रांची, जासं। Jharkhand Assembly Election 2019 - कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन 15 नवंबर को तमाड़ विधानसभा से अपना नामांकन दाखिल करेगा। कुंदन की ओर से दाखिल आवेदन पर विचार करते हुए सोमवार को एनआइए कोर्ट ने चुनाव लडऩे की इजाजत दे दी। विशेष जज नवनीत कुमार की अदालत ने हजारीबाग ओपन जेल प्रशासन को नामांकन प्रक्रिया सुनिश्चत करने का आदेश दिया है। नामांकन के दिन कुंदन पाहन को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बुंडु सबडिवीजन ऑफिस ले जाया जाएगा।

अदालत ने बुंडु सबडिवीजन प्रशासन से विशेष एहतियात बरतने का आदेश दिया है। अब जब कुंदन पाहन को चुनाव लडऩे की अनुमति मिल गई है, तो उनकी ओर से शीघ्र पर्चा खरीदा जाएगा। उससे जुड़े लोगों की मानें तो कुंदन पाहन किसी पार्टी से ही मैदान में उतरेगा। इसके लिए दो-तीन पार्टियों के साथ बातचीत चल रही है। संभावना जताई जा रही है कि मंगलवार को इसका खुलासा हो जाएगा। बता दें कि कुंदन पाहन तमाड़ के पूर्व विधायक रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड का मुख्य आरोपित है।

15 लाख के इनामी इस नक्सली ने 14 मई 2017 को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था। वर्तमान में वह हजारीबाग ओपन जेल में बंद है। इससे पूर्व छह नवंबर को एनआइए की अदालत ने गोपाल कृष्ण पातर ऊर्फ राजा पीटर को चुनाव लडऩे की अनुमति दी है। राजा पीटर भी तमाड़ विधानसभा से ही चुनाव लड़ेंगे। अदालत ने इनके नामांकन के लिए 12 नवंबर की तिथि निर्धारित की है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस