रांची, जासं। Jharkhand Assembly Election 2019 - एनआइए की विशेष अदालत ने बुधवार को जेल में बंद पूर्व मंत्री गोपाल कृष्ण पातर उर्फ राजा पीटर को विधानसभा चुनाव लडऩे की सशर्त अनुमति दे दी है। राजा पीटर की ओर से दाखिल आवेदन पर सुनवाई करते हुए विशेष जज नवनीत कुमार की अदालत ने नामांकन के लिए 12 नवंबर की तिथि तय की है। राजा पीटर तमाड़ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।

वे निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे या किसी पार्टी से यह स्पष्ट नहीं हुआ है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की विशेष अदालत ने जेल प्रशासनसे राजा पीटर के नामांकन की व्यवस्था सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। पुलिस अभिरक्षा में राजा पीटर बुंडू अनुमंडल में नामांकन दाखिल करेंगे। नामांकन के दौरान पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने का भी आदेश दिया गया है।

गड़बड़ी नहीं करने की शर्त पर मिली इजाजत

अदालत ने राजा पीटर को चुनाव में किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं करने की शर्त पर चुनाव लडऩे की इजाजत दी है। राजा पीटर की ओर से अदालत को आश्वस्त किया गया कि चुनाव में किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं की जाएगी। एफिडेविट भी जमा किया गया है।

रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड में चार्जशीटेड हैं पीटर

तमाड़ के तत्कालीन विधायक रमेश सिंह मुंडा की नौ जुलाई 2008 को गोली से भून कर हत्या कर दी गई थी। राजा पीटर पर एनआइए ने अप्रैल 2018 में चार्जशीट दाखिल किया था। इसके साथ कुंदन पाहन सहित 15 नक्सलियों, उनके सहयोगियों पर भी चार्जशीट दाखिल की गई थी।

राजा पीटर पर तत्कालीन विधायक रमेश सिंह मुंडा की हत्या कराने का आरोप है। इसके लिए पांच करोड़ रुपये की सुपारी की बात भी एनआइए की चार्जशीट में आ चुकी है। राजा पीटर पिछले दो साल से जेल में बंद है। उन्होंने मंगलवार को एनआइए कोर्ट से चुनाव लडऩे की अनुमति मांगी थी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस