Jharkhand Election Exit Polls 2019 पहला चरण : दोनों ओर बराबर जाती दिख रहीं सीटें

रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड में पहले चरण के मतदान में कांटे का संघर्ष कई विधानसभा क्षेत्रों में देखने को मिला। विधानसभावार अगर मुकाबलों को करीब से देखें तो चतरा विधानसभा क्षेत्र में राजद के उम्मीदवार सत्यानंद भोक्ता और भाजपा प्रत्याशी जनार्दन पासवान के बीच कड़ी टक्कर है। इसमें सत्यानंद भोक्ता का पलड़ा भारी है। लातेहार विधानसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार प्रकाश राम और झामुमो प्रत्याशी वैद्यनाथ राम मुकाबले में हैैं। जीत-हार का अंतर यहां काफी कम होने की संभावना है। फिलहाल दौड़ में भाजपा प्रत्याशी प्रकाश राम ज्यादा मजबूत दिख रहे हैं।

मनिका विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार रामचंद्र सिंह और भाजपा उम्मीदवार रघुपाल सिंह के बीच सीधा मुकाबला है। कांग्रेस प्रत्याशी रामचंद्र सिंह यहां आगे नजर आ रहे हैैं। लोहरदगा विधानसभा में त्रिकोणीय मुकाबले में भाजपा उम्मीदवार सुखदेव भगत और कांग्रेस प्रत्याशी रामेश्वर उरांव फंसे हैैं। आजसू की उम्मीदवार नीरू शांति भगत त्रिकोण बना रही हैं। फिलहाल कांग्रेस उम्मीदवार रामेश्वर उरांव बढ़त बनाते दिख रहे हैैं।

भवनाथपुर में भाजपा के भानु प्रताप शाही, निर्दलीय अनंत प्रताप देव और बसपा की सोगरा बीवी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। मुख्य संघर्ष भाजपा और बसपा के बीच है। गढ़वा से झामुमो के मिथिलेश ठाकुर और भाजपा के सतेंद्र नाथ तिवारी के बीच सीधा मुकाबला है। झामुमो प्रत्याशी मिथिलेश ठाकुर यहां आगे दिख रहे हैैं। पांकी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर है। इसमें भाजपा प्रत्याशी को बढ़त दिख रही है।

डालटनगंज विधानसभा क्षेत्र में भाजपा और कांग्रेस के बीच संघर्ष है। यहां कांटे की टक्कर है और काफी कम मतों के अंतर से जीत-हार तय होगा। छत्तरपुर सुरक्षित सीट से भाजपा व राजद के बीच मुख्य मुकाबला है। यहां भाजपा प्रत्याशी का पलड़ा भारी दिख रहा है। हुसैनाबाद में एनसीपी आगे बढ़ती दिख रही है। यहां बसपा और राजद के प्रत्याशी उनके मुकाबले में हैैं।

विश्रामपुर में भाजपा प्रत्याशी रामचंद्र चंद्रवंशी की प्रतिष्ठा फंसी है। वे रघुवर सरकार में मंत्री हैैं। यहां उनके मुकाबले में कांग्रेस के चंद्रशेखर दुबे उर्फ ददई दुबे आगे चल रहे हैैं। गुमला में भाजपा प्रत्याशी मिसिर कुजूर झामुमो के भूषण तिर्की पर बढ़त बनाते दिख रहे हैैं। बिशुनपुर में झामुमो प्रत्याशी चमरा लिंडा भाजपा के उम्मीदवार अशोक उरांव पर भारी पड़ते नजर आ रहे हैं। 

पहले चरण की सीटें : 13 विधानसभा सीट

चतरा (एससी), गुमला (एसटी), बिशुनपुर (एसटी), लोहरदगा (एसटी), मनिका (एसटी), लातेहार (एसटी), पांकी, डालटगनंज, विश्रामपुर, छतरपुर (एससी), हुसैनाबाद, गढ़वा और भवनाथपुर। 

बड़े चेहरे

  • रामचंद्र चंद्रवंशी
  • सुखदेव भगत
  • रामेश्वर उरांव
  • चंद्रशेखर दुबे उर्फ ददई दुबे

दूसरा चरण : मुश्किल में घिरे हैं बड़े-बड़े सूरमा

दूसरे चरण की 20 सीटों पर दिग्गजों की भिड़ंत रोचक रही। सबकी निगाहें जमशेदपुर पूर्वी सीट पर रही। यहां मुख्यमंत्री रघुवर दास और उनके कैबिनेट के मंत्री रहे सरयू राय के बीच कड़ा मुकाबला हुआ है। जमशेदपुर पश्चिम सीट पर भाजपा के देवेंद्र सिंह और कांग्रेस के बन्ना गुप्ता के बीच कड़ी टक्कर है। इसमें कांग्रेस प्रत्याशी को बढ़त मिलती दिख रही है। ओडि़शा से सटे बहरागोड़ा विधानसभा सीट पर भाजपा के कुणाल षाडंगी और झामुमो के समीर महंथी मुकाबले में आमने-सामने हैैं। दोनों प्रत्याशियों में कड़ा संघर्ष है। जीत का अंतर काफी कम होगा। पोटका में मुकाबला भाजपा की मेनका सरदार और झामुमो के संजीव सरदार के बीच है। यहां झामुमो प्रत्याशी बढ़त लेते दिख रहे हैैं।

जुगसलाई सीट पर आजसू के रामचंद्र सहिस और झामुमो के मंगल कालिंदी आमने-सामने हैैं। सीधे संघर्ष में मंगल कालिंदी आगे हैैं। हालांकि भाजपा के प्रत्याशी मुचीराम बाउरी इस संघर्ष को त्रिकोणीय बनाने का भरसक प्रयास कर रहे हैैं। मझगांव विधानसभा सीट पर मुकाबला झामुमो के निरल पूर्ति और भाजपा के भूषण पाट पिंगुवा के बीच है। निरल पूर्ति मुकाबले में बढ़त लेते दिख रहे हैैं।

चाईबासा में झामुमो के दीपक बिरूआ और भाजपा के ज्योति भ्रमर तुबिद के बीच कड़ी टक्कर में दीपक बिरूआ को बढ़त प्रतीत हो रही है। खरसावां में मुकाबला झामुमो के दशरथ गगराई और भाजपा के जवाहर वानरा के बीच है। झामुमो यहां मुकाबले में आगे दिख रही है। जगन्नाथपुर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के सोनाराम सिंकू और झाविमो के मंगल सिंह बोबोंगा के बीच मुकाबला है। कांग्रेस प्रत्याशी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी पर बढ़त बनाने की भरसक कोशिश की है।

मनोहरपुर विधानसभा क्षेत्र में झामुमो की जोबा मांझी और भाजपा के बीच कांटे का संघर्ष है। तोरपा में त्रिकोणीय मुकाबले में भाजपा ने बढ़त बनाई है। यहां भाजपा के कोचे मुंडा, झापा समर्थित निर्दलीय पौलुस सुरीन और झामुमो के सुदीप गुडिय़ा के बीच टक्कर है। मांडर विधानसभा सीट पर भाजपा और झाविमो के बीच सीधी टक्कर है। यहां भाजपा प्रत्याशी देवकुमार धान और झाविमो प्रत्याशी बंधु तिर्की के बीच मतदाताओं के वोट बंटे हैं। कोलेबिरा में कांग्रेस के नमन विकसल कोनगाड़ी और झापा की आइरिन एक्का के बीच सीधी टक्कर है। सिमडेगा में भाजपा प्रत्याशी श्रद्धानंद बेसरा और कांग्रेस के भूषण बाड़ा के बीच मुकाबले में भाजपा को बढ़त मिलती प्रतीत हो रही है। 

बड़े चेहरे

  • मुख्यमंत्री रघुवर दास
  • पूर्वमंत्री सरयू राय
  • मंत्री रामचंद्र सहिस
  • पूर्व आइएएस अधिकारी जेबी तुबिद

दूसरा चरण : 20 विधानसभा सीटें

बहरागोड़ा, घाटशिला (एसटी), पोटका (एसटी), जुगसलाई (एससी), जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, सरायकेला (एसटी), चाईबासा (एसटी), मझगांव (एसटी), जगन्नाथपुर (एसटी), मनोहरपुर (एसटी), चक्रधरपुर (एसटी), खरसावां (एसटी), तमाड़ (एसटी), तोरपा (एसटी), खूंटी (एसटी), मांडर (एसटी), सिसई (एसटी), सिमडेगा (एसटी), कोलेबिरा (एसटी)। 

तीसरा चरण : उलझन बड़ी, कहीं विपक्ष अड़ा तो कहीं सत्ता खड़ी

इस चरण में भाजपा ने जहां अपनी मजबूत स्थिति दर्ज कराई वहीं, यूपीए को भी कम नहीं आंका जा गया। रांची में रूझानों में स्पष्ट तस्वीर उभर कर सामने नहीं आई है। भाजपा के सीपी सिंह और झामुमो की महुआ मांझी के बीच कांटे का मुकाबला हुआ है। परिणाम किसी के पक्ष में भी जा सकता है। सिल्ली तीसरे चरण की सबसे हॉट सीटों में शुमार की जा रही है। वजह आजसू प्रमुख सुदेश महतो हैं। इस बार भी यहां आजसू के सुदेश महतो और झामुमो की सीमा देवी के बीच कांटे का मुकाबला हुआ है।

खिजरी में भाजपा के राम कुमार पाहन और यूपीए के राजेश कच्छप के बीच कड़ा मुकाबला हुआ है। भाजपा की स्थिति यहां अपेक्षाकृत ठीक बताई जा रही है। कांके की स्थिति भी कुछ जुदा नहीं है। यहां भाजपा के समरीलाल व कांग्रेस के सुरेश बैठा में कौन किसी पर भारी पड़ा यह कहना मुश्किल है। रुझानों में भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में अधिक तर्क दिए जा रहे हैं। सर्वाधिक चर्चित सीटों में शुमार हटिया में भाजपा के नवीन जायसवाल और कांग्रेस के अजय नाथ शाहदेव में कौन किस पर भारी पड़ा यह बताने की स्थिति में कोई नहीं है।

हजारीबाग में भाजपा प्रत्याशी मनीष जायसवाल अपने प्रतिद्वंदियों से आगे दिखते नजर आए हैं। बरही सीट पर भाजपा के मनोज यादव और कांग्रेस उमाशंकर अकेला के बीच कांटे की टक्कर हुई है। रुझान मनोज यादव के पक्ष कुछ बेहतर दिख रहा है। मांडू में कई कोण बताए गए। लेकिन मुख्य मुकाबला भाजपा के जेपी पटेल और झामुमो के रामप्रकाश भाई पटेल के बीच रहा। रुझानों की मानें तो रामप्रकाश भाई पटेल का पलड़ा कुछ भारी है।

बरका सीट पर भाजपा के जानकी प्रसाद यादव और निर्दलीय अमित कुमार यादव में कौन किसी पर भारी पड़ा यह कहना मुश्किल है। रामगढ़ विधानसभा में आजसू  उम्मीदवार सुनीता चौधरी व कांग्रेस उम्मीदवार ममता देवी की भी कुछ ऐसी ही स्थिति है। बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार अम्बा प्रसाद व आजसू उम्मीदवार रोशन लाल चौधरी किसका पलड़ा भारी रहा रुझानों से इसके स्पष्ट संकेत नहीं मिले।

कोडरमा विधानसभा में भाजपा की नीरा यादव और राजद के अमिताभ कुमार कांटे की टक्कर हुई। यहां आजसू उम्मीदवार शालिनी गुप्ता को भी कम नहीं आंका जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की प्रतिष्ठा धनवार सीट से जुड़ी है। यहां माले के राजकुमार यादव और भाजपा के लक्ष्मण प्रसाद सिंह के बीच त्रिकोणीय मुकाबला हुआ है। यहां बाबूलाल को जनता से सहानुभूति की उम्मीदें हैं।

सिमरिया में भाजपा के किशुन कुमार दास और आजसू के मनोज चंद्रा में सीधा मुकाबला हुआ है। रूझानों में यहां भाजपा का पलड़ा कुछ भारी बताया गया है। गोमिया में झामुमो की बबीता देवी और आजसू के लंबोदर महतो में कौन किस पर भारी पड़ेगा इसे लेकर फिलहाल किसी नतीजे पर पहुंचना कठिन है। बेरमो में कांग्रेस के राजेंद्र प्रसाद सिंह और योगेश्वर महतो के बीच हुए मुकाबले की स्थिति कुछ ऐसी ही रही है। ईचागढ़ में झामुमो की सविता महतो, भाजपा के साधु चरण महतो और निर्दलीय अरविंद सिंह में से किसके हाथ बाजी लगेगी यह कहना मुश्किल है।

ये हैं दिग्गज

  1. सीपी सिंह
  2. नीरा यादव
  3. बाबूलाल मरांडी
  4. सुदेश महतो

तीसरा चरण : विधानसभा सीटें 17

कोडरमा, बरका, बरही, बड़कागांव, रामगढ़, मांडू, हजारीबाग, सिमरिया (एससी), धनवार, गोमिया, बेरमो, ईचागढ़, सिल्ली, खिजरी (एसटी), रांची, हटिया, कांके (एससी)।

चौथा चरण : भाजपा के लिए आसान नहीं रिकॉर्ड बचाना

चौथे चरण की 15 सीटों में से भाजपा के पास 11 जीती हुई सीटें थीं जबकि एक विधायक दूसरे दल से आकर भाजपा में शामिल हो गए थे। इस प्रकार 12 सीटों के साथ भाजपा के लिए यह चरण अपने अंगने की तरह दिख रहा था। जिधर जाइए, उधर भाजपा का इलाका उसी के विधायक। इस चरण में जीती हुई सीटों का रिकॉर्ड बचाना भाजपा के लिए आसान नहीं लग रहा है। कई सीटों पर पार्टी कड़े मुकाबले में फंसी है जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि वर्तमान में 12 सीटों का रिकॉर्ड भाजपा बरकरार रखने में पूरी तरह सफल नहीं होगी। एक बात से फिलहाल इन्कार नहीं किया जा सकता है के भाजपा को इस चरण में बढ़त मिल पाएगी।

धनबाद में भाजपा विधायक राज सिन्हा और पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक के बीच कड़ा मुकाबला है। डुमरी में झामुमो के जगरनाथ महतो का मुकाबला आजसू के यशोदा देवी से है। यहां दूसरे प्रत्याशी पीछे दिख रहे हैं। बोकारो में भाजपा उम्मीदवार बिरंची नारायण का मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार श्वेता सिंह से है। इसमें कहीं न कहीं बिरंची आगे दिख रहे हैं। टुंडी में झामुमो के पूर्व विधायक और मंत्री रह चुके मथुरा महतो मजबूत स्थिति में हैं। उनके मुकाबले विधायक राजकिशोर महतो आजसू से किस्मत आजमा रहे हैं।

बगोदर में भाजपा के नागेंद्र महतो और माले प्रत्याशी विनोद सिंह के बीच कांटे की टक्कर है। सिंदरी में मासस प्रत्याशी आनंद महतो का मुकाबला भाजपा प्रत्याशी से है। देवघर में भाजपा और राजद उम्मीदवार के बीच कांटे की टक्कर है। गिरिडीह में भाजपा विधायक निर्भय शाहाबादी का मुकाबला झामुमो के सुदिव्य कुमार सोनू से है। सोनू का पलड़ा भारी दिख रहा है। गांडेय में झामुमो के सरफराज अहमद कई इलाकों में भाजपा के जयप्रकाश वर्मा को कड़ा मुकाबला देते दिख रहे हैं।

निरसा में मासस विधायक अरूप चटर्जी का मुकाबला भाजपा उम्मीदवार अपर्णा सेनगुप्ता से है। जमुआ में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है। यहां कई इलाकों में कांग्रेस का पलड़ा भी भारी दिख रहा है जबकि भाजपा के लिए पूरा इलाका मजबूत है। इस प्रकार कुल मिलाकर भाजपा का आगंन कहीं न कहीं पहले से कमजोर होता दिख रहा है।

महत्वपूर्ण सीटें

  1. धनबाद
  2. बोकारो
  3. झरिया
  4. गांडेय
  5. बाघमारा
  6. देवघर
  7. चंदनक्यारी

चौथा चरण : 15 सीटें

मधुपुर, देवघर (एससी), बगोदर, जमुआ (एससी), गांडेय, गिरिडीह, डुमरी, बोकारो, चंदनक्यारी (एससी), सिंदरी, निरसा, धनबाद, झरिया, टुंडी, बाघमारा।

पांचवां चरण : झामुमो-कांग्रेस एक-दो सीटों से आगे

अंतिम चरण की 16 सीटों पर चुनाव का परिणाम सत्ता के लिए निर्णायक मुकाबला साबित हो सकता है। एक बार फिर इस चरण में झामुमो और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला है जिसमें किसे बढ़त मिलेगी अभी कहना मुश्किल है। वर्तमान में भाजपा और झामुमो के पास छह-छह विधायक हैं लेकिन कांग्रेस को मिलाकर झामुमो इस क्षेत्र में मजबूत होता दिख रहा है। इस चरण में जिन सीटों पर रोचक मुकाबला होने का अनुमान लगाया जा रहा है उनमें दुमका, गोड्डा, पाकुड़, सारठ और बरहेट हैं। दुमका में यूपीए की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार हेमंत सोरेन का मुकाबला वर्तमान में मंत्री लुइस मरांडी से है। कुछ क्षेत्रों में सोरेन तो कुछ में लुइस की पकड़ मजबूत दिखी। यहां कड़े मुकाबले में यह कहना मुश्किल साबित हो रहा है कि कौन जीतेगा लेकिन कुछ ना कुछ पलड़ा भारी सोरेन का ही है। उनके समर्थकों ने उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर प्रोजेक्ट किया और यहीं से हेमंत का पलड़ा भारी होने लगा। बरहेट से भी हेमंत आगे दिख रहे हैं। गोड्डा और सारठ में भाजपा उम्मीदवार का पलड़ा भारी दिख रहा है और इसके बावजूद मुकाबला कड़ा है। परिणाम किसी के भी पक्ष में जा सकता है।

इस चरण में बोरियो, लिट्टीपाड़ा, शिकारीपाड़ा और नाला में भी झामुमो के उम्मीदवार कड़े मुकाबले में बढ़त लेते दिख रहे हैं जबकि राजमहल, गोड्डा, महेशपुर, जामा, महगामा आदि सीटों पर भाजपा उम्मीदवार मजबूत दिख रहे हैं। पोड़ैयाहाट से एक बार फिर झाविमो विधायक प्रदीप यादव का पलड़ा भारी माना जा रहा है। दूसरी ओर, जरमुंडी में कांग्रेस और भाजपा उम्मीदवार के बीच कड़ा मुकाबला है।

अंतिम चरण की 16 सीटों को देखें तो एक बार फिर भाजपा और झामुमो में अधिक अंतर नहीं है लेकिन झामुमो को कांग्रेस के सहयोग से बढ़त मिलती दिख रही है। ऐसे भी संताल परगना का यह क्षेत्र झामुमो का गढ़ माना जाता रहा है। इसके बावजूद भाजपा ने इनके गढ़ में सेंधमारी करने में सफलता पाई है। इस इलाके में कांग्रेस भी अपनी खिसकती जमीन को बचाने में कुछ हद तक सफल होती दिख रही है। इस चरण में कांग्रेस के उम्मीदवार चार सीटों पर किस्मत आजमा रहे हैं और दो पर कांग्रेस को साफ बढ़त मिलती दिख रही है तो दो पर कड़े मुकाबले में है। पाकुड़ और जामताड़ा में कांग्रेस को बढ़त मिलती दिख रही है जबकि महगामा और जरमुंडी में कांग्रेस ने भाजपा को कड़ी टक्कर दी है।

ये दिग्गज हैं इस चरण में

  1. हेमंत सोरेन
  2. लुईस मरांडी
  3. रणधीर सिंह
  4. प्रदीप यादव
  5. आलमगीर आलम

पांचवां चरण : विधानसभा सीटें 16

राजमहल, बोरियो (एसटी), बरहेट (एसटी), लिट्टीपाड़ा (एसटी), पाकुड़, महेशपुर (एसटी), शिकारीपाड़ा (एसटी), नाला, जामताड़ा, दुमका (एसटी), जामा (एसटी), जरमुंडी, सारठ, पोड़ैयाहाट, गोड्डा, महागामा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021