रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड कांग्रेस में एक बार फिर किचकिच शुरू हो गई है। नए प्रदेश अध्‍यक्ष की तैनाती के बाद अब तक बागी नेताओं का दबा हुआ आक्रोश एकबारगी फूट पड़ा है। कांग्रेस के भितरखाने कलह कम होता नहीं दिख रहा है। लोहरदगा के विधायक सुखदेव भगत ने दावा किया है कि कांग्र्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा के लिए काम कर रहे थे।

सुखदेव भगत ने कहा है कि इसका पुख्ता प्रमाण उनके पास है। इस बाबत उन्होंने एक आडियो टेप का भी हवाला दिया। गौरतलब है कि सुखदेव भगत लोकसभा चुनाव के दौरान लोहरदगा से कांग्र्रेस के प्रत्याशी थे और कम मतों के अंतर से चुनाव हार गए थे। कांग्र्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे सुखदेव भगत का कहना है कि रामेश्वर उरांव एक साजिश के तहत उनके बारे में भ्रम फैला रहे हैं कि वे भाजपा में जा रहे हैं ताकि उनकी राजनीतिक साख समाप्त हो जाए।

सुखदेव के इस आरोप से कांग्र्रेस में विवाद बढऩे की संभावना है। सुखदेव ने यह भी कहा कि उन्होंने और पूर्व प्रदेश कांग्र्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार ने रामेश्वर उरांव के बारे में विस्तृत रिपोर्ट आलाकमान को सौंपी थी। अब रामेश्वर उरांव इसी का प्रतिशोध ले रहे हैं। उन्होंने प्रदेश कांग्र्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह को भी पूरे वाकये की जानकारी दे दी है। उधर प्रदेश कांग्र्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने इन आरोपों को सिरे से नकार दिया है। उनका कहना है कि उनके पास लोकसभा चुनाव के दौरान चतरा, खूंटी और हजारीबाग की जिम्मेदारी थी। सुखदेव भगत का आरोप बेबुनियाद है।  

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप