रायुपर, जेएनएन। Jharkhand Assembly Election 2019 झारखंड विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के साढ़े आठ हजार जवान मोर्चा संभालेंगे। नक्सल प्रभावित झारखंड में चुनावी मोर्चे पर गुरिल्ला वार में प्रशिक्षित छत्तीसगढ़ के जवानों को उतारा जा रहा है। डीजीपी डीएम अवस्थी ने बताया कि आठ बटालियन झारखंड के लिए रवाना होंगी। यह बटालियन 22 नवंबर तक मोर्चे पर पहुंच जाएंगी।

पुलिस मुख्यालय के आलाधिकारियों ने बताया कि डिस्ट्रिक रिजर्व गार्ड के आरएस नायक को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। वहीं, कमांडेंट डीआर आंचला, डिप्टी कमांडेंट सूरजन राम भगत, प्रकाश टोप्पो और असिस्टेंट कमांडेंट विजय कुमार तिर्की, मोहन लाल टंडन, कुलदीप भगत और राजेंद्र सिंह के नेतृृत्व में जवान झारखंड रवाना होंगे।

झारखंड में बस्तर, बीजापुर, कांकेर और कवर्धा के नक्सल प्रभावित क्षेत्र से बटालियन को भेजा रहा है। इसमें कांकेर की चौथी बटालियन, जगदलपुर की नौवीं बटालियन, बीजापुर की 13वीं बटालियन, कवर्धा की 17वीं बटालियन के करीब चार हजार जवान हैं। इसके साथ ही डीआरजी मुख्यालय की चौथी बटालियन, 10वीं बटालियन रायगढ़, 12वीं बटालियन कोरिया, 13वीं बटालियन कोरबा के जवान भी भेजे जाएंगे। अधिकारियों ने बताया कि ये जवान जंगलों की परिस्थितियों के आधार पर प्रशिक्षित हैं। झारखंड और छत्तीसगढ़ की परिस्थितियां एक जैसी हैं। ऐसे में जवानों की चुनौतियां ज्यादा हैं।

चुनाव में सीआरपीएफ है सुरक्षा की नोडल एजेंसी

झारखंड में सीआरपीएफ को सुरक्षा का नोडल एजेंसी बनाया गया है। छत्तीसगढ़ के जवान आइजी सीआरपीएफ के साथ समन्वय बनाकर मोर्चा संभालेंगे। छत्तीसगढ़ से सीआरपीएफ के जवान भी चुनाव के लिए रवाना हो रहे हैं। सीआरपीएफ झारखंड के आइजी सतीश लाटकर को अन्य प्रदेशों से आने वाली फोर्स के लिए को-ऑर्डिनेशन का जिम्मा सौंपा गया है।

किस बटालियन से कितने जवान

  1. चौथी बटालियन कांकेर -1067
  2. 9वीं बटालियन जगदलपुर-1068
  3. 13वीं बटालियन बीजापुर-1071
  4. 17वीं बटालियन कवर्धा -1073
  5. चौथी बटालियन, डीआरजी मुख्यालय- 1066
  6. 10वीं बटालियन रायगढ़-1069
  7. 12वीं बटालियन कोरिया-1070
  8. 13वीं बटालियन कोरबा-1072

     

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप