रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Election Result 2019 झारखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा समेत सभी दलों को पछाड़ते हुए 30 सीटों पर काबिज होने वाले झारखंड मुक्ति मोर्चा ने कई मोर्चे पर विरोधियों को चौंकाया है। खुद को शहर की पार्टी कहने वाली भाजपा ने भी उसके समक्ष घुटने टेके हैैं। ऐसी कई सीटें हैं, जिसपर बड़े अंतर से झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के प्रत्याशियों ने जहां जीत का परचम लहराया, वहीं राजधानी रांची में भी भाजपा प्रत्याशी को झामुमो के उम्मीदवार से जीत के लिए मशक्कत करनी पड़ी। इस लिहाज से झामुमो के लिए यह परिणाम सुखद है कि उसका विस्तार नए क्षेत्रों में हुआ है। उसके अभेद्य दुर्ग और मजबूत हुए हैैं। झामुमो में तेजी से दूसरी पंक्ति का नेतृत्व तैयार हो रहा है। इसकी एक वजह चुनाव में नए चेहरों पर भरोसा जताना है। टीम झामुमो ने ऐसे कई प्रयोग किए, जो आने वाले दिनों में संगठन के अधिकाधिक विस्तार में मददगार होंगे। पार्टी के रणनीतिकार इस मुहिम को आगे बढ़ाएंगे। जिन सीटों पर हार-जीत का अंतर कम रहा, वहां इसकी सूक्ष्म समीक्षा की प्रक्रिया शुरू होगी, वहीं सीटिंग सीटों पर हार की भी विवेचना पार्टी करेगी।

इन क्षेत्रों में एंट्री

  • गिरिडीह सीट पर झामुमो ने भाजपा को मात देने में कामयाबी पाई। सुदिव्य कुमार सोनू इस सीट पर भाजपा के निर्भय शाहाबादी को हराने में कामयाब रहे।
  • उप राजधानी दुमका में झामुमो प्रत्याशी हेमंत सोरेन ने मंत्री डॉ. लुइस मरांडी को हराकर सीट वापस छीनी। 
  • गुमला में भूषण तिर्की ने भाजपा प्रत्याशी मिसिर कुजूर को हराया। इससे सटे सिसई में विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव झामुमो प्रत्याशी जिग्गा सुसारण होरो के समक्ष हारे।
  • रांची में झामुमो की महुआ माजी ने भी इस बार अच्छा प्रदर्शन किया और लंबे समय से इस सीट पर काबिज भाजपा के दिग्गज नेता सीपी सिंह को कड़ी टक्कर दी।
  • खूंटी में पार्टी प्रत्याशी सुशील पाहन ने नीलकंठ सिंह मुंडा को कड़ी टक्कर दी।
  • गोमिया और सिल्ली सीट गंवानी पड़ी।

     

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस