिश्चित करने का वादा करते हुए 2024 तक सभी को पानी देने का वादा भी किया। कहा, कांग्रेस ने विस्थापितों को तरसाया तो भाजपा की सरकार उनके लिए योजनाएं दे रही है। हमने जल शक्ति मंत्रालय के अधीन जल जीवन मिशन की शुरुआत की है। इससे देश के कई हिस्सों में जलसंकट को दूर किया जाएगा। 

कांग्रेस के कारण लोगों को नेताओं पर से विश्वास उठ गया था

मोदी ने कहा कि देश में कांग्रेस ने एक विचित्र माहौल बनाया जिसके अंदर घोषणाएं तो होती थीं लेकिन इसे धरातल पर उतारा नहीं जाता था। नतीजा यह हुआ कि लोगों को नेताओं पर से विश्वास उठ गया। घोषणाओं की परंपरा रही है कि वादे करो और भूल जाओ। उनके साथ झामुमो, राजद और बचे-खुचे वामपंथी भी यही करते हैं। भाजपा ने सिर्फ छह महीने में दिखाया कि संकल्प बड़े हों, मुश्किल हों तो भी पूरे होंगे। हम चैन की नींद भी नहीं लेते, अपनेआप को मिटाते रहते हैं। दूसरी ओर, कांग्रेस ने 30 साल तक झूठ बोलने के बाद अब गरीबी हटाओ बोलना बंद कर दिया है। 

तीन तलाक बिल से मुस्लिम भाइयों को भी मदद

प्रधानमंत्री ने तीन तलाक बिल को लेकर कहा कि इस कुप्रथा के कारण मुस्लिम महिलाएं नर्क का जीवन जीने को मजबूर हैं। हम इससे मुक्ति दिलाने के लिए कृत संकल्पित हैं। सख्त कानून बन चुका है और यह वोट बैंक की राजनीति नहीं है। इस कानून से मुस्लिम महिलाओं को ही नहीं, मुस्लिम भाइयों को भी मदद मिली है। आगे उन्होंने पूछा कि अगर किसी महिला को तलाक दे दिया जाता है तो उसके भाई और पिता को तकलीफ होती है कि नहीं। इस तकलीफ से उन्हें इसी कानून से राहत मिलेगी।

पीएम को महंगाई की फिक्र नहीं, वे दूसरी दुनिया में रहते हैं : राहुल गांधी

  • राजमहल में झामुमो प्रत्याशी के पक्ष में की जनसभा
  • नागरिकता संशोधन अधिनियम पर चुप रहे कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष
  • मोदी व अडाणी-अंबानी के इर्दगिर्द ही रहा उनका भाषण

राजमहल (साहिबगंज), डॉ. प्रणेश। Jharkhand Assembly Election 2019 कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने महंगाई की आड़ में केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। शुक्रवार को चरवाहा विद्यालय मैदान में उनकी जनसभा पुराने मुद्दों के इर्दगिर्द ही रही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उन्होंने लगातार तंज कसा। इतना तक कहा कि उन्हें महंगाई की फिक्र नहीं है और वे दूसरी दुनिया में रहते हैैं। उन्होंने कांग्रेस के चुनावी वादे दोहराते हुए कहा कि झारखंड में गठबंधन की सरकार बनी तो दो से तीन दिन में किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। भूमि अधिग्रहण कानून सख्ती से लागू होगा। नरेंद्र मोदी की सरकार ने गरीबों का पैसा लेकर 10-15 उद्योगपतियों को दे दिया, इस वजह से देश में आर्थिक मंदी की स्थिति है।

सभा में लोगों को उम्मीद थी कि राहुल गांधी नागरिकता संशोधन विधेयक पर कुछ बोलेंगे क्योंकि यह इलाका घुसपैठ प्रभावित है। स्थानीय वक्ताओं ने तो इस पर चर्चा की, लेकिन राहुल ने इसे छुआ तक नहीं। अपना संबोधन महंगाई व भूमि अधिग्रहण बिल के इर्दगिर्द ही रखा। जब वे बोले कि देश में महंगाई बढ़ रही है, तब खूब तालियां बजी। फिर बोले, नोटबंदी के नाम पर गरीबों, किसानों, महिलाओं से पैसा निकलवाकर अडाणी-अंबानी को दे दिया। गरीबों के पास पैसा न होने से वे कुछ खरीद नहीं पा रहे, इससे फैक्ट्रियों में उत्पादन बंद हो गया। कांग्रेस सरकार भूमि अधिग्रहण बिल लाई तो भाजपा ने विरोध किया था। यह बिल किसानों के हित में है।

राहुल ने कहा कि पहले गरीबों की जमीन छीन ली जाती थी। नए भूमि अधिग्रहण कानून में गरीबों से पूछे बिना उनकी जमीन नहीं ली जा सकती है। जमीन लेने पर बाजार दर का चार गुना भुगतान करना होगा। जिस राज्य में कांग्रेस की सरकार है वहां यह कानून सख्ती से लागू है। इसमें यह भी प्रावधान है कि पांच साल तक जमीन का उपयोग न होने पर मालिक को वापस कर दी जाएगी। छत्तीसगढ़ में पहली बार किसानों की जमीन वापस की गई है।

राहुल गांधी ने उपस्थित लोगों से पूछा कि यहां धान की कीमत क्या है? किसी ने 1200 तो किसी ने 1500 कहा। तब वे बोले, छत्तीसगढ़ में धान की कीमत 2500 रुपया प्रति क्विंटल है। वहां 2500 रुपया प्रति क्विंटल धान बिक सकता है तो यहां क्यों नहीं? उनके भाषण में भावुकता का भी पुट दिखा। कहा, झारखंड के लोग गरीब हैं झारखंड नहीं। गठबंधन की सरकार बनी तो आपके हाथ में पैसा आना शुरू हो जाएगा। आप माल खरीदना शुरू कर देंगे। यहां की भी अर्थव्यवस्था छत्तीसगढ़ जैसी हो जाएगी। अपील की कि 10-15 उद्योगपतियों की सरकार हटाएं और गरीबों की सरकार बनाएं। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस